बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

तहकीकात : वजीर के हत्यारों की तलाश में जम्मू और अमृतसर में छापे, कई जगह दबिश

अमर उजाला नेटवर्क, जम्मू/नई दिल्ली।  Published by: दुष्यंत शर्मा Updated Sat, 11 Sep 2021 02:00 AM IST

सार

डॉक्टरों के बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम, सीसीटीवी फुटेज में हरप्रीत व हरमीत की फ्लैट में मौजूदगी मिली। बेटे के कनाडा से पहुंचने के बाद लेडी हार्डिंग अस्पताल में किया गया नेकां नेता के शव का पोस्टमार्टम। 
विज्ञापन
टीएस वजीर
टीएस वजीर - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

नेशनल कांफ्रेंस के पूर्व एमएलसी त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्या में शामिल दो संदिग्धों हरप्रीत सिंह और हरमीत सिंह की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा टीम ने जम्मू और अमृतसर में शुक्रवार को छापे मारे। आरोपियों की धरपकड़ के लिए दो टीमें जम्मू और एक टीम अमृतसर में है। कुछ टीमें दिल्ली में भी जांच कर रही हैं। अब तक की जांच में खुलासा हो गया है कि हरप्रीत ने अपने दोस्त हरमीत के साथ मिलकर त्रिलोचन सिंह की हत्या की है। 
विज्ञापन


क्राइम ब्रांच के अधिकारियों के मुताबिक, कनाडा से बेटे करण के दिल्ली पहुंचने के बाद शुक्रवार शाम लेडी हार्डिंग अस्पताल में त्रिलोचन सिंह के शव का पोस्टमार्टम किया गया। इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। उधर, क्राइम ब्रांच की एक टीम ने घटनास्थल पर जाकर छानबीन की। पुलिस टीम ने घटनास्थल के आसपास की सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। इसमें आरोपी हरप्रीत सिंह और हरमीत दिखाई दे रहे हैं। पुलिस का कहना है कि हत्या के बाद से ही दोनों के मोबाइल फोन बंद हैं। पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिए जम्मू, अमृतसर के अलावा दिल्ली में कई जगहों पर दबिश दे रही है।


हरप्रीत की गर्लफ्रेंड से होगी पूछताछ
क्राइम ब्रांच की टीम हरप्रीत की गर्लफ्रेंड से भी पूछताछ करेगी। हालांकि स्थानीय मोती नगर थाना पुलिस उसकी गर्लफ्रेंड से पूछताछ कर चुकी है। मोती नगर थाना पुलिस की पूछताछ में हरप्रीत की गर्लफ्रेंड ने बताया कि हरप्रीत के पास उसका कुछ सामान था। वह इसे लेने के लिए आई थी। उसने बताया कि हरप्रीत के जाने के बाद उसकी कोई बातचीत नहीं हुई है। पुलिस आरोपियों के फोन कॉल डिटेल के जरिये इस बात का पता लगा रही है कि घटना से पहले और बाद में उनकी किन लोगों से बात हुई है। हालांकि हत्या किस मकसद से की गई, इसका खुलासा पुलिस अभी तक नहीं कर पाई है।

जुलाई में भी रची थी हत्या की साजिश
सूत्रों ने बताया कि दो टीमें जम्मू, एक अमृतसर तथा कुछ टीमें दिल्ली में आरोपियों की तलाश कर रही है। पुलिस के अनुसार जिस फ्लैट में हत्या हुई वह जनवरी में किराए पर लिया गया था। मकान मालिक को बताया गया था कि 10 सितंबर को इसे खाली कर दिया जाएगा। पुलिस के अनुसार हत्या की साजिश जुलाई में रची गई थी, लेकिन उस समय उसे अंजाम नहीं दिया जा सका। 

पत्नी से वीडियो कॉल के दौरान हरप्रीत भी वजीर के था साथ
पुलिस सूत्रों ने बताया कि हरप्रीत एक पत्रकार के रूप में वजीर से दिल्ली में मिला था। उसने बताया कि वह एक अखबार तथा वेबसाइट चलाता है जिसका बड़ा पाठक वर्ग है। उसने इंटरव्यू के लिए भी कहा था। इस दौरान उसने वजीर से फ्लैट पर ही रुकने के लिए कहा था। हरप्रीत ने एयरपोर्ट तक छोड़ने के लिए कहा था। बताते हैं कि फ्लाइट पकड़ने से पहले वजीर ने अपनी पत्नी से वीडियो कॉल पर बात की थी। इस दौरान हरप्रीत भी वजीर के साथ था। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

त्रिलोचन सिंह का कातिल फोन पर कबूल कर चुका है वारदात

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X