बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

72 घंटे बीते, हत्यारोपियों का सुराग नहीं

अमर उजाला ब्यूरो इटावा Updated Tue, 23 May 2017 11:55 PM IST
विज्ञापन
प्रतीकात्मक
प्रतीकात्‍मक - फोटो : प्रतीकात्‍मक

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
शहर की प्रोफेसर कालोनी में भट्ठा व्यवसायी की पत्नी की हत्या और लूट की घटना को 72 घंटे बीत चुक े हैं लेकिन पुलिस अभी तक हत्यारों का सुराग नहीं लगा सकी है। घटना के खुलासे को पांच टीमें लगी हैं।
विज्ञापन

आईजी जोन आलोक सिंह ने इस घटना के खुलासे के निर्देश दिए थे। सोमवार को लखनऊ से आई टीम ने क्राइम सीन दोहराकर घटना की तह तक पहुंचने का प्रयास किया। हालांकि टीम ने कोई रिपोर्ट नहीं दी है। मृतका नीलम सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उसकी मौत मुंह दबाने से दम घुटने के कारण हुई है। इसका समय शाम साढे़ चार बजे के करीब है। मुन्नू रविवार दोपहर पौने तीन बजे घर से भट्ठे के लिए निकले थे। जब वह घर से निकलते थे तो नीलम गेट बंद कर लेती थीं। गेट खुला होने से ये अंदेशा है कि हत्यारों में कोई परिचित रहा होगा। पुलिस ने इस संबंध में कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अभी हत्या व लूट के बारे में कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस मामले की गहराई के साथ सुराग लगाने के प्रयास में जुटी है।


घटना का शीघ्र खुलासा हो
इटावा। प्रोफेसर कालोनी में भट्ठा व्यवसायी की पत्नी की हत्या और लूट की घटना पर व्यापार मंडल ने आक्रोश व्यक्त किया है। घटना के शीघ्र खुलासे की मांग की है। व्यापार मंडल के जिला महामंत्री सदाशिव श्रीवास्तव, युवा प्रदेश सचिव सुनील जैन, नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष डा. आशीष दीक्षित, नगर अध्यक्ष गुरुभेज सिंह भेजा, युवा जिलाध्यक्ष मनीष गुप्ता, युवा जिला महामंत्री प्रत्यूष वर्मा ने कहा कि ऐसी घटनाओं से दहशत रहती है। व्यापारी कहां  सुरक्षित हैं। एसएसपी को चाहिए कि शीघ्र व्यापारियों की बैठक बुलाकर उनकी राय लें और ऐसे मामलों पर अंकुश लगाएं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us