बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

बालूूडीह में पुनर्मतदान और नरगड़ा में मतगणना की मांग

लखीमपुर खीरी। Updated Mon, 14 Dec 2015 11:39 PM IST
विज्ञापन
And the re Baluudih Demand in Nrgdha counting
ख़बर सुनें
प्रशासन के निष्पक्षता से मतगणना संपन्न कराने के दावे के बावजूद कई जगहों पर विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई, जिनमें धांधली के गंभीर आरोप लगाए गए हैैं। फूलबेहड़ की बालूडीह सीट के परिणाम को लेकर प्रत्याशियों ने रविवार को ही मतगणना केंद्र के बाहर हंगामा कर पथराव किया था, जिसके दूसरे दिन सोमवार को समर्थकों संग प्रत्याशियों ने डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन कर दोबारा मतदान कराने की मांग की है। वहीं ईसानगर ब्लाक की ग्राम पंचायत नरगड़ा के परिणाम में धांधली का आरोप लगाते हुए दोबारा मतगणना कराने की मांग की गई है।
विज्ञापन

ब्लाक फूलबेहड़ की मतगणना उस्मानी डिग्री कॉलेज महेवागंज में कराई गई थी, जो सत्तापक्ष के पूर्व विधायक का हैै जिसको लेकर पहले से ही कुछ लोग गड़बड़ी की आशंका व्यक्त कर चुके थ। रविवार को मतगणना के दौरान ग्राम पंचायत बालूडीह के 11 प्रत्याशियों और उनके एजेंटों ने मतपेटी नंबर 178 एवं 179 की सील टूटी हुई होने का आरोप लगाते हुए विरोध दर्ज कराते हुए आरओ से मतगणना रोकने की मांग की गई थी।

आरओ ने मतगणना रोकने की मांग को नकार दिया था, जिसके बाद प्रत्याशियों और उनके समर्थकों ने हंगामा करते हुए सड़क पर प्रदर्शन किया। पुलिस की गाड़ी पर पथराव कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया था। दूसरे दिन सोमवार को 11 प्रत्याशियों सहित दर्जनों की तादात में ग्रामीणों ने डीएम कार्यालय पहुंचकर प्रदर्शन किया, जिसके बाद ज्ञापन देकर बालूडीह ग्राम पंचायत में दोबारा मतदान कराने की मांग की है।
ज्ञापन के माध्यम से प्रत्याशियों ने शिकायत की है कि मतपेटिका नंबर 178 और 179 की सील मतगणना से पहले ही टूटी पाई गई, जिसके बाद मतपेटी नंबर 179 में पड़े 743 वोटों के स्थान पर केवल 692 मतपत्र निकले हैं। इससे गड़बड़ी का संदेह और पुख्ता हो गया है। प्रत्याशियों ने लोगों की जनभावना का हवाला देते हुए बालूडीह में दोबारा मतदान कराने की मांग की है। ज्ञापन पर प्रत्याशी महरून निशा, मंजू देवी, समसुन, खालिदा, नूरजहां, किशवरी, बेबी खातून, शाहजहां, कांती देवी, रामलली और तमन्ना जबी के नाम हैं।
दूसरे मामले में ब्लाक ईसानगर की ग्राम पंचायत नरगड़ा में प्रधान पद की मतगणना में धांधली का आरोप लगाया गया हैै। इस सीट से प्रत्याशी सुशीला देवी पत्नी लालता प्रसाद यादव ने मतदान के दिन पड़े मतों के सापेक्ष मतगणना के दिन बक्से से निकले मतपत्रों की संख्या के बीच भारी अंतर पाए जाने का आरोप लगाया है।
प्रत्याशी का आरोप है कि इस संबंध में आरओ से शिकायत की गई, लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई। बल्कि आरोप है कि पुलिस की मदद से उन्हें और उनके एजेंट को बाहर निकाल दिया गया। डीएम को ज्ञापन देकर प्रत्याशी सुशीला ने प्रकरण की जांच कर दोबारा मतगणना कराए जाने की मांग की है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X