बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

नव विवाहिता का लटकता मिला शव, हत्या की आशंका            

अमर उजाला ब्यूरो गोला गोकर्णनाथ/मूड़ासवारान। Updated Tue, 23 May 2017 11:27 PM IST
विज्ञापन
body
body - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
एक माह पूर्व हुआ था सजातीय प्रेम विवाह
विज्ञापन

पिता ने लगाया दहेज के लिए हत्या का आरोप
पति समेत चार के विरुद्घ नामजद रिपोर्ट दर्ज

अलीगंज रोड पर प्रस्तावित कृषि विश्वविद्यालय कैंपस के सामने जंगल के अंदर एक नव विवाहिता का शव संदिग्ध हालात में पेड़ से लटकता हुआ मिला। उसके गले में दुपट्टा कसा हुआ था। पुलिस ने मौके से सल्फास की गोली, पर्स, पानी की बोतल और एक सुसाइड नोट बरामद किया है। मामले में हत्या की आशंका जताई जा रही है। मृतका के पिता ने ससुराल पक्ष के चार लोगों के विरुद्घ दहेज के लिए हत्या करने की नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है।
कोतवाली क्षेत्र के गांव चमनपुर मजरा रहीमनगर ग्रंट निवासी पृथ्वीपाल ने बताया कि उनकी पुत्री सोनी (20) का गांव के ही शत्रोहनलाल के पुत्र अभिषेक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों के राजी होने पर पिछले एक अप्रैल को गांव में ही जयमाला द्वारा शादी करा दी गई थी। किंतु शादी में दहेज न मिलने से शत्रोहनलाल और उनके परिवार वाले खुश नहीं थे। पृथ्वीपाल ने लड़की और दामाद को अपने घर पर ही रख लिया था। एक सप्ताह पूर्व अभिषेक घर से कहीं चला गया। 22 मई की सुबह सोनी भी गोला थाने जाने की बात कहकर घर से निकली थी। किंतु देर शाम तक घर न आने पर उन्होंने सोनी की तलाश की, लेकिन कोई पता नहीं चला। 23 मई की दोपहर बाद पुलिस ने सोनी की लाश जंगल में पेड़ से लटके होने की सूचना दी। जब वह लोग मौके पर पहुंचे तो पुत्री के पैर जमीन से लगे हुए थे। पुलिस ने पिता पृथ्वीपाल की तहरीर पर शत्रोहनलाल, उसकी पत्नी, विपिन कुमार और अभिषेक कुमार के विरुद्घ दहेज हत्या की नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस भी मामले को संदिग्ध मान रही है।


मौके से दो पन्ने का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें लिखा गया है कि अभिषेक आप चले गए हो, अब मै किसके सहारे जियूंगी। तुम्हारे मां-बाप भी मुझे नहीं चाहते हैं। मृतका का चेहरा भी नीला था। उसके पैर जमीन से सटे हुए घुटने से मुड़े थे। सल्फास की गोली, पानी की बोतल और रसगुल्ले मिला है। मामला संदिग्ध लग रहा है। क्योंकि मृतका का चेहरा नीला था, इससे लगता है कि उसने कुछ प्वाइजन लिया है। लेकिन सल्फास खाने के बाद खुद फांसी लगाना संदिग्ध लग रहा है। हो सकता है उसे लटकाया गया हो। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण पता चलेगा। 
- अशोक कुमार यादव, सीओ गोला

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us