Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Meerut ›   50 Dalit families in Meerut threaten to convert after denied to put Goddess Kali idol in temple

मेरठ में मूर्ति स्थापना को लेकर विवाद, 50 दलित परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मेरठ Updated Thu, 11 Oct 2018 09:37 AM IST
मेरठ न्यूज
मेरठ न्यूज - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

यूपी के मेरठ में 50 दलित परिवारों ने धर्म परिवर्तन करने की चेतावनी दी है। यहां शिव मंदिर में दलित परिवारों द्वारा काली मां की मूर्ति लगाने का विरोध किए जाने पर जमकर हंगामा हुआ। इसी बीच 50 परिवारों ने धर्म परिवर्तन की धमकी दे डाली। उन्होंने डीएम से मुलाकात कर दो दिन के भीतर मूर्ति स्थापित कराने की मांग की। 

विज्ञापन


इंचौली थाना क्षेत्र के मसूरी गांव में राजकुमार परिवार के साथ रहता है। उसके मुताबिक गांव में प्राचीन शिव मंदिर है। कुछ दिन पूर्व गांव में सर्व समाज के लोगों की सलाह पर मंदिर प्रांगण में काली माता की मूर्ति स्थापित कराने का निर्णय किया गया। बताया कि पांच दिन पूर्व सभी लोग मिलकर हस्तिनापुर गए और मूर्ति का आॅर्डर दे दिया। मूर्ति मंगलवार को गांव पहुंच गई।


@ANINewsUP

50 Dalit families in Meerut's Incholi threaten to convert after being allegedly denied to put Goddess Kali idol in the village temple by locals. Rajkumar, a protester says 'We are Hindus, if we can't put a goddess idol in a temple then where should we go? its better to convert'

 Oct 11, 2018


आरोप है कि गांव के ही दलित समाज के करीब आधा दर्जन लोगों ने मूर्ति स्थापित किए जाने का विरोध करते हुए ईंट उठाकर फेंक दीं। जिसे लेकर हंगामा हो गया। हालांकि उस समय सभी शांत हो गए। लेकिन बुधवार सुबह फिर से मंदिर में मूर्ति स्थापित करने की बात हुई तो उन्होंने विरोध कर दिया। इस पर राजकुमार ने 50 परिवारों के साथ धर्म परिवर्तन की चेतावनी दे डाली।

आरोप लगाया कि मंदिर की कमेटी नहीं है। फिर भी वे लोग विरोध जता रहे हैं। धर्म परिवर्तन की बात पर पुलिस से लेकर प्रशासन में हड़कंप मच गया। पीड़ित पक्ष डीएम से मिलने पहुंचा। यहां चेतावनी दी कि यदि दो दिन के भीतर मूर्ति स्थापित नहीं कराई गई तो वे मुस्लिम धर्म अपना लेंगे।

वहीं, विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि मंदिर से बहुत लोग मन्नत पूरी होने पर मूर्ति स्थापित कराना चाहते हैं। सभी कि मूर्ति मंदिर में स्थापित नहीं की जा सकती है। इस दौरान ग्रामीणों में मनीष, बिजेंद्र, पारस, अनिल कुमार, पुष्पा, सीता, सीमा, मोंटी, सविता, सुरेश राकेश और कमलेश आदि मौजूद रहे। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00