विज्ञापन
विज्ञापन

शिक्षण संस्थान और तीन फैक्टरियों में लगी आग से हड़कंप

Rohtak Bureauरोहतक ब्यूरो Updated Sat, 15 Jun 2019 12:52 AM IST
ख़बर सुनें
सोनीपत/गन्नौर/राई/कुंडली। जिले में शुक्रवार को आग का तांडव मचा रहा। आग ने तीन फैक्टरियों और एक शिक्षण संस्थान को अपनी चपेट में ले लिया। गन्नौर के चिरस्मी रोड स्थित डीआईटीएम शिक्षण संस्थान में शॉर्ट सर्किट से भीषण आग लग गई। फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। शिक्षण संस्थान में अवकाश होने से बड़ा हादसा टल गया। हालांकि आगजनी के दौरान करीब 100 विद्यार्थी और 60 स्टाफ कर्मी और परीक्षा पर्यवेक्षक मौजूद थे। जिन्हें तुरंत बाहर निकाला गया। वहीं राई औद्योगिक क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण बनाने वाली कंपनी, कुंडली में फोम के गद्दे बनाने की फैक्टरी व सैदपुर की प्लाईवुड फैक्टरी में भी आग लग गई। जिससे करोड़ों का नुकसान होने की संभावना है। गद्दा फैक्टरी में रात नौ बजे आग पर काबू पाया जा सका था।
विज्ञापन
विज्ञापन
डीआईटीएम में लगी भीषण आग : गन्नौर के चिरस्मी रोड स्थित डीआईटीएम इंजीनियरिंग कॉलेज में सेमिनार हॉल और कंप्यूटर लैब में आग लग गई। आग लगने का कारण शार्ट-सर्किट बताया जा रहा है। कंप्यूटर लैब से धुआं उठता देख कॉलेज स्टाफ ने शोर मचाकर सभी को अवगत कराया। हालांकि तब तक आग भीषण रुप धारण कर चुकी थी। आग की सूचना के बाद गन्नौर और समालखा से फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।
शिक्षण संस्थान में रखे फायर सिलिंडर मिले एक्सपायरी डेट : कॉलेज निदेशक अर्चना कुमार ने बताया कि आग से कंप्यूटर लैब में रखे करीब 500 कंप्यूटर, एलईडी, यूपीएस, हजारों कुर्सी, 25 एसी और पंखे समेत अन्य कीमती सामान जल गया। इससे कॉलेज को भारी नुकसान हुआ है। बिल्डिंग भी क्षतिग्रस्त हो गई। आगजनी पर काबू पाने के लिए कर्मियों ने अपने स्तर पर प्रयास किया था, लेकिन काबू नहीं पा सके। शिक्षण संस्थान में रखे कई फायर सिलिंडर एक्सपायरी डेट के मिले। जिससे आग पर काबू नहीं पाया जा सका।
छुट्टी के चलते बड़ा हादसा टला : इंजीनियरिंग कॉलेज में आगजनी के दौरान कॉलेज में अवकाश था। वरना बड़ा हादसा हो सकता था। जिस बी-ब्लॉक में आग लगी थी उसमें सेमिनार हाल व लैब थी। उस बिल्डिंग के दूसरी साइड में विद्यार्थियों का प्रेक्टिकल चल रहा था। साथ ही आगजनी के दौरान ज्यादातर बच्चे प्रेक्टिकल देकर जा चुके थे। कॉलेज में करीब 100 विद्यार्थी, 50 स्टाफ कर्मी व 10 परीक्षा पर्यवेक्षक थे। छुट्टी नहीं होती तो बड़ा हादसा होने से कोई नहीं रोक सकता था।
इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण बनाने वाली कंपनी में लगी आग : राई औद्योगिक क्षेत्र स्थित 1485 नंबर इलेक्ट्रॉनिक्स फैक्टरी में अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। कायनोटेक इंडस्ट्रीज लिमिटेड फैक्टरी में शुक्रवार तड़के करीब चार बजे आग लग गई। मामले से मालिक दिल्ली निवासी सुनील ग्रोवर व फायर ब्रिगेड को अवगत कराया गया। मौके पर राई, कुंडली, सोनीपत, सेक्टर-7 गन्नौर और पानीपत से आई अग्निशमन की 14 गाड़ियों ने छह घंटे में आग पर काबू पाया। आग से फैक्टरी मालिक को करोड़ों का नुकसान हुआ है। फैक्टरी कर्मियों का आरोप है कि तड़के चार बजे सूचना के बाद भी फायर ब्रिगेड की गाड़ियां करीब पांच बजे पहुंच सकी। उद्योगपति महेंद्र गोयल, भूपेंद्र चौधरी, राकेश, परमहंस सोलंकी, अरविंद मनचंदा ने बताया कि बार-बार मांग के बाद भी राई व कुंडली में फायर स्टेशन की सुविधा नहीं मिल सकी है। जिससे उनका नुकसान कई गुणा बढ़ जाता है।
चौकीदार की सतर्कता से बची सो रहे कर्मियों की जान : रात को फैक्टरी बंद होने के बाद अंदर ही तीन कर्मचारी अंकित, सूरज और संतोष सो रहे थे। चौकीदार विनोद ने आग लगी देखी तो उसने तुरंत अंदर सो रहे कर्मचारियों को जगाकर उनको बाहर निकाला। जिसके कुछ देर बाद ही आग की लपटों ने फैक्टरी को अपनी चपेट में ले लिया था।
प्लाईवुड फैक्टरी में आग के कारणों का नहीं चला पता : खरखौदा के सैदपुर से रामपुर मोड़ स्थित अमित डांसी फीड प्लाइवुड फैक्टरी में आग लग गई। फैक्टरी के चैंबर में शुक्रवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे अज्ञात कारणों से आग लग गई। इस दौरान मौके पर काम कर रहे दर्जनों कर्मचारियों ने जब चैंबर में आग लगी देखी तो तत्परता दिखाते हुए फैक्टरी में मौजूद अग्निशमन यंत्रों व पानी की सहायता से आग पर काबू पाया। सूचना पाकर सैदपुर चौकी प्रभारी संजय कुमार भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि फैक्टरी के कर्मचारियों ने ही आग पर काबू कर लिया था। हालांकि फैक्टरी में काफी नुकसान हुआ है।
गद्दा फैक्टरी में भीषण आग, आसमान में छाया काले धुएं का गुब्बार : कुंडली औद्योगिक क्षेत्र स्थित फोम के गद्दे बनाने की फैक्टरी में शुक्रवार दोपहर करीब दो बजे आग लग गई। फैक्टरी में आग पर काबू पाने के लिए सोनीपत, कुंडली, पानीपत व नरेला से आई 18 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां लगी थी। रात को नौ बजे आग पर काबू पाया जा सका। आग लगने के कारणों का पता नहीं लग सका है। फोम में आग लगने से कंपनी मालिक को करोड़ों का नुकसान हुआ है। आग पर काबू पाने में दिल्ली से मंगाई गई फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने काफी मदद की, जिससे सात घंटे में काबू पाया जा सका।
धुएं के गुबार से लोगों को सांस लेने में हुई दिक्कत : फोम की फैक्टरी में लगी आग से आसपास के क्षेत्र में धुआं फैल गया। जिससे लोगों को सांस लेने में भी दिक्कत होने लगी थी। लोग मुंह पर कपड़ा बांधकर घूमते दिखाई दिए। लोगों को सांस लेेने में काफी तकलीफ हो रही थी। जिससे चलते आसपास की कंपनियों में भी शाम को समय से पहले ही छुट्टी कर दी गई।
सरकार कुंडली में फायर स्टेशन स्थापित करे। नहीं तो कुंडली औद्योगिक क्षेत्र को ही बंद कर दे। लगातार कंपनी मालिकों को करोड़ों का नुकसान हो रहा है। उसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। सरकार जल्द नहीं चेती तो इसे लेकर आंदोलन चलाया जाएगा। - सुभाष गुप्ता, प्रधान, कुंडली औद्योगिक एसोसिएशन।

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

क्या आपकी नौकरी की तलाश ख़त्म नहीं हो रही? प्रसिद्ध करियर विशेषज्ञ से पाएं समाधान।
Astrology

क्या आपकी नौकरी की तलाश ख़त्म नहीं हो रही? प्रसिद्ध करियर विशेषज्ञ से पाएं समाधान।

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

हरियाणा कांग्रेस में फिर गुटबाजी आई सामने, राहुल गांधी के जन्मदिन पर अशोक तंवर का बड़ा बयान

कांग्रेस भवन में पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का जन्मदिन मनाया गया।

20 जून 2019

विज्ञापन

50 मेधावी छात्रों को अमर उजाला ने किया भविष्य ज्योति सम्मान से सम्मानित

अमर उजाला ने हिमाचल प्रदेश के मंडी में 50 मेधावी बच्चों को अमर उजाला भविष्य ज्योति सम्मान से सम्मानित किया। बच्चों को सम्मान में मेडल और प्रशस्तिपत्र दिए गए। इस दौरान एडीसी मंडी आशुतोष गर्ग मुख्य अतिथि रहे।

20 जून 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election