गुम हो गए जिले के डेढ़ सौ तालाब

अमर उजाला ब्यूरो, कौशाम्बी Updated Sun, 05 Mar 2017 12:23 AM IST
kaushambi pond
kaushambi
कौशाम्बी में डेढ़ सौ तालाब गुम हो गए हैं। इन तालाबों पर लोगों की खेती हो रही या फिर आलीशान भवन बन गए हैं। अधिकांश तालाबों का रकबा छोटा हो गया है। लिखित शिकायत के बाद भी कब्जा धारकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है। बूंद-बूंद पानी का संकट बढ़ता जा रहा है, इसके बाद भी जिले के अधिकारी इसको लेकर गंभीर नहीं हैं।

   जनपद में आठ हजार से अधिक तालाब थे। सरकारी अभिलेख इसके गवाह हैं। इनमें से डेढ़ सौ तालाब ऐसे हैं, जो गायब हो चुके हैं। वहीं अधिकांश तालाबों का रकबा छोटा हो गया है। जिला मुख्यालय से लेकर गांवों तक के तालाबों की स्थिति यही है। करारी, मंझनपुर में सबसे ज्यादा कब्जा हुआ है। मंझनपुर के सौ से अधिक लोगों को नोटिस दी जा चुकी है। सिराथू व चायल तहसील प्रशासन ने भी करीब तीन सौ से अधिक लोगों को नोटिस जारी की है। म्योहर, सरसवां, सरायअकिल, चरवा, सिराथू, बिदनपुर ककोढ़ा, भरवारी, चायल, बसुहार आदि जगहों पर बड़े पैमाने पर कब्जा हुआ है। इसके बाद भी अधिकारी तालाबों से कब्जा हटवाने की कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

अधिकारियों का सारा फोकस मंझनपुर पर ही है, जबकि तमाम गांव ऐसे हैं, जहां तालाब की भूमि पर खेती हो रही है। सिराथू के टेंगाई गांव में यही हो रहा है। इसकी शिकायत भी हो चुकी है। इसके बाद भी अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। ऐसा नहीं है कि अधिकारियों ने पहल नहीं की। तालाब रकबे को चिह्नित किया गया, इसके बाद भी दोबारा लोगों ने कब्जा कर लिया। जिले भर में 150 तालाब गायब हैं। अधिकारियों के लिए इन तालाबों पर हुए कब्जे को खाली कराने की सबसे बड़ी चुनौती है। इसको देखते हुए दस साल के भीतर अधिकारियों ने करीब 450 तालाब मनरेगा से सुंदरीकरण कराए, लेकिन वह भी तमाम प्रयास के बाद उपयोग लायक नहीं हो सके। इन तालाबों पर करोड़ों रुपया खर्च हो चुका है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के कौशांबी से सामने आया फोन पर तीन तलाक का मामला

सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद तीन तलाक के मामले खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बार यूपी के कौशांबी से तीन तलाक का मामला सामने आया है।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls