लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Aligarh News ›   three arrested including maulvee

अलीगढ़: पुलिस पर पथराव-हमले में मौलवी समेत तीन जेल भेजे, फोर्स तैनात

Aligarh Bureau अलीगढ़ ब्यूरो
Updated Sat, 04 Apr 2020 12:09 AM IST
three arrested including maulvee
विज्ञापन
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़

बन्नादेवी थाना क्षेत्र के सराय रहमान इलाके की तकिया वाली मस्जिद में बृहस्पतिवार रात ईशा की नमाज पढ़ने से रोकने पर पुलिस पर हमले और पथराव के मामले में पुलिस ने मस्जिद के मौलवी और इलाके के मां-बेटे पर मुकदमा दर्ज कर तीनों को जेल भेज दिया। इस मुकदमे में 25 अज्ञात आरोपी भी बनाए गए हैं, जिनकी शिनाख्त के प्रयास जारी हैं। शुक्रवार को यहां दिन भर पुलिस-पीएसी तैनात रही और एसीएम व सीओ द्वितीय की अगुवाई में इलाके में फ्लैगमार्च किया गया।
सीओ द्वितीय पंकज श्रीवास्तव के अनुसार, रघुवीर पुरी चौकी इंचार्ज दीपक कुमार की तहरीर के आधार पर 25 से 30 अज्ञात और मौलवी अजरुद्दीन पुत्र आफाक निवासी मस्जिद गढ़, कोचधमन, किशनगंज, बिहार और सराय लवरिया में रहने वाले अमजद पुत्र मो, अजमल उर्फ यामीन एवं इसकी मां बॉबी के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा और हमले-पथराव, गाली-गलौज, धमकाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। इन तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।




दीपक कुमार का आरोप है कि वह लैपर्डकर्मी शिवम और विक्रांत को लेकर तकिया वाली मस्जिद पर 25 से 30 लोगों के नमाज अदा करने की सूचना पर पहुंचे थे। उन्होंने वहां कोरोना वायरस फैलने के चलते किए लॉक डाउन और जनपद में लागू धारा 144 का हवाला देते हुए लोगों से अपने-अपने घर पर जाकर नमाज पढ़ने की अपील की। इस पर मौलवी ने लोगों को भड़का दिया और नमाजियों ने पुलिस पर हमला कर दिया। जैसे-तैसे खुद को मस्जिद के भीतर बंद कर थाने पर मामले की जानकारी दी और पुलिस बल के पहुंचने पर अपनी जान बचाकर मस्जिद के भीतर से निकले। फिलहाल इलाके में तनावपूर्ण माहौल है। मस्जिद की ओर जाने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है।
सीओ के अनुसार जो नाम अभी प्रकाश में नहीं आए हैं, उनके नाम उजागर किए जाने का काम चल रहा है। साथ ही इलाके में नजर रखी जा रही है। शुक्रवार को वहां मस्जिद में किसी ने जुमे की नमाज भी नहीं पढ़ी। दिन भर मस्जिद में ताला लगा रहा।
मस्जिदों की ड्रोन से हुई निगरानी, सूचनाएं भी आईं
अलीगढ़। जुमे की नमाज के दौरान एसएसपी के निर्देश पर थाना कोतवाली और देहली गेट थाना क्षेत्र की मस्जिदों और बस्तियों की पुलिस ने ड्रोन कैमरे से निगरानी की। साथ ही पुलिस को लगातार ये सूचनाएं भी मिलीं कि कुछ लोग मस्जिदों में नमाज पढ़ने के लिए सराय भूखी और सराय सुल्तानी में जुटे हैं। इन सूचनाओं पर पुलिस ने दौड़ लगाई। हालांकि मौके पर कुछ नहीं मिला। साथ ही पुलिस ने मुस्लिम बस्तियों में जाकर लोगों से जुमे की नमाज घर के भीतर ही रहकर अदा करने की अपील की।
विज्ञापन
मस्जिदों में नमाज पढ़ने पर कार्रवाई, माहौल बिगाड़ा तो एनएसए : डीएम
अलीगढ़। बन्नादेवी थाना क्षेत्र की तकिया वाली मस्जिद पर बृृहस्पतिवार को नमाज पढ़ने से रोकने पर पुलिस पर हुए हमले-पथराव के बाद जिलाधिकारी ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। जिलाधिकारी ने साफ कहा है कि लॉक डाउन लागू रहने तक मस्जिदों में नमाज नहीं पढ़ने दी जाएगी। लोग अपने घर पर भी नमाज अदा कर सकते हैं। नमाज के लिए मस्जिद में भीड़ जुटाकर वह अपने और अपने परिवार के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर सकते हैं। लोगों को मस्जिदों में नमाज न पढ़ने की अपील के लिए मोअज्जिज लोगों को भी लगाया गया है। इसके बाद भी कोई आदेश का उल्लंघन करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं, इस आड़ में किसी ने माहौल बिगाड़ा और पुलिस पर हमलावर हुए तो उन पर एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00