विज्ञापन
विज्ञापन

शहीद दरोगा के आश्रितों को 50 लाख की सहायता

ब्यूरो, अमर उजाला बरेली Updated Fri, 24 Jun 2016 01:23 AM IST
ख़बर सुनें
बदायूं/बरेली। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बदायूं में बुधवार की रात बदमाशों से मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिस उप निरीक्षक सर्वेश कुमार यादव के आश्रितों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। लखनऊ में गुरुवार को सीएम ने शरीद दरोगा के परिवार को असाधारण पेंशन व परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का भी एलान किया। आईजी, डीआईजी समेत बदायूं पुलिस के सभी कर्मचारी शहीद के परिवार की मदद में एक दिन का वेतन देंगे। 
विज्ञापन
इस बीच सूत्रों के मुताबिक मुठभेड़ में घायल बदमाश कल्लू की हालत गंभीर है। उसे बरेली के एक निजी अस्पताल में दाखिल किया गया है। उसके पैरों में गोलियां लगी हैं। बताया जाता है उसके एक पैर में गोलियां फंसी हैं लेकिन पुलिस ने अभी इसके आपरेशन की इजाजत नहीं दी है। 
पहले एटा जिला प्रशासन ने शहीद दरोगा के परिवार को बीस लाख की सहायता देने की बात कही थी, लेकिन पिता के सीएम को बुलाने और भाई की एक करोड़ रुपये आर्थिक सहायता की मांग पर मारहरा के सपा विधायक अमित गौरव ने मुख्यमंत्री से फोन पर वार्ता की। इसके बाद डीएम अजय यादव और एसएसपी अजय शंकर राय ने परिवार को 50 लाख रुपये आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा की। उधर, मुठभेड़ के बाद फरार हुए बदमाश नन्हे और ऋषिपाल दूसरे दिन भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े। एसपी सिटी के नेतृत्व में बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए चार सीओ के साथ 12 पुलिस टीमों को लगाया गया है। पुलिस का मानना है कि मुठभेड़ के बाद फरार दोनों बदमाश भी घायल हैं। पुलिस टीमें पूरे इलाके में कांबिंग कर रही हैं। आंवला, फरीदपुर और शाहजहांपुर के गढ़िया रंगीन में भी टीमों को भेजा गया है। उधर, गुरुवार को घट बहेटी गांव छावनी बना रहा। कई घरों की पुलिस ने तलाशी ली।
बुधवार की रात घट बहेटी गांव में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में दरोगा सर्वेश यादव शहीद हो गए थे और दो सिपाही घायल हुए थे। मुठभेड़ में जख्मी बदमाश कल्लू को पुलिस ने दबोच लिया था। उससे पूछताछ के बाद पुलिस का पूरा फोकस फरार बदमाशों की गिरफ्तारी पर है। खुद आईजी विजय मीना और डीआईजी आशुतोष कुमार कांबिंग टीमों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। गुरुवार को पुलिस ने चंदौरा, बिनावर, शेरगंज, बिसरइया, घटपुरी, विजय नगला, तिसरा, रसूलपुर गांवों में चप्पे-चप्पे पर बदमाशों की तलाश की।
पुलिस का मानना है कि फरार हुए दोनों बदमाश भी घायल हैं। ऐसे में वे ज्यादा दूर नहीं जा सकते। इसलिए रातभर पुलिस की सर्च आसपास के गांवों में चली। रास्ते में एक बदमाश की चप्पल भी पड़ी मिली। पुलिस की एक टीम आंवला भी भेजी गई, उसको भी बदमाशों का सुराग नहीं मिला।
रात को खंगाले निजी नर्सिंग होम
पुलिस का मानना था कि दो बदमाश मुठभेड़ में घायल हुए हैं। इस आशंका पर शहर भर के प्राइवेट अस्पताल, नर्सिंग होम और क्लीनिकों पर पुलिस ने जाकर पड़ताल की कि कहीं कोई गोली लगने से घायल बदमाश तो इलाज नहीं करा रहा। पुलिस को यहां भी सफलता नहीं मिली। 
फरार बदमाशों पर पांच-पांच हजार का इनाम
कल्लू यादव ने अपने साथियों के नाम बिनावर थाने के गांव रसूलपुर निवासी नन्हे और बरेली के थाना फरीदपुर निवासी ऋषिपाल बताए हैं। दोनों की गिरफ्तारी पर डीआईजी रेंज आशुतोष कुमार ने पांच-पांच हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। सभी बदमाशों का आपराधिक रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है। अब तक पता लगा है कि इनके खिलाफ बदायूं के साथ बरेली, शाहजहांपुर, पीलीभीत और मुरादाबाद में भी लूटपाट के मामले दर्ज हैं।
एसपी सिटी के नेतृत्व में चार सीओ के साथ पुलिस की 12 टीमों को लगाया गया है। बदमाशों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
-आशुतोष कुमार, डीआईजी रेंज बरेली
विज्ञापन

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

अनुसूचित जाति की छात्र को अलग बैठाने पर आयोग ने दिए एफआईआर दर्ज करने के आदेश

धूप में ‘मुर्गा’ बनाई गई छात्रा की सुरक्षा-मदद को दौड़े अफसर

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

आरबीआई की पीएमसी ग्राहकों को और राहत, खाते से रुपये निकालने की सीमा 25 से बढ़ाकर 40 हजार की

त्योहारी सीजन को देखते हुए आरबीआई ने पीएमसी बैंक पर लगी पाबंदियों के बीच ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। पीएमसी ग्राहक अब खाते से 25 हजार के बजाय 40 हजार रुपये तक निकाल सकेंगे।

14 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree