Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Moradabad ›   Teni will be dismissed if found involved in Lakhimpur case: Gopal Krishna

लखीमपुर प्रकरण में संलिप्त पाए गए टेनी तो होगी बर्खास्तगी - गोपाल कृष्ण

Moradabad  Bureau मुरादाबाद ब्यूरो
Updated Fri, 08 Oct 2021 03:18 AM IST
Teni will be dismissed if found involved in Lakhimpur case: Gopal Krishna
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मुरादाबाद। लखीमपुर में हुई हिंसा के मुद्दे पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि यदि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी हिंसा में संलिप्त पाए गए तो बर्खास्तगी तय है। उन्होंने इस प्रकरण के संदर्भ में दर्ज हुए मुकदमे का भी जिक्र किया। साथ ही कहा कि विपक्ष को किसानों की संवेदनाओं से जुड़े इस विषय पर राजनीति करने से बचना चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता 2022 की चुनावी रणनीति के तहत सेवा और समर्पण कार्यक्रम के बाद रामपुर के शाहबाद से लौटते समय गुरुवार को मुरादाबाद के एक होटल में कुछ देर ठहरे थे। लखीमपुर प्रकरण पर विपक्षी पार्टियों और किसान नेताओं द्वारा लगातार केंद्रीय गृह राज्य मंत्री की बर्खास्तगी और बेटे सहित गिरफ्तारी की मांग से जुड़े मीडिया के सवालों पर उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस घटना का स्वत: संज्ञान लिया है। जो दोषी पाए जाएंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई निश्चित होगी, लेकिन विपक्ष को इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए।

गोरखपुर में व्यापारी के साथ पुलिस की मारपीट के बाद मौत और लखीमपुर प्रकरण में पुलिस की कार्यशैली को लेकर उन्होंने कहा कि पुलिस को संवेदनशील होना चाहिए। गोरखपुर मामले में पुलिस की इस प्रकार की भूमिका निंदनीय है।
वहीं, प्रवक्ता के मुरादाबाद पहुंचने पर भाजपा के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह चौहान, बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष डॉ. विशेष गुप्ता समेत तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने होटल में पहुंचकर उनका स्वागत किया।
पेट्रोल को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए केंद्र तैयार
मुरादाबाद। पेट्रोल और घरेलू गैस सिलिंडर के बढ़ते दामों पर राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण ने कहा कि पेट्रोल को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए केंद्र सरकार तैयार है। राज्य सरकारों से इस विषय पर चर्चा की जा रही है। कई प्रदेशों की सरकारें इस विषय पर फिलहाल तैयार नहीं हैं। ज्ञात हो कि पेट्रोल और डीजल पर शिपिंग चार्ज, एजेंट का मुनाफे की तुलना में राज्य और केंद्र सरकार द्वारा लिया जाने वाला कर काफी अधिक है। इंडियन ऑयल कारपोरेशन की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक वर्तमान में पेट्रोल का बेस प्राइस 41 रुपये प्रति लीटर है। इस पर एक्ससाइज ड्यूटी 32.90 रुपये है। जोकि केंद्र सरकार के खाते में जाता है। वहीं, राज्य सरकार द्वारा लगाया गया वैट 23.43 रुपये है। मंहगाई पर सरकार की मजबूरियों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को जनकल्याण कारी योजनाओं के लिए आर्थिक संसाधनों की आवश्यक्ता होती है। ऐसे में कई बार दाम बढ़ जाते हैं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल के स्थान पर वैकल्पिक ईंधन जैसे हाईड्रोजन और एथनॉल मिक्स पेट्रोल के लिए भी सरकार काम कर रही है।
घर-घर जाकर बताएं सरकार की योजनाएं
मुरादाबाद। कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने कहा कि लोगों को घर-घर जाकर सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के विषय में बताएं। राशन वितरण के दौरान जनप्रतिनिधि राशन डीलरों के पास जाकर यह सुनिश्चित करें कि प्रत्येक व्यक्ति को पूरा राशन मिले, कोई कटौती न हो। साढ़े चार साल के कार्य का रिपोर्ट कार्ड जनका के सामने पेश करें। चुनाव हमेशा से पार्टी के लिए संवाद का माध्यम रहा है। लोगों के मुद्दों पर ज्यादा से ज्यादा काम किया जाए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00