विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

चंडीगढ़

रविवार, 19 जनवरी 2020

चंडीगढ़: न शोरूम दिया और न रकम, सिटी सेंटर के पूर्व डायरेक्टर ने की 50 लाख की धोखाधड़ी

जीरकपुर के एक बड़े बिल्डर विजय जिंदल के खिलाफ पुलिस ने लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में केस दर्ज किया है। आरोप है कि बिल्डर विजय जिंदल ने 50 लाख रुपये लेकर शिकायतकर्ता को न शोरूम दिया और न रुपये वापस किए। इसके बाद शिकायतकर्ता ने मामले की शिकायत जिला मोहाली पुलिस के एसएसपी कुलदीप चहल को दे दी।

उन्होंने अपनी पड़ताल के बाद धोखाधड़ी की धाराओं के तहत सोमवार को केस दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश किया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में पटियाला जेल भेज दिया गया।

चंडीगढ़ सेक्टर-18 के रहने वाले अजय कुमार वधवा ने पुलिस को बताया कि 2016 में उसने वीआईपी रोड पर स्थित एक ग्रुप के कामर्शियल प्रोजेक्ट में एक शोरूम देखा था। यह पसंद करने के बाद ग्रुप के तत्कालीन डायरेक्टर विजय जिंदल के साथ 50 लाख रुपये में सौदा तय हुआ था।

शिकायतकर्ता अजय वधवा ने बताया कि रकम की अदायगी के बाद बिल्डर विजय जिंदल ने 12 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न देने का जो वादा किया था, उसका 6 प्रतिशत शोरूम के कब्जे से पहले और बाकी 6 प्रतिशत शोरूम के कब्जे के बाद था। कुछ महीनों की अदायगी के बाद बिल्डर ने वार्षिक रिटर्न की रकम देना बंद कर दिया।

बिल्डर से संपर्क साधा तो उसने 50 लाख रुपये की रकम का एक चेक दे दिया, जिसको कैश करवाने के लिए बैंक में लगाया तो वह बाउंस हो गया। वहीं, बाद में शिकायतकर्ता ने बिल्डर से संपर्क साधकर अपने पैसे वापस करने की मांग की तो उसने आनाकानी शुरू कर दी।

वहीं, तीन वर्ष बीतने के बाद जब बिल्डर ने उसके पैसे नहीं लौटाए तो इसने मामले की लिखित शिकायत मोहाली पुलिस एसएसपी कुलदीप चहल को दी। ईओ विंग ने अपनी पड़ताल पूरी करने के बाद केस दर्ज करने के आदेश दिए। जांच अधिकारी गुरमीत सिंह ने बताया कि अजय वधवा की शिकायत पर पुलिस ने बिल्डर विजय जिंदल खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं तहत केस दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

चंडीगढ़ः शादी तय होने बाद प्रेमिका संग मॉल में घूम रहा था, मंगेतर और परिजनों ने कर दी धुनाई

एलांते मॉल चंडीगढ़ की पार्किंग के पास उस वक्त हंगामा हो गया, जब कुछ लोगों ने एक युवक-युवती की पिटाई करनी शुरू कर दी। पुलिस जांच में सामने आया कि दोनों की पिटाई करने वाले लोग लड़के और उसकी मंगेतर के परिवार के लोग हैं। इसके बाद युवक की प्रेमिका ने सूचना अपने परिवार को दी।

सूचना मिलते ही परिवार के सदस्य मौके पर पहुंच गए और बाद में दोनों तरफ से आए परिवारों के बीच जमकर हाथापाई हुई। इंडस्ट्रियल थाना पुलिस ने दोनों पक्षों के विकास, सौम्या, कल्पना, कृष्णा, मनीषा, प्रियंका, संजीव कुमार, पूजा शबनम, गयासुद्दीन, सोहिब, महबूब और चांदनी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पुलिस को दी शिकायत में हेड कांस्टेबल धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि उसकी ड्यूटी इंडस्ट्रियल एरिया स्थित एलांते मॉल पुलिस बीट बॉक्स में है। बीते रविवार को बीट में वह और तैनात लेडी कांस्टेबल दीपिका व कांस्टेबल रोहताश बीट के बाहर बैठे थे। दोपहर करीब 2.30 बजे पार्किंग के पास दो गुट आपस में लड़ाई-झगड़ा कर रहे थे।

पुलिस टीम मौके पर पहुंची और सभी बीट बॉक्स में लेकर आई। जांच में पाया कि विकास (22) अपनी दोस्त सौम्या के साथ एलांते मॉल की पार्किंग में खड़ा था। तभी विकास की बहन कल्पना, मां कृष्णा, उनका साथी मनीषा, प्रियंका, संजीव कुमार सरेआम विकास और सौम्या को पीटने लगे।

पुलिस जांच में सामने आया कि विकास का रिश्ता मनीषा के साथ तय हुआ था और कुछ दिन बाद दोनों की मंगनी और शादी की बात दोनों परिवार के बीच तय हो चुकी थी। रविवार को विकास अपनी प्रेमिका सौम्या के साथ एलांते मॉल की पार्क़िग में खड़ा था।

इस दौरान विकास और मनीषा के परिवार के सदस्य वहां पहुंचकर दोनों की धुनाई कर डाली। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर किसी तरह मामला शांत किया। बाद में सौम्या के परिवार का परिवार भी मौके पर पहुंच गया। इसके बाद मौके पर मौजूद दोनों तरफ के लोगों के बीच जमकर हंगामा होना शुरू हो गया।
... और पढ़ें

फॉर्च्यूनर ने होंडा सिटी कार मारी टक्कर, 20 मीटर घिसटती चली गई और फिर ग्रिल में जा घुसी

चंडीगढ़ में मटका चौक पर तेज रफ्तार फॉर्च्यूनर ने एक होंडा सिटी को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार करीब 20 मीटर घसीटती चली गई। मामले की सूचना सेक्टर 3 थाना पुलिस को दी गई। मौके से फॉर्च्यूनर गाड़ी की नंबर प्लेट मिली है। इसे जब्त कर पुलिस छानबीन में जुट गई है।

होंडा सिटी कार (सीएच01एएक्स 6572) के चालक गुजराल सिंह ने बताया कि वह सेक्टर-7 निवासी है। वह किसी काम से गए थे। रात को सेक्टर-16 स्टेडियम चौक की तरफ से सेक्टर-7 अपने घर लौट रहे थे। मटका चौक पर पहुंचे तो उनकी कार को किसी वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी।

टक्कर मारकर चालक वाहन समेत फरार हो गया, जबकि उनकी कार करीब 20 मीटर तक घिसटती हुई रोड के किनारे लगी लोहे की ग्रिल में जा घुसी। गनीमत रही कि इस हादसे में किसी को जानी नुकसान नहीं हुआ। पुलिस ने जांच की तो सामने आया कि यह नंबर मोहाली निवासी करनैल सिंह के फॉर्च्यूनर कार का है।
... और पढ़ें

अंबालाः विद्यार्थियों से भरे ऑटो को इनोवा ने मारी टक्कर, तीन बच्चे घायल, एक को लगीं ज्यादा चोटें

स्कूली विद्यार्थियों से भरे ऑटो को एक इनोवा ने टक्कर मारी दी। टक्कर लगने के बाद ऑटो पलट गया और तीन बच्चे घायल हो गए। हादसा हरियाणा के अंबाला शहर में देवी नगर में सब्जी मंडी के पास पेट्रोल पंप पर हुआ। तीनों बच्चे देवी नगर के मिडिल स्कूल में पढ़ते हैं।

तीनों बच्चों में सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली कोमल को सबसे ज्यादा चोटें आई हैं, जबकि पहली कक्षा में पढ़ने वाले दलजीत और तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली भावना को भी चोटें लगीं। बताया जा रहा है कि जिस गाड़ी ने ऑटो को टक्कर मारी, उसे अंबाला के टोल प्लाजा पर पकड़ लिया गया और गाड़ी में से शराब की बोतलें भी बरामद हुई हैं।

बच्चों के दादा चला रहे थे ऑटो
हादसे में घायल तीनों बच्चों के दादा धर्मपाल ऑओ को चला रहे थे। धर्मपाल ने बताया कि जैसे ही वह सब्जी मंडी के नजदीक पहुंचे तो तेज रफ्तार से आ रही इनोवा ने ऑटो को टक्कर मार दी। टक्कर लगने से ऑटो अनियंत्रित होकर पलट गया, हालांकि हादसे में धर्मपाल को चोट नहीं आई, लेकिन बच्चे घायल हो गए। लोगों की मदद से उन्होंने बच्चों को अंबाला शहर के नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया।

सीटीएम सहित शिक्षा विभाग के डिप्टी डीईओ मौके पर पहुंचे
हादसे की सूचना मिलते ही सिटी मजिस्ट्रेट कपिल शर्मा, डिप्टी डीईओ सुधीर कालड़ा, देवी नगर मिडिल स्कूल की मुख्य अध्यापिका राजेंद्र कौर, शिक्षक नरेंद्र और हरमीत कौर मौके पर पहुंचे और बच्चों का हालचाल जाना।
... और पढ़ें
हादसे में घायल बच्ची हादसे में घायल बच्ची

एजी नंदा को लेकर बाजवा ने कैप्टन को लिखा पत्र, मिला जवाब- किंतु-परंतु करना आपका काम नहीं

पंजाब के एडवोकेट जनरल अतुल नंदा पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ द्वारा उठाए गए सवालों के बाद यह मामला तूल पकड़ने लगा है। शुक्रवार को पार्टी के पूर्व प्रधान प्रताप बाजवा ने मुख्यमंत्री के नाम एक पत्र लिखकर एजी अतुल नंदा की नियुक्ति पर सवाल उठाए और उन्हें हटाने की मांग की। 

इस पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बाजवा को दो-टूक जवाब देते हुए कहा कि एजी के कामकाज पर किंतु-परंतु करने का आपका काम नहीं है। दूसरी ओर, एजी अतुल नंदा ने कहा है कि वे अपने पद से इस्तीफा नहीं देंगे। वहीं, उन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह के शाम को मुलाकात करते एक पत्र सौंपा है। इससे पहले शुक्रवार को दिन भर अतुल नंदा के इस्तीफे की चर्चा जोरों पर रही।

मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में बाजवा ने कहा कि परिवारवाद प्रदेश के हितों के खिलाफ है और अतुल नंदा की एजी के तौर पर नियुक्ति इसकी मिसाल है कि उन्हें इसीलिए नियुक्त किया गया क्योंकि वे मुख्यमंत्री के करीबी हैं। उन्होंने लिखा कि एजी की अयोग्यता इससे भी साबित होती है कि विभिन्न फौजदारी मामलों में वे प्रदेश के हितों की रक्षा करने में असफल रहे। बाजवा ने अपने पत्र में कई केसों का उल्लेख भी किया।

बाजवा के पत्र के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बयान जारी कर एजी नंदा को हटाने की मांग को बेतुका और अनुचित बताते हुए प्रताप बाजवा से कहा कि वह मेरी सरकार के कामकाज से बाहर रहें, जिसके बारे में वे पूरी तरह अंजान हैं। मुख्यमंत्री ने बाजवा के पत्र को सियासी शोहरत कमाने के लिए तिलमिलाने की निशानी बताया। 

कैप्टन ने कहा, ‘‘मुझे एडवोकेट जनरल में पूर्ण विश्वास है।’’ बाजवा के पत्र पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अतुल नन्दा की काबिलियत को समझने के आप न तो समर्थ हो और न ही योग्य और जिन मसलों संबंधी आपको कुछ पता ही नहीं है, उन पर किंतु-परंतु या दखलअंदाजी करने का आपका कोई मतलब नहीं।’’
... और पढ़ें

100 मी की दूरी पर पुलिस चौकी, बेखौफ चोर उखाड़ ले गए 27.54 लाख से भरा एटीएम

जीटी रोड स्थित बहालगढ़ चौक पर बदमाश शटर का ताला काटकर 27.54 लाख रुपये की नकदी से भरा एटीएम चोरी कर ले गए। वारदात बहालगढ़ चौकी से महज 100 मीटर की दूरी पर हुई। चोरों ने एटीएम के सीसीटीवी पर स्प्रे मारकर वारदात को अंजाम दिया। मामले की सूचना के बाद पहुंची बहालगढ़ चौकी पुलिस ने मौके का निरीक्षण किया। पुलिस ने एटीएम कंपनी के ब्रांच मैनेजर के बयान पर चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस चोरों तक पहुंचने के लिए आसपास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी खंगाल रही है।

फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कॉलोनी के रहने वाले नितिन गुलेरिया ने राई थाना पुलिस को बताया कि वह दिल्ली के पड़पड़ गंज स्थित सीसीएस कंपनी में ब्रांच मैनेजर है। उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी एटीएम की सुरक्षा, रखरखाव व नकदी डालने का काम करती है। उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी ने बहालगढ़ चौक पर एचडीएफसी का एटीएम लगा रखा है। वीरवार रात को चोरों ने एटीएम के बाहर लगे शटर का ताला काट दिया और अंदर से नकदी से भरे पूरे एटीएम को ही उखाड़कर चोरी कर ले गए।

उन्होंने बताया कि एटीएम पर सुबह 7 बजे से रात 10 बजे तक सुरक्षा गार्ड तैनात रहता है। वीरवार रात दस बजे सुरक्षा गार्ड ताला लगाकर गया था। शुक्रवार सुबह जब वह एटीएम पर पहुंचा तो वहां पर एटीएम का शटर खुला था। उसने अंदर जाकर देखा तो पाया कि वहां पर एटीएम ही नहीं था। उसने मामले से अधिकारियों को अवगत कराया। जिस पर पुलिस को सूचित किया गया।

सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने जांच की तो एटीएम के अंदर व बाहर लगे सीसीटीवी पर स्प्रे मारने के साथ ही उन्हें क्षतिग्रस्त किया गया था। जांच में पता लगा कि एटीएम के अंदर 27 लाख 54 हजार 500 रुपये की नकदी थी। जिस पर पुलिस को शिकायत दी गई। राई थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। साथ ही सीसीटीवी भी खंगाले जा रहे हैं। नितिन गुलेरिया ने बताया कि कंपनी ने एक दिन पहले ही एटीएम में 20 लाख रुपये डाले थे। बाकी राशि पहले से ही एटीएम में थी। एटीएम की कीमत भी करीब 20 लाख रुपये है। इससे कंपनी को भारी नुकसान हुआ है।
बहालगढ़ चौक स्थित एचडीएफसी के एटीएम को चोर नकदी सहित उठा ले गए। मुकदमा दर्ज कर लिया है। चोरों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द उनका पता लगाकर गिरफ्तार किया जाएगा। -अशोक कुमार, थाना प्रभारी राई।
 
 
... और पढ़ें

पंजाब में पाक का नापाक खेल जारी, बीएसएफ ने पकड़ी 40 किलो हेरोइन, चीनी हथियार भी बरामद

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आता नहीं दिख रहा है। लगातार वो अब पंजाब को अपना निशाना बना रहा है। गुरुवार को पंजाब में तीन जगहों से सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने लगभग 40 किलो हेरोइन की खेप बरामद की है। अमृतसर के अटारी सेक्टर से 12 किलो हेरोइन व हथियार मिले हैं। फिरोजपुर में भी सीएसएफ ने 5 किलो पकड़ी है। बीएसएफ को हेरोइन की सबसे बड़ी खेप गुरदासपुर में मिली। यहां पाक तस्करों द्वारा भेजी गई 23 किलोग्राम हेरोइन और चीनी हथियार भी मिले। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए बीएसएफ पूरी तरह से सतर्क है। 

फिरोजपुर में पकड़ी गई पांच हेरोइन
घनी धुंध का फायदा उठा भारत-पाक सीमा से सटे पंजाब के क्षेत्रों में पाक तस्करों ने हेरोइन की खेप भेजना शुरू कर दी है। शुक्रवार को फिरोजपुर सेक्टर से बीएसएफ ने पाकिस्तान से आई पांच किलो हेरोइन पकड़ी है। पिछले 10 दिनों में पंजाब से सटी भारत-पाक सीमा से बीएसएफ ने लगभग 47 किलो हेरोइन पकड़ी है। पाक तस्करों ने तस्करी के लिए नया रास्ता चुना है। फेंसिंग से आसानी से हेरोइन की खेप पर हो सके, इसके लिए अब 250 ग्राम के छोटे पैकेट भेजे हैं।

खुफिया सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार की सुबह फिरोजपुर सेक्टर में बीएसएफ ने पाकिस्तान से आई पांच किलो हेरोइन पकड़ी है। उक्त  हेरोइन के पैकेट फेंसिंग पार खेतों में पड़े थे। जिसे बीएसएफ ने सर्च ऑपरेशन के दौरान बरामद किया है। उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ दिनों से घनी धुंध पड़ना शुरू हुई है, इसी की आड़ में पाक तस्करों ने भारतीय तस्करों तक हेरोइन पहुंचा शुरू कर दिया है। 

सरहद पर घनी धुंध में रात के समय कुछ नजर नहीं आता है। नौ जनवरी को बीएसएफ ने अबोहर सेक्टर से हेरोइन के आठ पैकेट बरामद किए थे। जिनका वजन चार किलो आंका गया था। इसके बाद चौदह जनवरी को अबोहर सेक्टर से लगभग तीन किलो और फिरोजपुर सेक्टर से एक किलो हेरोइन मिली थी। इसके बाद बाघा और गुरदासपुर सेक्टर से लगभग 34 किलो हेरोइन पकड़े जाने की बात कही जा रही है।
... और पढ़ें

खौफनाकः मोबाइल चार्जर से पत्नी का गला घोंटा फिर ट्रेन के आगे कूदकर पति ने दी जान

पकड़ी गई हेरोइन और पिस्टल के बारे में जानकारी देते हुए बीएसएफ अधिकारी।
राजीव कालोनी सेक्टर-17 में एक युवक ने पहले पत्नी की हत्या की फिर खुद भी ट्रेन से कटकर जान दे दी। युवक मेरठ निवासी फैजान था। पुलिस के मुताबिक, वह अपनी पत्नी शब्बा खैर के चरित्र पर शक करता था। पुलिस के मुताबिक, मेरठ निवासी फैजान अपनी पत्नी शब्बा खैर के साथ काफी समय से झुग्गी नंबर 1588 में रह रहा था। उसे शक था कि उसकी पत्नी के किसी से संबंध हैं। गुरुवार सुबह दोनों में इसी बात को लेकर खूब झगड़ा हुआ। तैश में आकर फैजान ने मोबाइल चार्जर की लीड से पत्नी को गला घोंटकर मार दिया। इसके बाद वहां से निकल गया। 

सुबह करीब दस बजे पड़ोसी झुग्गी में गया तो उसने शब्बा खैर का शव पड़ा देखा। उसने सेक्टर-16 पुलिस चौकी को सूचना दी। तुरंत पुलिसकर्मी झुग्गी में पहुंचे। फोरेंसिक एक्सपर्ट से भी घटनास्थल का मुआयना करवाया गया। पुलिस ने झुग्गी से चार्जर और अन्य चीजों को कब्जे में ले लिया है। अभी पुलिस जांच कर ही रही थी कि सूचना मिली, फैजान ने भी ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली है। बहरहाल, पुलिस ने हत्या की धारा के तहत केस दर्जकर मृतकों के शव मॉर्चरी में रखवा दिए हैं। शुरुआती पुलिस जांच के मुताबिक फैजान पत्नी के चरित्र पर शक करता था। इसी कारण उसने पत्नी की हत्या कर खुदकुशी कर ली।

ट्रैक पर खड़े युवक को देख ड्राइवर ने रोकी ट्रेन, स्पीड बढ़ाई तो आगे कूद गया
अपनी पत्नी की हत्या के बाद फैजान ने अपनी जान देने का पक्का इरादा कर लिया था। यही वजह थी कि वह सीधे रेलवे ट्रैक पर पहुंचा और ट्रेन का इंतजार करने लगा। करीब 10:30 बजे लखनऊ से चंडीगढ़ सद्भावना एक्सप्रेस ट्रैक पर आ रही थी। ट्रेन जैसे ही सुंदर नगर रेलवे लाइन के पास पहुंची तो गति धीमी हो गई। 

ड्राइवर ने ट्रैक पर युवक को खड़े देखा तो हॉर्न बजाते हुए ब्रेक लगा दिए। जब तक ट्रेन युवक के पास पहुंची तो उसकी स्पीड बेहद कम हो गई। यह देख फैजान दूसरे ट्रैक पर चला गया। इसके बाद जैसे ही ट्रेन की स्पीड बढ़ी तो फैजान दौड़ते हुए आया और ट्रेन के आगे कूद गया। इस बार ड्राइवर भी कुछ न कर सका। पैर कटने के कारण फैजान के शरीर से खून बहने लगा। उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 
... और पढ़ें

शर्मनाकः बेटी से शादी करना चाहता था पिता, रखवाया करवाचौथ का व्रत, दुष्कर्म भी किया

चंडीगढ़ में रिश्ते को तार-तार करने वाला मामला सामने आया है। 35 वर्षीय सौतेले पिता ने 16 वर्षीय बेटी से शादी करने के लिए करवाचौथ का व्रत रखवाया। इतना ही नहीं, बेटी के साथ दुष्कर्म कर उसे चार महीने की गर्भवती करने का आरोप है। मामले का खुलासा उस वक्त हुआ, जब उसके पेट में दर्द हुआ। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस और चाइल्ड हेल्पलाइन को दी गई। सेक्टर-36 थाना पुलिस ने धारा 376 और 506 के तहत मामला दर्जकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

घटना वीरवार की है। जब पुलिस और चाइल्ड हेल्पलाइन टीम को इसकी सूचना मिली। इसके बाद मौके पर चाइल्ड हेल्पलाइन टीम पहुंची और बच्ची से काउंसलिंग शुरू कर दी। टीम को 16 वर्षीय किशोरी ने बयान में बताया कि उसका परिवार मूलरूप से उत्तर प्रदेश के जौनपुर का है। वह चंडीगढ़ में रहने वाले सौतेले पिता से घर का खर्चा चलाने के लिए पैसे लेने आई थी। 

आरोप है कि इस दौरान उसने धमकी देकर दुष्कर्म किया। इसके बाद चार माह से धमकी देकर दुष्कर्म करता रहा। वह किशोरी से शादी करना चाहता था। इसके लिए उसने करवाचौथ का व्रत भी जबरन रखवाया। इसके बाद किशोरी ने हिम्मत कर इसकी सूचना चाइल्ड हेल्पलाइन को दी। टीम की जांच में सामने आया कि किशोरी पांच भाई बहनों में सबसे बड़ी है। आरोपी पिछले काफी समय से चंडीगढ़ में रह रहा है। वह उत्तर प्रदेश में रहने वाले परिवार को खर्च नहीं भेजता था। वहीं, पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

मां को दो और बेटी को लगीं चार गोलियां, पुलिस को किया फोन नहीं आई तो कार चला थाने पहुंचीं

गांव सम्मेवाली में जमीन विवाद को लेकर अपनी ही बुआ और दादी पर फायरिंग कर घायल कर देने वाले नाबालिग ने करीब डेढ़ साल पहले भी अपने माता-पिता के साथ दोनों के साथ खूब मारपीट की थी। तब भी मामला थाने तक पहुंचा था और पंचायत ने दोनों पक्षों में राजनीमा करवा दिया था। इस बार आरोपी ने अपनी बुआ और दादी को प्यार के जाल में फंसाया और अपने पिता की पिस्तौल से दोनों पर जानलेवा हमला कर दिया।  

जानकारी के अनुसार गांव सम्मेवाली निवासी सुमित कौर (40)  का अपने ससुरालियों के साथ विवाद चल रहा है और वह अपनी माता सुखजिंदर कौर (70) के पास ही रह रही है। दोनों पर बुधवार को सुमित के 17 साल के भतीजे ने पिस्तौल से गोलियां दाग दीं थी। मुक्तसर के कोटकपूरा रोड स्थित निजी अस्पताल में दाखिल सुमित कौर व सुखजिंदर कौर ने बताया कि उनकी गांव में करीब चालीस एकड़ जमीन है। 

इसमें छह एकड़ सुमित, दस एकड़ सुखजिंदर और बाकी 24 एकड़ सुखजिंदर के बेटे हरिंदर के नाम पर है। जमीन पर हरिंदर ही खेतीबाड़ी करता है और उनके हिस्से की 16 एकड़ जमीन का वह उन्हें ठेका देता है मगर पिछले लंबे समय से वह दोनों को उनके हिस्से के रुपये नहीं दे रहा था। उनका केस हाईकोर्ट में चल रहा है।
... और पढ़ें

गैस एजेंसी मालिक समेत तीन को बंधक बना 1.50 लाख लूटे, अब तक पुलिस के हाथ खाली

बेअंतपुरा में बुधवार देर शाम चार नकाबपोश बदमाश गैस एजेंसी के दफ्तर में घुस गए। दफ्तर में बैठे एजेंसी मालिक और दो मुलाजिमों को पिस्तौल की बल पर बंधक बना लिया। बदमाश दफ्तर में पड़े लगभग 1.50 लाख रुपये और सोने की चेन, अंगूठी लेकर फरार हो गए। थाना मोती नगर पुलिस ने चार अज्ञात के खिलाफ मामला दर्जकर तलाश शुरू कर दी है। 

हैरानी की बात है कि बदमाश जाते समय दफ्तर में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर भी अपने साथ ले गए हैं। इससे पहले भी शहर में दो स्थानों पर इसी तरह चार नकाबपोश लूट की घटना को अंजाम दे चुके हैं। इन मामलों में पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगा है। 

हैबोवाल कलां निवासी गौरव हांडा ने पुलिस को बताया कि उनकी चंडीगढ़ रोड स्थित बेअंतपुरा में अवतार फ्लेम गैस एजेंसी का दफ्तर है। बुधवार शाम लगभग सात बजे वह दफ्तर में नकदी का हिसाब कर रहा था। उस समय चार नकाबपोश युवक दफ्तर में घुस आए। उनके हाथ में पिस्तौल था। सबसे पहले उन्होंने उसे बंधक बनाया और एक कुर्सी पर बांध दिया। 
... और पढ़ें

देश की नंबर वन गोल्फर के साथ 'घरेलू हिंसा', बोलीं- सालों से मारपीट-बेइज्जती बर्दाश्त कर रही

लगातार सात साल तक नंबर वन गोल्फर रही एरीना बराड़ के साथ घरेलू हिंसा का मामला सामने आया है। उन्होंने पति के खिलाफ शिकायत दी है। एरीना ने आरोप लगाया है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान करने लगे थे।

पुलिस ने मामले में पहले टीम गठित करके कानूनी राय ली और फिर महिला पुलिस स्टेशन ने एरीना के पति सुजान सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिय। सुजान सिंह इस समय कुवैत में हैं। लेकिन इस केस में अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है।

एरीना बराड़ ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनकी शादी वर्ष 2010 में सेक्टर-5 निवासी सुजान सिंह के साथ हुई थी। सुजान पेशे से प्रोफेशनल गोल्फर हैं और दोनों की एक बेटी भी है। शादी के बाद से उनको परेशान किया जाने लगा।

एरीना का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोग उससे दहेज मांगते हैं और नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी देते हैं। कई सालों से वह मारपीट और बेइज्जती बर्दाश्त करती आ रही है। इस वजह से वह काफी परेशान भी रहने लगी।
... और पढ़ें

लुधियाना में एएसआई की खौफनाक वारदात, साथ में चाय पिया फिर दोस्त की पत्नी को मारी गोली

थाना जमालपुर में तैनात एएसआई सुखपाल सिंह ने मंगलवार को अपने दोस्त की पत्नी को गोली मार दी। इस घटना के बाद आरोपी एएसआई घायल महिला को अपनी कार में निजी अस्पताल में भर्ती कराने ले गया। मंगलवार देर रात तक अस्पताल में ही रहा। इस दौरान घायल महिला की दोनों बेटियों को एएसआई ने धमकी दी अगर उन्होंने किसी से कुछ बताया तो वह उनके परिवार को खत्म कर देगा।

बुधवार को सुबह इस घटना का खुलासा हुआ तो हड़कंप मच गया। इस घटना के बाद आरोपी एएसआई अस्पताल से फरार हो चुका है। डिवीजन नंबर सात पुलिस ने आरोपी एएसआई के खिलाफ हत्या की कोशिश करने का मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि लगभग तीन माह पहले ही आरोपी एएसआई बना है।

सेक्टर-32 निवासी घायल महिला कंचन (45) की बड़ी बेटी रिया ने बताया कि उसके पिता संजय कुमार फाइनेंस का काम करते हैं। थाना जमालपुर में तैनात एएसआई सुखपाल सिंह उनका पुराना दोस्त है। इसलिए अकसर वह घर आता जाता रहता था। मंगलवार को वह अपनी छोटी बहन के साथ घर पर थी। दोपहर लगभग 12:45 पर एएसआई सुखपाल सिंह उनके घर पहुंचा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन