भाजपा नेता के भाई की गला दबाकर हत्या

Gorakhpur Bureauगोरखपुर ब्यूरो Updated Sun, 25 Nov 2018 01:05 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
फोटो
विज्ञापन

भाजपा नेता के भाई की गला दबाकर हत्या
स्कूटी खड़ी करने के विवाद में पड़ोसियों पर वारदात को अंजाम देने का आरोप, तीन गिरफ्तार
जिला उद्यान प्रभारी के पद पर तैनात थे सत्येंद्र, फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस
अमर उजाला ब्यूरो
गोरखपुर। मोहद्दीपुर में श्रीरामपुरम कॉलोनी में स्कूटी खड़ी करने के विवाद में शनिवार की सुबह भाजपा नेता बंधु उपेंद्र सिंह के छोटे भाई और जिला उद्यान प्रभारी सत्येंद्र उर्फ संजय सिंह (42) की गला दबाकर हत्या कर दी गई। भाजपा नेता के पड़ोसी पिता-पुत्र समेत चार पर हत्या सहित अन्य आरोपों में केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपी पिता और उनके दो बेटों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी फरार है।
मोहद्दीपुर में भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री बंधु उपेंद्र नाथ सिंह किराए के मकान में रहते हैं। मकान राकेश शाही का है। शनिवार की सुबह 10.30 बजे जिला उद्यान विभाग में सहायक निरीक्षक और बंधु उपेंद्र के भाई सत्येंद्र सिंह पत्नी संगीता सिंह, दो बच्चों के साथ स्कूटी से श्रीरामपुरम कॉलोनी पहुंचे। स्कूटी खड़ी तो पत्नी संगीता और बच्चे घर के अंदर चले गए। सत्येंद्र मकान के अंदर जाने लगे तो पड़ोसी उमेश नाथ जायसवाल ने एतराज कर दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पड़ोसी ने स्कूटी दूसरी जगह खड़ी करने के लिए कहा। सत्येंद्र ने कुछ देर में लौटने के लिए कहा तो उमेश नाथ ने विवाद शुरू कर दिया। आरोप है कि उसी बीच उमेश नाथ जायसवाल, संध्या जायसवाल, उनके बेटे अभिजीत और शशांक ने सत्येंद्र पर हमला कर दिया। उनको पीटा, फिर जमीन पर गिराकर उनका गला दबा दिया। परिवार के लोग घर से बाहर आए तो देखा कि सत्येंद्र जमीन पर अचेत पड़े हैं। यह देख आरोपी भाग निकले। आनन-फानन में सत्येंद्र को पैनेशिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सत्येंद्र की मौत की जानकारी मिलते ही घर में चीख-पुकार मच गई। भाजपा नेता ने कैंट पुलिस को तहरीर देकर नामजद मुकदमा दर्ज कराया। उसके बाद पुलिस ने दबिश देकर देरशाम तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

----
भाजपा नेता से भी हुआ था विवाद
घर और उसके पास वाहन खड़ा करने का विवाद पुराना था। बंधु सिंह के मुताबिक पड़ोसी अक्सर उलझते थे। शनिवार की सुबह भी विवाद हुआ था। कुछ देर बाद भाई आए, जिनसे उलझकर ही उमेश नाथ जायसवाल और उनके परिवार के सदस्यों ने यह वारदात कर दी।

अस्पताल में भाजपा नेताओं का जमावड़ा
भाजपा नेता के भाई की हत्या की सूचना पाकर एमएलसी देवेंद्र प्रताप सिंह, सांसद कमलेश पासवान, प्रदेश मंत्री कामेश्वर सिंह और नीरज शाही सहित कई लोग अस्पताल पहुंच गए। सबने भाजपा नेता और उनके परिजनों को ढांढस बंधाया। साथ ही हत्यारोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। नेताओं ने कहा कि आरोपी दबंग किस्म के हैं। पहले भी मारपीट और विवाद कर चुके हैं।

---
कोट
स्कूटी खड़ी करने के विवाद में हत्या हुई है। इस मामले में मुकदमा दर्ज करके तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। महिला आरोपी फरार है। दबिश दी जा रही है। जल्द ही आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।
- शलभ माथुर, एसएसपी गोरखपुर
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us