इशरत ने ही रची थी अपने अपहरण की साजिश

लखीमपुर खीरी Updated Mon, 12 Oct 2015 07:41 PM IST
विज्ञापन
Ishrat was hatched by his abduction

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
थाना क्षेत्र फूलबेंहड़ के ग्राम झमपुरवा निवासी इशरत ने अपनी ससुराल  वालों को फंसाने के लिए अपने अपहरण की साजिश रची थी। जांच के बाद पुलिस ने इशरत को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया है।
विज्ञापन

थाना क्षेत्र फूलबेंहड़ के ग्राम झमपुरवा निवासी इशरत के परिवार वालों ने आठ अक्तूबर को कोतवाली पुलिस को तहरीर दी थी कि इशरत पत्नी से चल रहे मुकदमे को लेकर पेशी पर लखीमपुर गया था वहीं से उसका अपहरण हो गया। पुलिस ने तहरीर लेकर मामले की जांच की। पुलिस को पहले ही इशरत के परिवार वालों की बात पर शक था जो जांच में साफ हो गया। सोमवार को पुलिस ने इशरत को गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली सदर के एसएसआई रामअवतार यादव ने बताया कि इशरत की शादी थाना क्षेत्र फूलबेंहड़ के ग्राम देवरिया से हुई थी। इसके बाद उसकी छुड़ौती हो गई थी इसका मुकदमा चल रहा था। इशरत के मौसा उस्मान निवासी नरी थाना फूलबेंहड़ ने इशरत को अपने फर्जी अपहरण की प्लानिंग बताकर ससुराल वालों को फंसाने की सलाह दी। मौसा द्वारा बताई गई योजना के अनुसार ही इशरत के परिवार वालों ने पुलिस को इशरत के अपहरण की सूचना दी। सोमवार को जेल चौकी इंचार्ज हंसमती ने इशरत को गिरफ्तार कर लिया। इशरत ने पुलिस को बताया कि वह भोपाल भाग गया था।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us