बड़े धोखे हैं राजनगर एक्सटेंशन में

Ghaziabad Updated Mon, 24 Sep 2012 12:00 PM IST
गाजियाबाद। अब बिल्डरों की मनमानी पर नकेल कसने के लिए जीडीए सामने आया है। यदि बिल्डर आधी अधूरी सुविधाओं के साथ पजेशन लेने के लिए दबाव बनाता है तो जीडीए उस पर कार्रवाई करेगा। जीडीए ने लोगों से अपील भी की है कि किसी भी प्रोजेक्ट में फ्लैट की पजेशन लेने से पहले बिल्डर से कंप्लीशन सर्टिफिकेट जरूर ले लें। जीडीए अधिशासी अभियंता आईएस सिंह द्वारा जारी एडवाइजरी के मुताबिक सभी बेसिक सुविधाएं पूरी करने के बाद ही बिल्डर ग्राहकों को कब्जा दे सकते हैं। जीडीए के मुताबिक राजनगर एक्सटेंशन में रेजीडेंट्स की लगातार शिकायतें मिल रही हैं। इसलिए जीडीए ने शहर के तमाम प्रोजेक्ट्स के लिए यह एडवाइजरी जारी की है।
आरडब्ल्यूए फेडरेशन के चेयरमैन कर्नल टीपी त्यागी ने बताया कि सुविधाओं की वादाखिलाफी के कारण लगभग सभी सोसायटी में बिल्डर और रेजीडेंट्स के बीच विवाद चल रहे हैं। जीडीए को बिल्डरों पर जल्द सर्टिफिकेट लेने का दबाव बनाना चाहिए।
राजनगर एक्सटेंशन बिल्डर्स एसोसिएशन प्रवक्ता गौरव गुप्ता ने कहा कि अधिकतर बिल्डरों ने कंप्लीशन सर्टिफिकेट आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। जीडीए से अपेक्षा है कि समय पर कंप्लीशन सर्टिफिकेट जारी करे, जिससे पजेशन देने में देरी न हो। बिल्डर ईडीसी देते हैं, इसलिए बाह्य विकास की जिम्मेदारी जीडीए की है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018