विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

गोंडा

रविवार, 22 सितंबर 2019

महिला को धमकाकर लूटी चेन, एक आरोपी गिरफ्तार

गोंडा। शहर के बहराइच रोड स्थित बेलही माता मोड़ के पास गुरूवार की शाम दर्शन को पति के साथ बाइक से जा रही महिला से बाइक सवार बदमाश ने धमकाकर सोने की चेन लूट ली। मामले में कोतवाली नगर में अज्ञात बाइक सवार लुटेरे के खिलाफ लूट की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। लूट की सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने साहबगंज मोहल्ले में मारवाड़ इंटर कॉलेज के पास से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दूसरा फरार हो गया।
कोतवाल नगर आलोक राव ने बताया कि शहर के बूढ़ा देवर निकट आवास विकास कालोनी के रहने वाले अविनाश माहेश्वरी अपनी पत्नी के साथ बाइक से शुक्रवार की शाम बहराइच रोड स्थित बेलही माता मंदिर दर्शन को जा रहे थे। तभी बेलही माता मंदिर मोड़ के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने उन्हें धमकाकर रोक लिया और उनकी पत्नी से सोने की चेन लूटकर भाग निकले।
मामले में अविनाश माहेश्वरी ने कोतवाली नगर में बाइक सवार दो बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। लूट की सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने बदमाशों को पीछा शुरू किया। पुलिस ने साहबगंज मोहल्ले के मारवाड़ इंटर कॉलेज के पास एक संदिग्ध युवक को दबोच लिया। महिला से जब उसकी पहचान कराई तो महिला ने बताया कि चेन लूटने वाला बदमाश यही है। इससे पहले एक आरोपी फरार हो गया। पूछताछ में पकड़े गए युवक ने अपना नाम आसिफ अली निवासी महारानीगंज घोसियाना कोतवाली नगर बताया। कोतवाल ने बताया कि पकड़े गए आसिफ के पास से लूटी गई चेन व बाइक बरामद हुई है। बताया कि फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।
... और पढ़ें

छह ब्लाकों में 50 करोड़ का अनियमित भुगतान

गोंडा। मनरेगा में घपले की परत दर परत खुलती जा रही है। कटरा बाजार तो सिर्फ बहाना था, जबकि उससे अधिक घपला अन्य ब्लॉकों में हुए हैं। छह ब्लॉकों ने नियम को दर किनार कर श्रम-सामग्री के अनुपात को ही बिगाड़ दिया। छह क्षेत्र पंचायतों में 50 करोड़ रुपये का मनमाना भुगतान कर दिया गया जिसमें 60 प्रतिशत से अधिक सामग्री पर तथा 40 प्रतिशत से कम श्रम पर खर्च दिखाया गया है। इस घपले में नियम को ताक पर रखा गया और मानक को उलट दिया गया। अब इस अनियमित भुगतान पर जिम्मेदार अधिकारी ही बंगले झांकने लगे हैं। मामले में डीएम ने जांच के आदेश दिए हैं।
यहां पर आंख मूंद कर सामग्री पर अधिक बजट निकाला गया है। माना जा रहा है कि मजदूरी का भुगतान श्रमिकों के खाते में होने से घपले की आशंका कम रहती है। सामग्री के भुगतान में अपनों को पैसा दिया जाता है और फिर कमीशनखोरी होती है। ऐसे में हाथ खेल कर कार्यदायी संस्थाएं खर्च करती हैं। जिले की हलधरमऊ, इंटियाथोक, मुजेहना, नवाबगंज, पंडरीकृपाल और वजीरगंज ब्लॉकों ने मनरेगा के नियमों की अनदेखी करके भुगतान किया है। इन ब्लॉकों ने 49 करोड़ 39 लाख 5 हजार रुपये का भुगतान किया है और इसमें श्रम व सामग्री के भुगतान के मानक को ही बदल दिया है। सामग्री पर हलधरमऊ को छोड़कर सभी ब्लाकों ने 50 फीसदी से अधिक बजट खर्च कर लिये हैं। ब्लाकों ने सामग्री पर 31 करोड़ 5 लाख 84 हजार रुपए खर्च कर डाले हैं और श्रम पर सिर्फ 18 करोड़ 32 लाख 21 हजार रुपये ही खर्च किये हैं। यह मानक के विपरीत है और सामग्री पर 20 करोड़ से कम ही बजट मानक के तहत खर्च कर सकते थे।
श्रम-सामग्री के मानक के लिए दी गई थी चेतावनी
ब्लॉकों को मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार ने कई बार श्रम व सामग्री के तय अनुपात दुरुस्त रखने का निर्देश दे रखा है। फिर भी ब्लॉकों में अनदेखी हो रही है, छह ब्लाकों की रिपोर्ट पर गौर करें तो बड़े पैमाने पर हेराफेरी का मामला सामने आ रहा है। फिलहाल अब जांच कमेटी को इन ब्लॉकों की जांच करनी है। देर सबेर बड़े मामलों के खुलासे के आसार दिख रहे हैं।
जिलाधिकारी ने दिए हैं जांच के आदेश
जिलाधिकारी नितिन बसंल ने ब्लाकों में हो रही अनियमितता की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने 15 दिवस में मनरेगा में हो रही अनियमितता की रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट मिलने के बाद जिम्मेदारी तय की जाएगी।
... और पढ़ें

छह ब्लॉकों में 50 करोड़ का मनमाना भुगतान

गोंडा। मनरेगा में घपले की परत दर परत खुलती जा रही है। कटरा बाजार तो सिर्फ बहाना था, जबकि उससे अधिक घपला अन्य ब्लॉकों में हुए हैं। छह ब्लॉकों ने नियम को दर किनार कर श्रम-सामग्री के अनुपात को ही बिगाड़ दिया। छह क्षेत्र पंचायतों में 50 करोड़ रुपये का मनमाना भुगतान कर दिया गया जिसमें 60 प्रतिशत से अधिक सामग्री पर तथा 40 प्रतिशत से कम श्रम पर खर्च दिखाया गया है। इस घपले में नियम को ताक पर रखा गया और मानक को उलट दिया गया। अब इस अनियमित भुगतान पर जिम्मेदार अधिकारी ही बंगले झांकने लगे हैं। मामले में डीएम ने जांच के आदेश दिए हैं।
यहां पर आंख मूंद कर सामग्री पर अधिक बजट निकाला गया है। माना जा रहा है कि मजदूरी का भुगतान श्रमिकों के खाते में होने से घपले की आशंका कम रहती है। सामग्री के भुगतान में अपनों को पैसा दिया जाता है और फिर कमीशनखोरी होती है। ऐसे में हाथ खेल कर कार्यदायी संस्थाएं खर्च करती हैं। जिले की हलधरमऊ, इंटियाथोक, मुजेहना, नवाबगंज, पंडरीकृपाल और वजीरगंज ब्लॉकों ने मनरेगा के नियमों की अनदेखी करके भुगतान किया है। इन ब्लॉकों ने 49 करोड़ 39 लाख 5 हजार रुपये का भुगतान किया है और इसमें श्रम व सामग्री के भुगतान के मानक को ही बदल दिया है। सामग्री पर हलधरमऊ को छोड़कर सभी ब्लाकों ने 50 फीसदी से अधिक बजट खर्च कर लिये हैं। ब्लाकों ने सामग्री पर 31 करोड़ 5 लाख 84 हजार रुपए खर्च कर डाले हैं और श्रम पर सिर्फ 18 करोड़ 32 लाख 21 हजार रुपये ही खर्च किये हैं। यह मानक के विपरीत है और सामग्री पर 20 करोड़ से कम ही बजट मानक के तहत खर्च कर सकते थे।
श्रम-सामग्री के मानक के लिए दी गई थी चेतावनी
ब्लॉकों को मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार ने कई बार श्रम व सामग्री के तय अनुपात दुरुस्त रखने का निर्देश दे रखा है। फिर भी ब्लॉकों में अनदेखी हो रही है, छह ब्लाकों की रिपोर्ट पर गौर करें तो बड़े पैमाने पर हेराफेरी का मामला सामने आ रहा है। फिलहाल अब जांच कमेटी को इन ब्लॉकों की जांच करनी है। देर सबेर बड़े मामलों के खुलासे के आसार दिख रहे हैं।
जिलाधिकारी ने दिए हैं जांच के आदेश
जिलाधिकारी नितिन बसंल ने ब्लाकों में हो रही अनियमितता की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने 15 दिवस में मनरेगा में हो रही अनियमितता की रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट मिलने के बाद जिम्मेदारी तय की जाएगी।
... और पढ़ें

सुनील मौत प्रकरण में साहू राठौर महासभा व अधिवक्ता संगठन आमने-सामने

गोंडा। सुनील मौत प्रकरण में साहू राठौर महासभा व अधिवक्ता संगठन आमने सामने आ गए हैं। साहू समाज जहां जिला पंचायत कार्यालय के सामने टिन शेड में चार दिनों से लगातार धरना दे रहा है, वहीं अधिवक्ताओं ने इस धरने का विरोध करने का निर्णय लिया है।
समाजवादी साहू राठौर महासभा के जिलाध्यक्ष संजय साहू के मुताबिक इटियाथोक परसिया बहोरीपुर निवासी सुनील की हत्या को आत्म हत्या दर्शाकर मामले को दबाया जा रहा है जिसके लिए साहू समाज कई दिनों से आंदोलनरत है। शनिवार को जिलाध्यक्ष महफूज खां ने धरने को समर्थन देते हुए संघर्ष का आह्वान किया। धरने को सपा नेता राजेश दीक्षित, कांग्रेस नेता अब्दुल रहमान ने सबोधित कर आरपार के लड़ाई की चेतावनी दी।
उधर बार एसोसिएशन के महामंत्री राम बुझारथ द्विवेदी ने बताया कि बार एसोसिएशन व फौजदार बार एसोसिएशन सोमवर को इस धरने के विरोध में प्रदर्शन करेगा। उन्होेंने बताया कि बार एसोसिएशन अध्यक्ष रविचन्द्र त्रिपाठी व फौजदारी बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रविप्रकाश पांडेय की अगुवाई में सोमवार को अधिवक्ता विरोध जताएंगे। यह धरना प्रशासन पर बेवजह दबाव बनाकर एक अधिवक्ता को फंसाने के लिए चलाया जा रहा है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
... और पढ़ें

सिंधी व सिख समाज ने पाक पीएम का फूंका पुतला

गोंडा। पाकिस्तान में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार, उत्पीड़न पर आहत सिंधी समाज, सिख समाज व हिंदू संगठनों ने शनिवार को पूरे शहर में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन करते हुए लोग गुरुनानक चौक पर पहुंचे और पाक व वहां के पीएम के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद इमरान खां का पुतला जलाया।
सिंधी समाज के मीडिया प्रभारी किशन राजपाल ने बताया कि तीन दिन पहले 14 साल के नाबालिग द्वारा लगाए गए झूठे आरोप में हिंदू हेड मास्टर को बिना किसी जांच के जेल भेजकर पूरे स्कूल को तहस-नहस कर दिया गया। सिंध के महान हिंदू संत साईं साधराम साहिब जी के मंदिर पर हमला कर वहां लगी महान संतों की मूर्तियों को खंडित कर पूरा मंदिर तहस-नहस कर दिया गया। मेडिकल छात्रा कुमारी नम्रता चंदानी के धर्म परिवर्तन न करने पर हत्या कर दी गई, इससे पूरे देश में सिंधी व सिख समाज में बेहद आक्रोश व पीड़ा है।
इसी पीड़ा में सिंधी व सिख समाज के लोगों ने पैदल मार्च का आयोजन किया। यह पैदल मार्च झूलेलाल धर्मशाला से निकलकर सब्जी मंडी से पीपल चौराहा, गुड्डूमल चौराहा होते हुए गुरुनानक चौक तक चला। जहां पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला फूंका गया। उसके बाद भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम का ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट महोदय को सौंपा गया।
पैदल मार्च का नेतृत्व सिंधी समाज के मुखिया जयराम दास लधवानी, सिख समाज के प्रधान हरजीत सिंह छाबड़ा, पंजाबी समाज के रोशन लाल अरोड़ा, विश्व हिंदू परिषद के राकेश वर्मा उर्फ गुड्डू ने किया। इस अवसर पर जयप्रकाश लधवानी, जगदीश रायतानी, राजेश रायचंदानी, सरदार इकबाल सिंह खुराना, जगदीश साहनी, कैलाश लधवानी, प्रेम कुमार मनध्यान, भाजपा नेत्री सोनी सिंह, पारस रायतानी, मुकेश धनकानी, डॉ. आनंद, सुशील रायतानी आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

निमिषा को मिला स्वर्ण पदक

गोंडा। विवि की परीक्षा 2019 में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने के लिए एलबीएस कॉलेज की एम काम की छात्रा निमिषा गोयल को डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय अयोध्या के दीक्षांत समारोह में सम्मानित किया गया। विश्वविद्यालय की कुलाधिपति एवं उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने स्वर्ण पदक प्रदान किया गया। निमिषा गोयल ने इस उल्लेखनीय कामयाबी के लिए अपने माता, पिता सहित वाणिज्य विभाग के गुरुजनों को श्रेय दिया है। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. वंदना सारस्वत, अध्यक्ष वाणिज्य संकाय डा. बीपी सिंह, डा. राजीव अग्रवाल, डॉ. विजय अग्रवाल, डॉ. दिलीप सिंह, डॉ. अरुण प्रताप सिंह आदि ने निमिषा गोयल को बधाई दी। ... और पढ़ें

विजय राज लक्ष्मी को पीएचडी की उपाधि

आयुष्मान : सवा दो लाख लाभार्थियों के लिए आठ अस्पताल नाकाफी

विजय राज लक्ष्मी।
गोंडा। स्वास्थ्य विभाग ने प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना को बहुत हल्के में लिया है। जिले में कुल 64 अस्पताल हैं लेकिन आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों का इलाज सिर्फ आठ अस्पताल में ही कराया जा रहा है। जिले में 2.2 लाख परिवार के लिए गंभीर बीमारियों का इलाज कराने में 64 अस्पताल नाकाफी साबित हो रहे हैं। कई बार समय से इलाज न होने से परेशान मरीजों को गैर जनपद व दूसरे निजी अस्पतालों में जाकर इलाज कराना पड़ रहा है।
प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत जैसी बड़ी योजना में मौजूदा समय में 2.2 लाख परिवार जुड़े हैं इसके अलावा अभी भी इस योजना में नये लाभार्थियों को जोड़ा जा रहा है। भारत सरकार की ओर से इस योजना के लाभार्थियों को पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा देने की व्यवस्था की गई है। लाभार्थियों को आसानी से उनके क्षेत्र में ही इलाज की सुविधा मिल सके अभी तक स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसकी पर्याप्त व्यवस्था नहीं की गई है। अभी भी जिल के करीब चार दर्जन ऐसे पंजीकृत अस्पताल हैं जिन्हें इस योजना के लिए अधिकृत कर जोड़ा नहीं गया है।
फैक्ट फाइल
* कुल लाभार्थी परिवार - 2,02,735
* आयुष्मान गोल्डन कार्डधारक - 50,000
* मुख्यमंत्री जनआरोग्य से जुड़े लाभार्थी - 5,176
* आयुष्मान योजना से इलाज कराने वाले - 3,700
* अब तक इलाज पर व्यय की गई रकम - 1.70 करोड़
23 को मनेगा आयुष्मान भारत दिवस
23 सितंबर को आयुष्मान भारत दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस दिन सभी चयनित अस्पतालों में हेल्थ कैंप लगाया जाएगा। 23 सितंबर को आयुष्मान भारत योजना शुरू होने का एक साल पूरा हो रहा है। कैंप में आयुष्मान भारत के लाभार्थियों का चेकअप किया जाएगा। गंभीर बीमारी होने पर उन्हें इलाज के संबंधित चिकित्सालयों को रेफर किया जाएगा। सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों से योजना के जन जागरूकता के लिए प्रभात फेरी भी निकाली जाएगी। इसमें सरकारी स्कूल के बच्चों को भी शामिल किया जाएगा।
इलाज करने में लाभार्थी से वसूल ली रकम
आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों का इलाज निशुल्क किया जाना है। इसमें किसी भी तरह से मरीज से पैसा नहीं लिया जाना है, लेकिन मौका पाकर कुछ निजी क्षेत्र के चिकित्सालयों में मनमानी की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को इसकी शिकायत मिली है। शहर के एससीपीएम हॉस्पिटल में इलाज कराने के लिए गये मरीज से जांच कराने के नाम पर 600 रुपये से अधिक जमा करा लिया गया। इस मामले में जिले के उमरीबेगमगंज गांव के सुरेन्द्र सिंह ने अधिकारियों से शिकायत की उनका आरोप था कि वह पत्नी का इलाज कराने के लिए ले गया था जहां पर उससे पैसे लिये गये। उसने इसकी शिकायत शासन के जन सुनवाई पोर्टल पर की थी। इस मामले में आयुष्मान भारत योजना के जिला शिकायत प्रबंधक शिवांस मिश्रा ने बताया कि शिकायत का निस्तारण कराया गया। मरीज को एससीपीएम से पैसा वापस दिलाया गया। उन्होंने बताया कि कोई भी लाभार्थी इलाज के लिए पैसा मांगे जाने की शिकायत टोल फ्री नंबर -14555 पर कर सकता है।
आयुष्मान योजना के लाभार्थियों की संख्या बढ़ने पर अस्पतालों की भी संख्या बढ़ाई जाएगी। इस योजना से कोई भी पंजीकृत निजी अस्पताल जुड़ सकता है। प्रस्ताव भेजने पर उसे इस योजना के मरीजों का इलाज करने के लिए अधिकृत कर दिया जाएगा। मौजूदा समय में जिले के दोनो सरकारी जिला चिकित्सालयों के अलावा छह निजी अस्पताल शामिल हैं। लाभार्थियों को केयर कर उनके समुचित इलाज के लिए इस बार जिले के सभी 16 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को भी शामिल किया गया है। -डॉ. संदीप कुमार तिवारी, जिला नोडल अधिकारी आयुष्मान भारत
... और पढ़ें

प्लास्टिक न प्रयोग करने का शिक्षक-शिक्षिकाओं व छात्र-छात्राओं ने लिया संकल्प

गोंडा। रवि चिल्ड्रेन एकेडेमी में शनिवार को शिक्षक-शिक्षिकाओं ने छात्र-छात्राओं को प्लास्टिक का प्रयोग करने का संकल्प दिलाया। विद्यालय के प्रबंधक शिवमूर्ति मिश्र ने बताया कि पर्यावरण के लिए घातक बने प्लास्टिक का प्रयोग कम करने के लिए शनिवार को विद्यालय मे संकल्प सभा का आयोजन किया गया जिसमें प्रधानाचार्य मृदुला सिंह की अगुवाई मेेंहरिशंकर सहाय शुक्ल, विवेक मिश्र, पीएन तिवारी, जितेंद्र द्विवेदी, शिवानी सिंह, अनीता सिंह, आशा श्रीवास्तव आदि शिक्षक-शिक्षिकाओं ने छात्र-छात्राओं को प्लास्टिक का प्रयोग न करने का संकल्प दिलाया। साथ ही पर्यावरण के प्रति गंभीर बनने का आह्वान किया। ... और पढ़ें

नदी की कटान से बढ़ी ग्रामीणों की मुश्किलें

करनैलगंज (गोंडा)। ऊफनाई घाघरा दो दिनों से शांत है। पानी भी बहुत तेजी से घटने लगा है। बीते दो दिन पहले जहां घाघरा का जलस्तर खतरे के निशान को पार करते हुए इससे ऊपर 42 सेमी तक पहुंच गया था। तो वहीं अब यह तेजी के साथ घटने लगा है।
शनिवार को घाघरा का जलस्तर खतरे के निशान से मात्र 8 सेमी ऊपर रह गया है। घाघरा के तेवर में आयी कमी से सिंचाई विभाग ने तो राहत की सांस ली है। मगर घटता पानी लगातार कुछ इलाकों में तेजी से कटान कर रहा है। जिससे किसानों की फसल खेत समेत तबाह होती जा रही है। पानी के जमाव से लोगों के घर गिरने शुरू हो चुके हैं। यहां के लोगों का कहना है कि बाढ़ का पानी तो लौटने लगा, जो राहत की बात है। लेकिन लोगों के लिए मुसीबत छोड़ कर जा रहा है।
एक ओर जहां करोड़ों रुपये की फसल बर्बाद हो गयी। वहीं दूसरी ओर बाढ़ के जमे पानी में फसलों के सड़ने का सिलसिला शुरू हो गया है। गांव के गली व गढ्ढों में जमा पानी बीमारी को आमंत्रण देने को तैयार है। केन्द्रीय जल आयोग एल्गिन ब्रिज घाघरा घाट से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार शनिवार को घाघरा के जलस्तर में व्यापक कमी आयी। खतरे के निशान से 42 सेमी ऊपर बह रही नदी घट कर अब खतरे के निशान से मात्र 8 सेमी रह गयी है। तो वहीं नदी में बैराजों से होने वाले डिस्चार्ज में भी बड़ी कमी दर्ज की गयी है। अब नदी में जल का डिस्चार्ज मात्र 77 हजार 331 क्यूसेक रह गया है।
बाढ़ पीड़ितों के लिए यह राहत भरी खबर हो सकती है। उसके बावजूद बाढ़ पीड़ितों की मुश्किलें अभी कम नहीं होने वाली हैं। लगातार पहाड़ी नालों का पानी बैराजों के जरिये घाघरा में छोड़ा जा रहा है। जिससे बरसात के कारण घाघरा के उफान से राहत की उम्मीद नहीं है। बांध पर मौजूद सहायक अभियंता अमरेश सिंह व अवर अभियंता एमके सिंह का कहना है कि पानी लगातार घट रहा है। कटान नहीं है। बांध सुरक्षित है।
... और पढ़ें

वृहद गो संरक्षण केंद्र कुंडासर के निर्माण की होगी टीएसी जांच

गोंडा। देवीपाटन मंडल के आयुक्त महेंद्र कुमार ने सड़क परियोजनाओं को छोड़कर मंडल की 50 लाख से अधिक लागत की परियोजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने परियोजनाओं को समय से पूरा करने का निर्देश दिया। बैठक में अनुुस्थित सीएंडडीएस जनपद बहराइच, गोंडा व श्रावस्ती के परियोजना प्रबंधक, पैक्सफेड गोंडा के परियोजना प्रबंधक तथा आवास विकास परिषद गोंडा व बहराइच के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देश दिए हैं कि वे मंगलवार को अपने-अपने विभागों की परियोजनाओं की अद्यतन रिपोर्ट के साथ उपस्थित हों। आयुक्त ने गो संरक्षण केंद्र कुंडासर के निर्माण की जांच टीएसी से कराने के निर्देश दिए।
आयुक्त ने बैठक में तीन सौ शैयायुक्त उच्चीकृत चिकित्सालय एवं आवासीय भवन गोंडा जिसका निर्माण राजकीय निर्माण निगम सूडा द्वारा किया गया है, उसमें विद्युत कनेक्शन एक सप्ताह के अंदर दिए जाने के निर्देश अधीक्षण अभियंता विद्युत को दिए हैं। तहसील मनकापुर में आवासीय भवनों के निर्माण के संबंध में आयुक्त द्वारा शीघ्र कार्य पूर्ण करने के निर्देश पर 2 माह के अंदर कार्य पूरा करा लेने के लिए समय देने का अनुरोध किया गया। इसी प्रकार छात्रावास राजकीय पॉलीटेक्निक आदमपुर गोंडा का निर्माण कार्य दिसंबर तक पूर्ण करने के लिए मोहलत मांगी गई। बैठक में यूपी जल निगम के अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि गोंडा में उनके विभाग की 55 परियोजनाओं में 05 पूरी हो चुकी हैं। 10 में 80 से 90 प्रतिशत कार्य हुआ है जो अगले माह तक पूरी हो जाएंगी।
शेष में 25-50 प्रतिशत कार्य हुआ है जिन्हें दिसंबर तक पूर्ण कर लिया जाएगा। बहराइच की 59 परियोजनाओं में 24 पूरी हो चुकी हैं, 03 में 80 प्रतिशत से ऊपर कार्य हुआ है जिसे शीघ्र पूरा कराने के निर्देश आयुक्त ने दिए हैं। 23 परियोजनाओं में 50 से 80 प्रतिशत तक कार्य हुआ है जो दिसंबर माह तक पूरा हो जाएगा। शेष 09 में 50 प्रतिशत से कम काम हुआ हैं, जो मार्च 2020 तक पूर्ण हो सकेंगी। बलरामपुर जल निगम की 26 परियोजनाओं में से 04 पूर्ण हो चुकी हैं। 4 में 80 प्रतिशत से उपर कार्य हुआ है जिसे इसी माह पूरा कर लिया जाएगा। अधीक्षण अभियंता जल निगम द्वारा बताया गया कि गोंडा में 9 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली पसका ग्राम पंचायत पेयजल योजना आगामी दिसंबर तक चालू हो जाएगी।
बलरामपुर में जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय एवं विश्राम गृह जिसका निर्माण कार्य उत्तर प्रदेश समाज कल्याण निर्माण निगम द्वारा किया जा रहा है, उसमें मात्र दस हजार लीटर की जलापूर्ति के लिए ओवर हेड टैंक के निर्माण पर आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि यदि काम न शुरू हुआ तो तत्काल उसे रोक दिया जाय। आयुक्त ने बहराइच में राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कटघरा कला कैसरगंज का निर्माण उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा पूर्ण करने एवं दस लाख रूपए की धनराशि विद्युत कनेक्शन के लिए जमा करने के बावजूद बिजली का काम शुरू न करने पर नाराजगी व्यक्त की। इस संस्थान का आयुक्त द्वारा विगत में निरीक्षण भी किया गया था। उन्होंने यूपीपीसीएल के अधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि विद्युत विभाग द्वारा कनेक्शन का कार्य न शुरू किया जाय तो उन्हें अवगत कराया जाय।
उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम बहराइच के प्रोजेक्ट मैनेजर के बैठक में स्वयं न आने पर आयुक्त ने निर्देशित किया कि वे आगामी बैठकों में स्वयं उपस्थित होना सुनिश्चित करें। उन्होंने वृहद गो संरक्षण केन्द्र कुंडासर बहराइच जिसका निर्माण पैकफेड द्वारा एक करोड़ बीस लाख रुपये की लागत से किया जा रहा है, की टीएसी (तकनीकी लेखा परीक्षा समिति) से जांच कराने के आदेश दिए हैं। उन्होंने पुलिस लाइन श्रावस्ती में शेष अनावासीय भवनों, पीटी गोदाम आदि का निर्माण कार्य दो माह के भीतर पूरा करने के लिए यूपीपीसीएल के प्रोजेक्टर मैनेजर को निर्देशित किया तथा आईटीआई इकौना को निर्माण के बाद हैंड ओवर के पश्चात भी कक्षाएं शुरू न होने पर डीएम श्रावस्ती को निर्देशित किया कि वे स्वयं निरीक्षण कर उन्हें अवगत कराएं। बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त देवीपाटन मंडल अनिल कुमार पांडेय, कार्यदायी संस्थाओं के अधीक्षण अभियंता, अधिशासी अभियंता, प्रोजेक्ट मैनेजर तथा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

किसान की चाकू से गोदकर बेरहमी से हत्या

बालपुर (गोंडा)। आटा चक्की की रखवाली कर रहे एक बुजुर्ग किसान की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। शुक्रवार की आधी रात को घटी इस घटना से लोग अवाक हैं। कारण बालपुर-परसुपर रोड पर स्थित एक कमरे में यह वारदात हुई। शनिवार की सुबह पुलिस अधीक्षक ने डाग स्कवॉयड व फॉरेंसिक टीम के साथ पहुंचकर जांच शुरू कर दिया है।
कोतवाली देहात क्षेत्र के बालपुर-परसपुर रोड पर सालपुर धौताल नहर के समीप आटा चक्की पर सो रहे किसान बासुदेव सिंह (70) पर हमलावर ने ताबड़तोड़ चाकू से वार किया। उनके पेट से लेकर गले तक करीब एक दर्जन बार चाकू से हमला किए जाने के निशान मिले हैं। मृतक बासुदेव सिंह के पुत्र संतोष कुमार सिंह के अनुसार उनके पिता रोज की तरह बासुदेव सिंह खाना खाने के बाद आटा चक्की पर सोने के लिए घर से चले आते थे। रात में करीब 11 बजे तक संतोष भी चक्की पर थे। जब उनके पिता बासुदेव सिंह रात 11 बजे के करीब चक्की पर सोने के लिए आये तो संतोष घर चले गये।
बतौर संतोष आटा चक्की पर बने एक कमरे में उनके पिता सो रहे थे। रात करीब 12 से 1.00 के बीच में अज्ञात लोगों ने बासुदेव सिंह के शरीर पर चाकू से 10 वार करके मार डाला। जब सुबह बासुदेव का नाती सतेंद्र सिंह सड़क पर दौड़ लगाने के लिए आया तो देखा की उसके बाबा का शव कमरे में खून से लथपथ पड़ा है। वह रोते हुये घर की तरफ भागा और लोगों को सुचना रदी। यह सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया। परिवार की सुचना पर पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर, अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार, क्षेत्राधिकारी करनैलगंज जितेंद्र कुमार दूबे, सीओ सिटी कृपा शंकर कनौजिया, कोतवाल देहात राजनाथ सिंह, कोतवाल करनैलगंज राजेश कुमार सिंह, चौकी प्रभारी बालपुर जयहरि मिश्र पहुंच गए। घटना स्थल की जांच के लिए जिला मुख्यालय से फॉरेंसिक टीम व डाग स्क्वॉयड को बुलाया गया। एसपी ने संबंधित अधिकारियों को जांच कर शीघ्र घटना का खुलासा करने का निर्देश दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree