बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

दोहरे हत्याकांड के विरोध में आज बंद रहेगा सराफा बाजार

अमर उजाला ब्यूूराे Updated Fri, 19 May 2017 01:18 AM IST
विज्ञापन
दोहरे हत्याकांड के विरोध में आज बंद रहेगा सराफा बाजार
दोहरे हत्याकांड के विरोध में आज बंद रहेगा सराफा बाजार - फोटो : Dig Vishal

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
मथुरा में दो सराफा कारोबारियों की हत्या से अलीगढ़ के कारोबारियों में आक्रोश है। इसके विरोध में शुक्रवार को अलीगढ़ सराफा कमेटी ने कारोबार बंद रखने का ऐलान किया है।
विज्ञापन

बृहस्पतिवार को अलीगढ़ सराफा कमेटी की बैठक अध्यक्ष विजय अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इसमें मथुरा में दो सराफा कारोबारी की हत्या की भर्त्सना की गई। इसके विरोध में कारोबारियों ने शुक्रवार को सराफा कारोबार बंद करने का ऐलान किया। अध्यक्ष विजय अग्रवाल ने बताया कि शुक्रवार को व्यापारी फूल चौराहे पर धरना देंगे और कप्तान को ज्ञापन देकर सुरक्षा की मांग करेंगे। उन्होेंने कहा कि मथुरा के दोहरे हत्याकांड की जल्द से जल्द खुलासा हो और उसमें संलिप्त अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। इस घटना से सराफा कारोबारी अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे है। बैठक में महामंत्री विनोद कुमार, अखिलेश वार्ष्णेय, प्रदीप अग्रवाल, अतुल कुमार, विष्णु कुमार, भारतभूषण माहेश्वरी, संजय अग्रवाल, अवनीत कुमार, विजय कुमार वार्ष्णेय, अमन कुमार, अमित कुमार, दीपेंद्र कुमार वार्ष्णेय, अजय कुमार वार्ष्णेय, प्रवीण कुमार आदि उपस्थित थे। 

उद्योग व्यापार संगठन ने सराफा कारोबारियों के बंद का समर्थन किया। युवा इकाई प्रदेश अध्यक्ष अनुराग गुप्ता ने कहा कि प्रदेश में व्यापारियों की हत्या एवं लूट की घटनाएं बदस्तूर जारी है। कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद लचर है, जो चिंता का विषय है।  वहीं व्यापारी नेता ज्ञानचंद वार्ष्णेय ने मथुरा का दौरा किया। पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर सांत्वना दी। बंद का समर्थन किया।
दो महीने में प्रदेश में बढ़े अपराध : बिजेंद्र सिंह
कांग्रेस के पूर्व सांसद व जिलाध्यक्ष बिजेंद्र सिंह के नेतृत्व में गुरुवार को कांग्रेसी कलक्ट्रेट पहुंचे। राष्ट्रपति व राज्यपाल को प्रेषित ज्ञापन एसीएम द्वितीय को सौंपा। चौ. बिजेंद्र सिंह ने कहा कि दो महीनों में वेस्ट यूपी में क्राइम बढ़ गया है। इस दौरान 125 लूट, 80 हत्याएं, 20 रेप कांड व दस अपहरण हो चुके हैं। अलीगढ़ में एएमयू स्कूल की 12 साल की छात्रा अनम की रोडरेज में हत्या, सहारनपुर में प्रदर्शन कर रहे दलितों पर गोली कांड, मथुरा में दो हत्या कर चार करोड़ की डकैती ने सरकार की कमजोरी को उजागर कर दिया है। हालात न सुधरे तो आंदोलन करेंगे।
स्वर्णकार को तमंचा दिखा कर धमकाया
जट्टारी। कस्बे में गुरुवार सुबह कुछ अज्ञात लोगों ने स्वर्णकार राकेश पुत्र डालचंद को तमंचा दिखाकर धमकाया। घबराए स्वर्णकार ने इसकी जानकारी अपने परिजनों और आस पड़ोस के दुकानदारों और पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस के देरी से पहुंचने पर स्वर्णकारों ने नाराजगी दिखाई। राकेश ने बताया कि वह अपनी दुकान खोलकर बैठा ही था कि तीन-चार अज्ञात लोग आए और हथियार दिखाने लगे। उसने विरोध किया तो वह धमकी देते हुए भाग गए। पीड़ित ने कस्बा जटटारी के एक युवक व तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ  थाने में तहरीर दी है। इधर, जिस युवक के नाम से तहरीर दी गई है उसके पक्ष में भी कुछ लोग पुलिस चौकी पहुंच गए और दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हुई। चौकी इंचार्ज ने दोनो पक्षों के लोगों को शांत किया। पुलिस ने शांति भंग की धाराओं की कार्रवाई की है। 
हरदुआगंज में दर्जनाें दुकानें, सीसीटीवी कैमरा कहीं नहीं
हरदुआगंज। मथुरा में दो सराफा व्यवसायी भाइयों की हत्या कर करोड़ों की लूट के बाद भी सराफा व्यवसायी सीसीटीवी कैमरा लगवाने को लेकर संजीदा नहीं दिख रहे हैं। जबकि नौ माह पूर्व हरदुआगंज कस्बे में हरिओम वर्मा सर्राफा व्यवसायी की दुकान से लूट की घटना हो चुकी है। पड़ोस के मिष्ठान व्यापारी के यहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई थी। इसी आधार पर एसआई प्रदीप मलिक ने लूट का खुलासा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया था। इस घटना के बावजूद न तो अभी तक किसी सराफा व्यवसायी ने अभी तक सीसीटीवी नहीं लगवाया है। हालांकि सीसीटीवी लगवाने के लिए पुलिस अधिकारी भी कई बार व्यापारियों को निर्देशित कर चुके हैं।  हरदुआगंज कस्बे में सर्राफा व्यवसायियों की करीब तीन दर्जन दुकानें हैं, जिसमें दो दुकानों पर ही सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। वहीं जलाली में करीब एक दर्जन दुकानें हैं, लेकिन किसी भी दुकान पर सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। इस बारे में थानाध्यक्ष विनोद कुमार का कहना है कि हालांकि कैमरा लूटने से बचा तो नहीं सकता, लेकिन कैमरा लुटेरे को लूट करने से पहले सोचने को विवश जरूर कर देता है। साथ ही इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वाले लुटेरों को कैमरे की फुटेज के आधार पर पुलिस को भी पकड़ने में आसानी रहती है। गुरुवार दोपहर हरदुआगंज के सर्राफा व्यवसायियों ने मथुरा कांड के खुलासे की मांग करते हुए प्रदेश के डीजीपी के नाम थानाध्यक्ष हरदुआगंज को ज्ञापन सौंपा।गौरतलब हो कि 27 जून 2014 को जलाली की केनरा बैंक में हुई डकैती की घटना के बाद तत्कालीन सीओ व थानाध्यक्ष ने जलाली व हरदुआगंज के सराफा कारोबारियों को थाने बुलाकर मीटिंग की थी, जिसमें सभी को सीसीटीवी कैमरे लगवाने के सख्त निर्देश भी दिए गए थे, लेकिन अधिकारियों के तबादले के साथ ही आदेश भी हवा हवाई हो गए। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us