बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

फर्जी आंसर की के बहाने लाखों की ठगी का खेल

ब्यूरो/अमर उजाला, रोहतक Updated Sat, 12 Dec 2015 11:05 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
एसएससी आंसर की लीक मामले में एसएससी आयोग ने अपनी रिपोर्ट भेज दी है। आयोग की ओर से पुलिस को भेजी रिपोर्ट में आंसर की को पुराने पेपर की बताई गई है। वहीं पुलिस का कहना है कि पकड़े गए तीनों आरोपी फर्जी आंसर की के बहाने अभ्यर्थियों से लाखों रुपये हड़पने की योजना बना रहे थे।
विज्ञापन


 हालांकि महम नाके से पकड़ा गया तीसरा आरोपी बिजेंद्र उर्फ मास्टर ने पहले ही कह दिया था कि आंसर की 2013 के पेपर की है। वहीं मामले में मुख्य आरोपी आसन गांव का छोटा अभी तक पुलिस की गिरफ्त से दूर है।


 
जांच अधिकारी राजेश जांगड़ा ने बताया कि आयोग को करीब पांच दिन पहले आरोपियों से बरामद आंसर की मिलान के लिए भेजी गई थी। एक दिन पहले ही आयोग ने अपनी रिपोर्ट भेजी है। आयोग द्वारा भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों से बरामद की एसएससी की पूर्व में आयोजित हो चुकी परीक्षा की थी।

छोटा के गैर जमानती वारंट जारी
वहीं, मामले मेें पुलिस को छका चुके  आरोपी आसन निवासी छोटा के गैर जमानती वारंट जारी कर दिये गए हैं। जांच अधिकारी राजेश जांगड़ा ने बताया कि कई बार आरोपी को पूछताछ का नोटिस भेजने के बाद भी वह नहीं आया। इस पर कोर्ट में अप्लीकेशन लगाकर उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करवाए गए है।

ये था मामला
करीब दो महीने पहले देशभर में एसएससी की तरफ से परीक्षा हुई थी। परीक्षा आंसर की के शक में पुलिस ने  मदीना के नवीन और किशनगढ़ के दिलबाग सिंह को गिरफ्तार किया था। दिलबाग सिंह ने एक-एक लाख रुपये में आंसर की का सौदा किया था।

आरोपियों से पूछताछ के बाद बड़ाली गांव के बिजेंद्र को भी गिरफ्तार किया था। वहीं मुख्य आरोपी आसन गांव का छोटा अभी तक फरार है। पुलिस ने एसएससी को आंसर की पुष्टि के लिए भेजी थी।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X