विज्ञापन
विज्ञापन

रेडलाइट एरिया के झूठे हलफनामे पर नाराज हाईकोर्ट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मेरठ Updated Wed, 24 Apr 2019 03:47 AM IST
कबाड़ी बाजार मेरठ
कबाड़ी बाजार मेरठ - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
 मेरठ का रेड लाइट एरिया बंद करने व सेक्स वर्करों के पुनरोद्धार को लेकर दाखिल याचिका पर मंगलवार को डीएम मेरठ, एसपी क्राइम, सीएमओ हाईकोर्ट में पेश हुए। अधिकारियों की ओर से कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर बताया गया कि रेड लाइट एरिया बंद कराया गया और अब देह व्यापार नहीं चल रहा है। जिस पर हाईकोर्ट के अधिवक्ता ने रिपोर्ट झूठी बता दी। हाईकोर्ट ने नाराजगी जताकर फिर आज बुधवार को पुलिस- प्रशासन और सीएमओ को तलब किया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
अधिवक्ता सुनील चौधरी की याचिका पर न्यायमूर्ति सुधीर अग्रवाल की अध्यक्षता वाली पीठ सुनवाई कर रही है। सुनील चौधरी ने अधिकारियों के बयान का विरोध करते हुए कहा कि मीडिया रिपोर्ट है कि रेड लाइट एरिया में बाहर से दरवाजों पर ताला लगा दिया गया है। लेकिन भीतर लड़कियां मौजूद हैं और कोठे बाकायदा संचालित किए जा रहे हैं। सुनील चौधरी के मुताबिक कोर्ट ने अधिकारियों के हलफनामे पर असंतोष जताकर बुधवार को सभी को फिर से तलब किया है। इस बात पर भी नाराजगी जताई है कि सीएमओ की रिपोर्ट पर अधिकारियों ने कोई कार्रवाई नहीं की है। याचिका पर बुधवार को सुनवाई होगी। चौधरी का कहना है कि पुलिस, प्रशासन और सीएमओ ने झूठा हलफनामा कोर्ट में पेश किया था।
हलफनामा में इसका जिक्र नहीं
अधिवक्ता सुनील चौधरी ने बताया कि आरटीआई और आईजीआरएस के तहत बताया गया कि मेरठ सीएमओ कार्यालय से रेडलाइट एरिया में 20 हजार कंडोम वितरित किए हैं। छह सेक्स वर्करों को एचआईवी पॉजीटिव और सात सेक्स वर्करों की मौत होेना बताया। इन सबको पुलिस, प्रशासन व सीएमओ के हलफनामे में इसका जिक्र तक नहीं किया। अधिकारियों के हलफनामे में अधिवक्ता ने कई सवाल किए, उसका जवाब अधिकारी नहीं दे पाए। जिसके बाद हाईकोर्ट ने अधिकारियों से कहा कि उनके हलफनामे से असंतुष्ट हैं। बुधवार को सही रिपोर्ट कोर्ट में पेश करनी होगी। अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
सीबीआई जांच कराएं क्या
सुनवाई के दौरान मौजूद लोगों के अनुसार न्यायमूर्ति इस पूरे प्रकरण बहुत सख्त नजर आ रहे हैं। उन्होंने पुलिस के हलफनामे पर कहा कि क्या इस प्रकरण पर सीबीआई जांच बैठाएं। न्यायमूर्ति ने बुधवार दोपहर दो बजे तक इस पूरे मामले पर स्थिति स्पष्ट करने का निर्देश दिया है।
जिलाधिकारी कराते रहे जवाब तैयार
बुधवार को पूरे मामले पर जवाब दाखिल करने का निर्देश मिलने के बाद जिलाधिकारी अनिल ढींगरा महाधिवक्ताओं से मिले और अपना जवाब दाखिल कराने में जुटे रहे। सूत्रों के अनुसार इस मामले को लेकर पूरे पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है।

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Meerut

देवबंद: भाभी के साथ डांस करने को लेकर मारपीट, युवती समेत तीन घायल 

देवबंद के जडौदा जट्ट गांव में हो रहे शादी समारोह में भाभी के साथ डांस करने को लेकर दो पक्षों के बीच मारपीट हो गई-

26 मई 2019

विज्ञापन

चुनाव के बाद कहां जाती हैं EVM

लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद सवाल उठता है कि चुनाव प्रक्रिया में उपयोग में लाई गईं ईवीएम का चुनाव बाद क्या होता है। लगभग 90 करोड़ मतदाताओं के लिए चुनाव आयोग ने करीब 40 लाख ईवीएम की व्यवस्था की थी।

26 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree