सोशल मीडिया पर बहस के बाद पूर्व सीपीएस और भाजपा कार्यकर्ताओं में सड़क पर हाथापाई

विज्ञापन
Arvind Thakur न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जवाली (कांगड़ा) Published by: अरविन्द ठाकुर
Updated Sat, 25 May 2019 05:52 PM IST
fight between neeraj bharti and BJP party workers kangra himachal pradesh
- फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
पूर्व सीपीएस नीरज भारती और भाजपा कार्यकर्ताओं में जवाली के कैहरियां चौक पर हाथापाई हो गई। ऐन मौके पर पुलिस ने हस्तक्षेप कर दोनों पक्षों को अलग कर टकराव बढ़ने से टाल दिया। हालांकि, इस घटना से इलाके में तनावपूर्ण स्थिति बनी रही। मामला सोशल मीडिया पर बहस से शुरू हुआ था, जिसमें भाजपा कार्यकर्ता ने नीरज भारती को जवाली में एक स्थान पर आने की चुनौती दी थी। पुलिस ने तनाव को बढ़ने से रोक लिया, लेकिन अब जांच की जा रही है। 
विज्ञापन


जानकारी के अनुसार पूर्व सीपीएस और भाजपा कार्यकर्ता की सोशल मीडिया पर बहस हुई। विवाद बढ़ने के बाद भाजपा कार्यकर्ता ने नीरज भारती का जवाली में एक स्थान पर आने की चुुनौती दे डाली। जिसमें 25 मई को 12 बजे आने का समय दिया गया। नीरज भारती तय समय से लगभग 15 मिनट पहले अपने कार्यकर्ताओं के साथ पहुंच गए। उसके बाद चुनौती देने वालों को सामने आने को कहने लगे, जिसका बाकायदा सोशल मीडिया पर लाइव भी किया गया।


इसी बीच जवाली पुलिस की टीम डीएसपी ज्ञान चंद की अगुवाई में मौके पर पहुंची, जो उन्हें मनाने लगी। वहीं, एसडीएम जवाली अरुण कुमार शर्मा भी मौके पर पहुंच गए। बताया जा रहा है कि पूर्व सीपीएस नीरज भारती व भाजपा कार्यकर्ता के बीच फेसबुक पर काफी दिनों से बहसबाजी चल रही थी। इसी के बीच दोनों पक्षों में फेसबुक पर अश्लील भाषा का प्रयोग भी शुरू हो गया।

एसडीएम जवाली अरुण कुमार शर्मा, डीएसपी जवाली ज्ञान चंद ठाकुर, एसएचओ जवाली नीरज राणा ने पूर्व सीपीएस नीरज भारती को मनाने की काफी कोशिश की, लेकिन नीरज भारती काफी देर तक बोलते रहे कि यहां किसी की गुंडागर्दी नहीं चलने दी जाएगी। इतनी ही देर में भाजपा कार्यकर्ता गैस एजेंसी के पास पहुंच गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों के बीच हाथापाई शुरू हो गई।

पुलिस ने काफी जद्दोजहद करके दोनों गुटों को अलग-अलग करवा दिया। इसके उपरांत भी भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ता दोनों ओर से नारेबाजी करते रहे, जिसके कारण थोड़ी देर जाम लग गया। पुलिस को वाहनों की आवाजाही सुचारु बनाए रखने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। एएसपी कांगड़ा राजेश कुमार ने कहा कि पुलिस जांच कर रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X