आम आदमी पार्टी का सदस्य निकला ‘खास’ ठग

अमर उजाला, गाजियाबाद Updated Sat, 25 Jan 2014 01:08 PM IST
Thug arrested
क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को पुलिस आफिस में तैनात सिपाही विवेक राणा के साथ सतीश नाम के ऐसे ठग को गिरफ्तार किया है, जो आम आदमी पार्टी का सदस्य है और जनलोकपाल आंदोलन में जेल भी जा चुका है। खुद को जज, पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी और राजनीतिक पार्टी का पदाधिकारी बताकर अफसरों को फोन कॉल कर काम कराता था।

चार सालों में 100 से ज्यादा पुलिसवालों के ट्रांसफर-पोस्टिंग करा चुका है। विवेक के अलावा उसके कहने से पोस्टिंग किए गए एक दरोगा और चार सिपाहियों को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया है।

13 और पुलिसवालों के नाम सामने आए हैं, जिनकी जांच की जा रही है। उसके पास गाजियाबाद-एनसीआर में करोड़ों की प्रॉपर्टी है। 13 मकानों के बैनामे, दो मोबाइल और कागजात मिले हैं। इसी तरह की ठगी में वह वर्ष 2010 में बागपत से जेल भी जा चुका है।

एसएसपी धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि सतीश बुलंदशहर के शिकारपुर थाना क्षेत्र के वैरीना का रहने वाला है। कई सालों से अपना मकान बनाकर महेंद्रा एंक्लेव में रह रहा था। उसने एक दिसंबर 2013 को एडीजे बताकर विजयनगर एसओ हरदयाल यादव को फोन कर पैसे मांगे थे। न देने पर उसे पद से हटवाने की धमकी दी थी।

इसी तरह उनके (एसएसपी) के पास भी सिपाहियों की पोस्टिंग के लिए कई कॉल की थी। संदेह होने पर क्राइम ब्रांच से जांच कराई गई तो फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। उससे बरामद फोन और सिम की जांच से पता चला कि उसने कुछ दिनों में ही 214 अधिकारी और जजों को सैकड़ों बार कॉल की है। सतीश के पास से ‘आप’ की सदस्यता रसीद मिली है। उससे बरामद सिम फर्जी आईडी पर हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू यादव को तीसरे केस में 5 साल की सजा, कोर्ट ने 10 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

गुरुग्राम में धारा 144 लागू, ‘पद्मावत’ देखने जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शन और विवाद को देखते हुए गुरुग्राम में धारा 144 लगा दी गई है।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls