पुलिस हिरास में युवक मौत मामला:

Rohtak Bureau Updated Sat, 11 Nov 2017 12:50 AM IST
अमर उजाला ब्यूरो
रानियां।
वर्ष 2016 में करीवाला पुलिस चौकी में हुई एक युवक की मौत के मामले में न्यायालय के निर्देश पर हिसार रेंज के आईजी और तीन जिलों के एसपी जांच के लिए रानियां विश्राम गृह पहुंचे और मृतक के परिजनों से बातचीत की और उनके बयान दर्ज किए।
हिसार रेंज के आईजी अमिताभ ढिल्लो पवन हत्याकांड की जांच को लेकर शुक्रवार को रानियां किसान विश्राम गृह पहुंचे। उनके साथ सिरसा एसपी अश्वनी शैणवी, हिसार की एसपी मनीषा चौधरी, फतेहबाद के एसपी कुलदीप सिंह भी मौजूद रहे। गांव बाहिया के पवन कुमार पुत्र गोपीराम की मौत वर्ष 2016 में करीवाला पुलिस चौकी में हिरासत के दौरान हो गई थी। मृतक के परिजनों ने करीवाला पुलिस चौकी प्रभारी सहित दो पुलिस कर्मचारियों पर पुलिस हिरासत में पवन की हत्या करने का आरोप लगाया था। मृतक के परिजनों ने न्यायालय में केस दायर कर मामले की उच्चस्तरीय जांच कर आरोपी पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।
जांच के लिए की थी एसआईटी गठित
न्यायालय के आदेश पर जांच के लिए एसआई़टी का गठन किया गया था। जांच का जिम्मा हिसार रेंज के आईजी अमिताभ ढिल्लो को सौंपा गया था। इस टीम में हिसार के एसपी मनीषा चौधरी, फतेहबाद के एसपी कुलदीप सिंह को शामिल किया गया था। पुलिस अधिकारियों ने केस का गहनता से निरीक्षण किया और मृतक के चाचा भगवाना राम, पिता गोपीराम से पूछताछ की और उनके बयान कलमबद्ध किए। पुलिस उच्चाधिकारियों ने फोरेंसिक एक्सपर्ट डॉ. अजमेर सिंह से भी इस केस के संबंध में रिपोर्ट ली।
ये है मामला
करीवाला पुलिस चौकी के पुलिसकर्मियों ने चोरी के केस में गांव बाहिया निवासी पवन कुमार पुत्र गोपीराम व संदीप को गिरफ्तार किया था। पवन की पुलिस कस्टडी की मौत हो गई थी। युवक की मौत को लेकर परिजनों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना दिया था। उन्होंने पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगाया था। परिजनों के अनुसार पवन की गिरफ्तारी के बाद वे देर रात्रि तक पवन से मिलने गए थे तब वह ठीकठाक था। लेकिन जब वे घर चले गए तो पीछे से पुलिसकर्मियों ने उसकी हत्या कर दी और फांसी पर लटका दिया। सुबह बिना किसी परिजनों को बुलाए व सरपंच को बुलाया फांसी से उतारकर उसका पोस्टमार्टम के लिए शव को ले गए थे। बाद में परिजनों की शिकायत पर चौकी प्रभारी सहित तीन पर केस दर्ज हुआ था।

तीन जिलों के एसपी के साथ आईजी पहुंचे रानियां
पुलिस हिरास में युवक की मौत का मामला
अदालत के आदेश पर शुरू हुई जांच, परिजनों के बयान किए दर्ज
-----------------------------
फोटो:14:15

Spotlight

Most Read

Lucknow

प्रेम प्रसंग में युवती को जान से मारने का प्रयास, मौके पर पहुंची पुलिस ने बचायी जान

राजधानी के विभूतिखंड थाना क्षेत्र में लोहिया अस्पताल के कर्मचारी आवास में समय पर पहुंची पुलिस ने एक युवती की जान बचा ली।

21 फरवरी 2018

Related Videos

61 दिन बाद डेरा लौटा राम रहीम का शाही परिवार, बेटे ने संभाली कमान

साध्वियों से रेप मामले में जेल में बंद डेरा प्रमुख राम रहीम का शाही परिवार अपने डेरा परिसर में वापस लौट आया है। 25 अगस्त को राम रहीम के दोषी करार होने के बाद से ही परिवार ने डेरा छोड़ दिया था।

29 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen