एसओ, उपनिरीक्षकों को हटाने की मांग पर अड़े

mau Updated Sun, 12 Aug 2018 11:18 PM IST
धरने पर बैठे भाजपा कार्यकर्ता को समझाते एएसपी शैलेन्द्र श्रीवास्तव।
धरने पर बैठे भाजपा कार्यकर्ता को समझाते एएसपी शैलेन्द्र श्रीवास्तव। - फोटो : mau
ख़बर सुनें
थाने की पुलिस पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए भाजपा और विहिप कार्यकर्ताओं का शनिवार रात से चला धरना रविवार को भी जारी रहा। एक वारंटी को न छोड़े जाने से नाराज कार्यकर्ता एसओ और दो उपनिरीक्षकों को हटाने की मांग को लेकर अड़े रहे। हांलाकि एएसपी के आश्वासन को भी उन्होंने दरकिनार कर दिया। दो टूक कहा कि जब तक एसओ और उपनिरीक्षकों पर कार्रवाई नहीं होती वह धरना खत्म नहीं करेंगे। दरअसल भाजपा नेता  कोर्ट के आदेश पर वर्ष 2002 के बलवा के एक मुकदमे में गिरफ्तार किए गए एक वारंटी को छोड़नेे का पुलिस पर दबाव बना रहे थे। उसे छोड़ने में असमर्थता जताने पर कार्यकर्ताओं ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोला।
भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील कुमार गुप्त, वरिष्ठ भाजपा नेता धीरेंद्र सिंह, प्रमोद राय, नगर भाजपा के विरेन्द्र गुप्ता, विहिप के जिला कार्याध्यक्ष भानु प्रकाश पाण्डेय, जिला  उपाध्यक्ष मनोज जायसवाल, भारत भीम चौहान  बब्लू पटवा सहित काफी कार्यकर्ता थाने में धरने पर बैठे रहे। इनकी मांग है कि जब तक थानाध्यक्ष राम कृष्ण द्विवेदी और एसआई अजय कुमार तिवारी और लालसाहब सिंह  को नहीं हटाया जाता है तब तक वह धरने पर बैठे रहेंगे। दो सप्ताह पहले विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने मंडलायुक्त को ज्ञापन सौंपकर थाने में व्याप्त भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कोतवाल को हटाने की मांग की थी।

मालूम हो कि पुलिस ने कसबे के हूंसापुरा मुहल्ला निवासी वारंटी व्यापारी  कृष्णा नंद वर्मा  पुत्र श्याम चंद वर्मा को 2002 के एक मुकदमे में कोर्ट के वारंट के बाद अन्य चार वारंटियों के साथ शुक्रवार को गिरफ्तार किया था। कृष्णानंद को छुड़ाने के लिए जिले के छोटे बड़े नेताओ का थाने में जमावड़ा लगा और उसे छुड़ाने को लेकर पुलिस व नेताओं की बहस बढ़ती गई। पुलिस ने रात में ही वारंटी का चालान कर दिया।

Recommended

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

National

पश्चिम बंगाल: नाबालिग ने तीन साल की बच्ची से किया रेप, गिरफ्तारी के बाद भेजा गया सुधार गृह

तीन साल की बच्ची से रेप के आरोप में 16 साल के लड़के को गिरफ्तारी के बाद सुधार गृह भेजा गया।

17 अगस्त 2018

Related Videos

बीजेपी कार्यकर्ता के सामने मऊ के ASP हुए बेबस, हाथ जोड़कर की विनती

प्रदेश में एक तरफ जहां योगी सरकार पुलिस की वाहवाही कर रही है। अपराधियों की धड़पड़क पर पुलिस की पीठ थपथपा रही है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के कार्यकर्ता शीर्ष पुलिस अफसर को अपने सामने हाथ जोड़ने पर मजबूर कर रहे हैं।

13 अगस्त 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree