बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

आत्महत्या नहीं, नत्थी देवी की हुई थी हत्या

ब्यूरो/अमर उजाला कौशाम्बी Updated Tue, 07 Apr 2015 11:40 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
चरवा के सटई (नीमीसाना) गांव में ब्याही नत्थी देवी ने आत्महत्या नहीं की थी। बल्कि उसे पीट-पीटकर मारा गया था। यह आरोप मृतका के पिता ने लगाया है। मंगलवार को उनकी तहरीर पर चरवा कोतवाली पुलिस ने पति, ससुर, जेठ, जेठानी समेत पांच लोगों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। एसओ चरवा ने बताया कि पुलिस घटना की तफ्तीश के साथ ही आरोपियों की तलाश में जुटी है। वहीं एफआईआर दर्ज होने की जानकारी पर ससुराल के लोग घर से फरार हो गए हैं।
विज्ञापन

बता दें कि करारी कोतवाली क्षेत्र के भैला मकदूमपुर गांव की रहने वाली नत्थी देवी (26) पुत्री भुगुन की शादी करीब तीन साल पहले आलोपीदीन निवासी नीमीसाना (चरवा) के साथ हुई थी।


 आलोपी मुंबई में कपड़े की सिलाई का काम करता है। शुक्रवार रात संदिग्धदशा में नत्थी देवी की मौत हो गई थी। सुबह उसकी लाश घर के भीतर फंदे से लटकती मिली थी। सूचना पर मृतका की मां ननकइया देवी और मायके के अन्य सदस्य पहुंचे। मां तो शव देखते ही बेटी को पीट-पीटकर मार डालने का आरोप ससुराल के लोगों पर लगाने लगी थी। इसका कहना था कि मार डालने के बाद शव को फंदे से टांग दिया गया। ननकईया देवी का कहना था कि शादी के बाद से ही ससुराल के लोग उसकी बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित करते रहते थे। मंगलवार को विवाहिता के पिता ने चरवा कोतवाली में बेटी की हत्या किए जाने की तहरीर दी। चरवा कोतवाली पुलिस ने तहरीर के आधार पर मृतका नत्थी देवी के पति आलोपी, ससुर बरदानी, जेठ, जेठानी समेत पांच लोगों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us