विज्ञापन

चंडीगढ़

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

Garhshankar News: आई-20 कार को बस ने मारी पीछे से टक्कर, पांच की हालत गंभीर, 24 लोग घायल

गढ़शंकर-होशियारपुर सड़क पर गांव भज्जलां मोड़ के पास गाय को स्कॉर्पियो चालक बचाने की कोशिश कर रहा था तो पीछे से एक निजी कंपनी की तेज रफ्तार बस ने टक्कर मार दी। इसी बीच बस से एक आई-20 कार भी टकरा गई। इसके बाद कार एक पेड़ से टकरा गई।

सड़क दुघर्टना में बस व दूसरी गाड़ियों में सवार करीब 24 लोग घायल हो गए। इनमें से पांच को गंभीर चोट आई और उन्हें सिविल अस्पताल गढ़शंकर में भर्ती करवाया दिया गया। इस दौरान गाय की भी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। 

दरअसल, स्कार्पियो होशियारपुर की ओर से आ रही थी। जब वह गांव भज्जलां मोड़ के पास पहुंची तो आगे एक गाय आ गई। स्कॉर्पियो चालक ने गाय को बचाने के लिए ब्रेक लगा दी जिसके चलते पीछे से आ रही निजी कंपनी की बस टक्कर मार दी। इसी बीच बस के पीछे आ रही एक आई-20 कार भी टकरा गई। सड़क पर तीन चार पलटने के बाद पेड़ से जा भिड़ी। 

सड़क दुर्घटना में आई-20 में सवार रामप्रीत सिंह निवासी ढ़क्क मजार, अपरा, जिला नवांशहर उसकी पत्नी हरदीप कौर व उसकी छह वर्षीय बेटी मनकीरत कौर व बस में सवार हरप्रीत सिंह पुत्र महिंदर सिंह निवासी अटल मजारा, बलाचौर, आरती पुत्र वरिंदरजीत सिंह निवासी कालेवाल लल्लीया को गढ़शंकर के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अन्य को प्राथिमक उपचार के बाद घरों को भेज दिया गया है। दुर्घटना के करीब एक घंटे के बाद भी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी घायलों का हालचाल जानने नहीं पहुंचे।
... और पढ़ें

Punjab: पाक से आया हेक्साकॉप्टर ड्रोन मार गिराया, 5 KG हेरोइन बरामद, पुलिस व BSF ने की संयुक्त कार्रवाई

पंजाब पुलिस व सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने संयुक्त अभियान में शनिवार और रविवार रात अंतरराष्ट्रीय सीमा से मात्र दो किलोमीटर की दूरी पर स्थित गांव कक्कड़ में पाकिस्तान से हेरोइन लेकर आए एक अति आधुनिक हेक्साकॉप्टर ड्रोन को 12 राउंड फायरिंग कर मार गिराया। साथ ही पांच किलोग्राम हेरोइन बरामद की है।

दो लोगों को भी मौके से हिरासत में लिया है, जो कि भागने की फिराक में थे। पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने इसकी पुष्टि की है। पुलिस ने इस संबंध में एनडीपीएस अधिनियम समेत कई धाराओं के तहत अमृतसर ग्रामीण के लोपोके पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है।

दो महीने मेें पुलिस और बीएसएफ ने यह छठा ड्रोन मार गिराया है। अधिकारियों के मुताबिक शनिवार-रविवार देर रात भारत - पाक सीमा पर ड्रोन की गतिविधि को सुरक्षा एजेंसियों ने नोट की थी। इसके बाद अमृतसर ग्रामीण जिले की पुलिस टीम ने तुरंत बीएसएफ के साथ इनपुट सांझा किए। इसके बाद ज्वाइंट ऑपरेशन चलाया गया।

साथ ही ड्रोन को मार गिराया है। जांच में सामने आया कि 10 लाख रुपये की कीमत वाला यह हाईब्रिड 6 पंखों वाला ड्रोन यूएसए और चीन में निर्मित पार्टाें को मिलाकर बनाया था। यह लंबे समय तक चलने वाले बैटरी बैकअप और इन्फ्रारेड-आधारित नाइट विजन कैमरा और जीपीएस सिस्टम सहित हाई-टेक सुविधाओं से लैस की।

एसएसपी अमृतसर ग्रामीण स्वपन शर्मा ने कहा कि पुलिस ने मौके से दो व्यक्तियों को राउंडअप किया है । उन्होंने कहा कि ड्रोन के माध्यम से खेप भेजने वाले पाक तस्करों और उनके भारतीय सहयोगियों की पहचान की जा रही है, जिन्होंने यह हेरोइन बरामद करनी थी।

दो महीने में छह ड्रोन बरामद
  • 29 नवंबर, 2022 - तरनतारन के खेमकरण में सीमा चौकी (बीओपी) हरभजन के अधिकार क्षेत्र में हेरोइन के छह पैकेट ले जा रहा एक हेक्साकॉप्टर ड्रोन बरामद किया गया, जिसका वजन 6.68 किलोग्राम था।
  • 30 नवंबर, 2022- तरनतारन के खलरा के गांव वन तारा सिंह के इलाके से एक टूटा हुआ क्वाडकॉप्टर ड्रोन बरामद किया गया
  • 2 दिसंबर, 2022 - तरनतारन के खेमकरण इलाके से 5.60 किलो वजनी हेरोइन के पांच पैकेट ले जा रहा एक हेक्साकॉप्टर ड्रोन बरामद किया गया।
  • 4 दिसंबर, 2022 - तरनतारन में सीमा चौकी (बीओपी) कालिया के क्षेत्र से हेरोइन के तीन पैकेटों से लदा एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन बरामद किया गया, जिसका वजन 3.06 किलोग्राम था।
  • 25 दिसंबर, 2022 - अमृतसर ग्रामीण पुलिस द्वारा 10 किलो हेरोइन के साथ 20 लाख रुपये मूल्य का एक डीजेआई श्रृंखला यूएसए निर्मित हाई-टेक ड्रोन बरामद किया गया
  • 22 जनवरी, 2023 - अमृतसर ग्रामीण में बीओपी कक्कड़ के क्षेत्र से 5 किलो हेरोइन ले जा रहा एक हेक्साकॉप्टर हाई-टेक ड्रोन बरामद किया गया
... और पढ़ें

पटियाला में दरिंदगी: 11 साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पड़ोस में जागो देखने घर से निकली थी मासूम

घर के बाहर जागो देखने निकली 11 साल की एक बच्ची को दो नौजवानों ने अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। दोनों आरोपी बच्ची को गंभीर हालत में उसके घर के बाहर छोड़कर फरार हो गए। बच्ची को पटियाला के सरकारी राजिंदरा अस्पताल में दाखिल कराया गया है, जहां उसकी हालत में अब सुधार बताया जा रहा है। थाना सदर पटियाला पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपी नौजवानों को नामजद करने के बाद उनको गिरफ्तार कर लिया है।

जांच अधिकारी पुलिस चौकी बलवेड़ा के इंचार्ज एएसआई निशान सिंह ने बताया कि बच्ची छठी क्लास की छात्रा है। बच्ची के घर के नजदीक जाटों के घर हैं, जहां एक विवाह समागम के तहत शनिवार रात करीब 9 बजे जागो निकाली जा रही थी। बच्ची भी जागो देखने के लिए घर से बाहर निकल आई। इसी बीच मौका पाकर वहां कार में बैठे दो नौजवानों अमनदीप सिंह (23) और दलबीर सिंह (22) ने बच्ची के मुंह पर हाथ रखकर उसे अगवा कर लिया। आरोपी उस बच्ची को कार में पास पड़ते खेतों में ले गए और वहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। 

पूर्व सरपंच सुरिंदर मित्तल ने बताया कि परिवार और आसपास के लोग बच्ची की तलाश कर ही रहे थे कि करीब घंटे भर बाद दोनों आरोपी नौजवान उक्त बच्ची को गंभीर हालत में उसके घर के पास छोड़ने पहुंचे। उनमें से एक को परिवार वालों ने मौके पर ही धर लिया, जबकि दूसरा आरोपी बच्ची के दादा की अंगुली को घायल करके मौके से फरार होने में सफल रहा। तुरंत बच्ची को पटियाला के सरकारी राजिंदरा अस्पताल ले जाया गया। बच्ची की नाजुक हालत को देखकर गांव के लोगों ने अस्पताल में रोष जताते हुए पुलिस प्रशासन से फरार आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की मांग की। खबर लिखे जाने तक पुलिस ने मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ अपहरण, गैंगरेप व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज करके गिरफ्तारी डाल ली थी।
... और पढ़ें

Tarn taran News: मलयेशिया में बैठे साले ने जीजा से मांगी 25 लाख की रंगदारी, एक से पूछताछ जारी

तरनतारन पुलिस ने बुधवार 25 लाख की रंगदारी मांगने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तो आरोपी कोई और नहीं शिकायतकर्ता का साला ही निकला। उसने मलयेशिया में बैठकर पूरी साजिश तैयार की थी। आरोपी ने अपने दोस्तों से शिकायतकर्ता का नंबर भी साझा किया था।

एसएसपी गुरमीत सिंह ने जानकारी दी कि इस पूरे मामले की साजिश मलयेशिया में रची गई। शिकायतकर्ता भिखीविंड निवासी गौरव धवन ने पुलिस को बताया था कि उन्हें कुछ नंबरों से 25 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है। इसके बाद सब इंस्पेक्टर बलजिंदर सिंह ने मामले की जांच शुरू की। 

मामले को ट्रेस करना शुरू किया तो इसके तार अमृतसर जेल के साथ मिले। जेल से बटाला निवासी हीरा सिंह को प्रोडक्शन वारंट पर लाया गया। इसके बाद चक सिकंदर निवासी गुरविंदर का नाम भी सामने आया, जो रंगदारी में सहायता कर रहा था।

एसएसपी गुरमीत सिंह ने जानकारी दी कि शिकायतकर्ता के मलयेशिया में रहने वाले साले चंदन पुरी की हीरा सिंह व गुरविंदर सिंह से पुरानी जान-पहचान थी। मलयेशिया से हीरा सिंह व गुरविंदर को फोन करके चंदन पुरी ने गौरव धवन का नंबर दिया था और पैसों की मांग की थी। उन्होंने बताया कि हीरा सिंह से सख्ती से पूछताछ की जा रही है। चंदन पुरी के खिलाफ सबूत इकट्ठे किए जा रहे हैं, ताकि उस पर बनती कार्रवाई की जा सके। इसके अलावा गुरविंदर को पकड़ने के लिए भी दबिश तेज कर दी गई है।
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

Punjab: जमीन विवाद में दो लोगों की हत्या, पठानकोट में इलेक्ट्रिशियन तो फिरोजपुर में बुजुर्ग की ली जान

पठानकोट के गांव गोबिंदसर में जमीन विवाद में इलेक्ट्रिशियन की तेजधार हथियारों से हत्या कर दी गई। मृतक नरेंद्र कुमार गोबिंदसर का रहने वाला था। मृतक के परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर पठानकोट-अमृतसर हाईवे बलसुआ पुल के पास धरना दिया। इसके बाद सदर थाने की पुलिस ने कत्ल के आरोप में 4 लोगों को नामजद कर 2 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। 

शिकायतकर्ता मृतक के भाई दीपक कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया वह बिजली बोर्ड में नौकरी करता है। उसका भाई नरिंद्र कुमार गांव गोबिंदसर में ही इलेक्ट्रिशियन की दुकान करता है। दोनों भाइयों की गांव के साथ ही करीब सवा 2 एकड़ जमीन में मोटर लगी है। 

25 जनवरी की रात को उसका भाई नरिंद्र कुमार दुकान बंद कर मोटर पर चक्कर लगाने चला गया। रात सवा 12 बजे भाभी सविता ने उसे बताया कि नरिंदर अभी तक घर नहीं आया और मोबाइल भी बंद आ रहा है। वह अपने चचेरे भाई बलविंद्र कुमार को साथ लेकर नरिंदर को ढूंढने चले गए। वह जब अपनी जमीन पर पहुंचे तो भाई नरिंदर मुंह के बल जमीन पर पड़ा था। दीपक ने बताया कि नरिंदर के सिर से खून निकल रहा था और सिर पर तेजधार हथियार के कट लगे थे। जिससे उसकी मौत हो चुकी थी।
... और पढ़ें

Punjab News: गैंगस्टर गौरव पटियाल के दो साथी हथियारों समेत काबू, जबरन वसूली व आर्म्स एक्ट में केस

पंजाब पुलिस ने अर्मेनिया की जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर गौरव पटियाल के इशारे पर कारोबारियों से रंगदारी मांगने समेत व आरोपियों को पनाह देने वाले उसके दो साथियों को काबू किया है। आरोपियों की पहचान कुलदीप सिंह किंगरा निवासी मंडी डबवाली सिरसा और हरिंदर सिंह निवासी कोटकपूरा फरीदकोट के रूप में हुई। आरोपियों से पुलिस ने एक पिस्तौल और चार कारतूस बरामद किए हैं। आरोपियों पर स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल (एसएसओसी) ने पहले ही जबरन वसूली व आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। एसएसओसी के एआईजी अश्वनी कपूर ने कहा कि आरोपियों से पूछताछ में कई बड़े राज खुलने के आसार हैं।

पुलिस ने दावा किया है कि आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि गौरव पटियाला इस समय बंबीहा ग्रुप की अगुवाई कर रहा है जबकि वह दोनों गौरव पटियाल के पुराने साथी जैकपाल सिंह उर्फ लाली निवासी मोगा के इशारे पर वारदात को अंजाम देते थे। हरिंदर सिंह ने बताया कि गिरोह में सभी की भूमिका अलग रहती थी। जिसे जैसा आदेश दिया जाता था, वह उसे पूरा करता था। 

वह मुख्यरूप से पंजाब के व्यापारियों या कारोबारियों की पहचान कर उनसे रंगदारी मांगने के काम को अंजाम देता था। कुलदीप किंगरा ने बताया कि वह गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के कई आरोपियों को वारदात के बाद सिरसा एरिया में छिपने के लिए जगह का इंतजाम करता था। जैकपाल उर्फ लॉली उन्हें हथियार व गोला बारूद मुहैया करवाता था। इसे उसने अपने साथियों को मुहैया करवाया था। अभी तक वह हथियार बरामद नहीं हुई हैं। पुलिस की तरफ से जल्दी ही उक्त हथियारों को काबू किया जाएगा।
... और पढ़ें

Punjab: पंजाब पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर हमले के मुख्य आरोपी दीपक रंगा को NIA ने किया गिरफ्तार

मोहाली के सेक्टर-77 स्थित पंजाब पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर नौ महीने पहले आरपीजी हमले के मुख्य शूटर हरियाणा के झज्जर निवासी दीपक रंगा को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने उत्तर प्रदेश के जिला गोरखपुर से गिरफ्तार किया है। वह कनाडा में बैठे आतंकी लखवीर सिंह लंडा और पाकिस्तान में रह रहे हरविंदर सिंह संधू उर्फ रिंदा का करीबी सहयोगी है। उसे वारदात को अंजाम देने के बदले विदेश से फंडिंग तक हुई है। एनआईए ने इस मामले में नेपाल बार्डर से पहली गिरफ्तारी है, जबकि पंजाब पुलिस मामले में नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।

पंजाब पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर 9 मई 2022 को शाम 7:45 बजे आरपीजी हमला हुआ था। जिस समय हमला हुआ था, उस समय वहां से अधिकतर स्टाफ निकल चुका था। ऐसे में जानी नुकसान होने से बच गया था। मौके से आरोपी फरार होने में कामयाब रहे थे। हालांकि मोहाली के साथ लगते एक गांव में उत्तर प्रदेश निवासी युवक और दीपक रंगा एक जगह सीसीटीवी कैमरे कैद हो गए थे।

इसके बाद पुलिस ने एक के बाद एक करीब 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया था लेकिन दीपक का कोई सुराग नहीं लग पा रहा था। चर्चा यहां तक थी कि वह नेपाल भाग गया। इसी बीच अब एनआईए ने आरोपी को काबू किया है। वहीं आरपीजी दागने में उसकी अहम भूमिका रही है। इससे पहले मोहाली पुलिस उस बाइक को रिकवर कर चुकी है जिससे आरोपियों ने मुख्यालय की रेकी की थी।

वहीं, एनआईए को उम्मीद है कि इससे पंजाब में हुई टारगेट किलिंग की अन्य वारदात के राज खुलेंगे। एनआईए मोहाली में आरपीजी हमले का स्व-संज्ञान लेकर 20 सितंबर 2022 को केस दर्ज किया था।

नशे से लेकर हथियारों की तस्करी में रहा शामिल
आरपीजी हमले के अलावा दीपक हिंसक हत्याओं सहित कई अन्य आतंकवादी और आपराधिक घटनाओं में शामिल रहा है। एनआईए का दावा है कि उत्तर भारत में हिंसक गतिविधियों और टारगेट किलिंग कराना उसका मुख्य उद्देश्य था। इसके साथ ही वह नशा व हथियारों की तस्करी, सीमा पार से गोला बारूद और आईईडी को लाने का काम करता था।

पहली बार करवाया चाल परीक्षण, दो चार्जशीट दाखिल
पंजाब पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर हुए हमले में पहली बार एक आरोपी का पुलिस ने चाल परीक्षण करवाया था, क्योंकि आरोपी का दावा था कि वह नाबालिग है जबकि जांच में बालिग निकला था। वहीं, इस मामले में पुलिस अब तक दो चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। इस मामले में स्पेशल ऑपरेशन सेल की टीमें भी लगी हुई है।
... और पढ़ें

Rohtak Crime: खेत में पानी भरने आए युवक का अपहरण, आरोपियों ने पैर तोड़ा, साढ़े छह हजार रुपये भी छीने

एनआईए।
कांग्रेस के पूर्व विधायक आनंद सिंह दांगी के पैतृक गांव मदीना के एक युवक रविंद्र का खेतों से छह-सात युवकों ने अपहरण कर लिया और कार की डिग्गी में डालकर ले गए। आरोपियों ने उसका पैर तोड़ दिया और साढ़े 6 हजार से ज्यादा की नकदी भी लूटकर ले गए। इस संबंध में बहुअकबरपुर थाने में अपहरण, लूट, मारपीट व धमकी का केस दर्ज किया गया है।

पुलिस के मुताबिक मदीना निवासी रवींद्र ने दी शिकायत में बताया कि 18 जनवरी की शाम करीब सात बजे वह पानी लाने के लिए खेतों में रजबाहे पर गया था। वहां पर पहले से ही गाड़ियां खड़ी थीं, जिनमें एक दिल्ली तो दूसरी हरियाणा नंबर की थी। जब वह पानी भर रहा था तो छह-सात युवक आए और उसे जबरन कार की डिग्गी में डाल लिया। दूर दूसरे खेत में ले जाकर पहले उसके साथ मारपीट की, फिर पर्स से 6 हजार 730 रुपये निकाल लिए। उसके बाद मोखरा गांव के ठेके पर ले गए। वहां पर न केवल मारपीट की, बल्कि डंडे मारकर पैर तोड़ दिया। आरोपियों ने उससे कहा कि तुम पर अवैध तरीके से शराब बेचने का केस दर्ज करा देंगे। इसके बाद वापस उसी रजबाहे पर छोड़कर चले गए। जाते समय जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने आरोपी खरकड़ा निवासी अनिल, बहुअकबरपुर निवासी बिंदा व प्रवेश उर्फ ताऊ, मदीना निवासी संजीत, बरहान निवासी देवेन्द्र व दो अन्य के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

Mohali News: ऊंची आवाज में ट्रैक्टर पर बजा रहे थे गाना, थाना प्रभारी ने रोका तो चाकू से किया हमला

खरड़ सदर थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर भगतवीर सिंह ने खरड़ शहरी थाने में खुद पर हमले का मुकदमा दर्ज करवाया है। मामले में पुलिस ने सात व्यक्तियों को नामजद किया है। वहीं, दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान मनिंनदरजीत सिंह, अर्शदीप सिंह, परमवीर सिंह, हरमिंदर सिंह, हर्शदीप सिंह, हरप्रीत सिंह और जुगराज सिंह सभी वासी गांव चंदो गोबिंदगढ़ (खरड़) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी मनिंनदरजीत सिंह और अर्शदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को अदालत में पेश कर तीन दिन का रिमांड हासिल किया है।

जानकारी के अनुसार, सदर खरड़ थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर भगतवीर सिंह गांव देसूमाजरा से खरड़ की तरफ आ रहे थे। वह गणतंत्र दिवस के मद्देनजर गश्त एवं जांच पड़ताल कर रहे थे। जब वह अज्ज सरोवर के पास पहुंचे तभी दो युवक ट्रैक्टर से ऊंची आवाज में गाना बजा रहे थे। वह सड़क हुड़दंगबाजी कर रहे थे। उन्होंने दोनों युवकों को ऐसा करने से रोकने की कोशिश की। युवकों ने दो गाड़ियों में सवार अपने साथियों को मौके पर बुला लिया तभी एक युवक ने थाना प्रभारी पर चाकू से हमला करने की कोशिश की। दूसरे युवक ने उनकी वर्दी फाड़ दी। शिकायत सदर थाना प्रभारी ने सिटी थाना प्रभारी को दी है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गणतंत्र दिवस से चंद दिन पहले पुलिस पर हमला, जनता कैसे महफूज
घटना के बाद इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है। खरड़ निवासी विरेंद्र सिंह, पवन कुमार, रिंपी शर्मा, राजेश कुमार आदि का कहना है कि मोहाली पुलिस जिले के लोगों को महफूज होने का भरोसा दे रही है। खरड़ के इलाके में पहले भी कई नामी गैंगस्टर गिरफ्तार किए हैं। कई गैंगस्टर पिछले दिनों खरड़ पुलिस रिमांड पर लाई थी। फिर भी शहर के बीचोंबीच पुलिस पर हमला लोगों पर चिंता का विषय है। वहीं, अगर प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो आरोपियों ने पुलिसकर्मियों पर ट्रैक्टर चढ़ाने तक की भी कोशिश की गई थी। जब पुलिस कर्मियों ने मौके से आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की तो पुलिस की गाड़ी धोखा दे गई और आरोपी मौके से फरार हो गए।

कुछ दिन पहले ही पीआर-7 रोड पर हुई थी कार की लूटपाट
पिछले दिनों ही पीआर-7 रोड पर आधे घंटे के अंदर दो कार सवारों के साथ कार लूटपाट की कोशिश की थी। इसमें एक सवार से सात हजार रुपये और मोबाइल भी लूट लिया था। पुलिस अभी तक इस मामले को सुलझा भी नहीं पाई है। उससे पहले ही पुलिस टीम पर हमला हो गया।
... और पढ़ें

Patiala News: फ्रांस के बजाय सर्बिया भेजा, 13.50 लाख रुपये भी ठगे, पति-पत्नी समेत चार पर केस

फ्रांस के बजाय सर्बिया भेजकर एक व्यक्ति के साथ चार लोगों ने 13.50 लाख रुपये की ठगी की है। थाना जुल्कां पुलिस ने मामले में शिकायत पर चारों आरोपियों को नामजद कर लिया है लेकिन फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

जसवंत सिंह निवासी गांव खराबगढ़ जिला पटियाला ने थाना जुल्कां पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक उसके गांव के ही रहने वाले आरोपी जसपाल सिंह, उसकी पत्नी पूनम, पिता तेजा राम और हरियाणा के इस्माइलाबाद के रहने वाले गुरभेज सिंह ने उसे फ्रांस भेजने का झांसा देकर 13 लाख 50 हजार रुपये ले लिए। 

बाद में आरोपियों ने उसको फ्रांस नहीं भेजा और इसकी जगह सर्बिया भेज दिया। जहां से वह बड़ी मुश्किल से पंजाब अपने घर लौट पाया है। बाद में मांगने पर भी आरोपियों ने उसके पैसे वापस नहीं किए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर जांच के बाद सभी आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।
... और पढ़ें

Punjab News: मलोट सड़क हादसे में दो लोगों की मौत, पटियाला में हादसे में वकील की गई जान

मलोट में सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार हाल आबाद गांव कानियांवाली निवासी गुलाब राम (45) पुत्र जगदीश राम निवासी सरदूलगढ़ (मानसा) और काला पुत्र डीसी सिंह गांव छापियांवाली (मलोट) दोनों एक्टिवा के जरिए गांव अबुलखुराना की ओर जा रहे थे।

वे दोनों इमारतों की ठेकेदारी का कार्य करते हैं और मंगलवार को दोनों गांव अबुलखुराना में किसी इमारत का कार्य देखने के लिए जा रहे थे। किसी अज्ञात वाहन ने इनकी एक्टिवा को टक्कर मार दी। इससे दोनों गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उन्हें सिविल अस्पताल पहुंचाया गया। मगर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। थाना प्रभारी मलकीत सिंह ने बताया कि फिलहाल अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

वकील की कार डिवाइडर से टकराई, मौत
पटियाला-नाभा रोड पर सोमवार देर रात सड़क हादसे में वकील की मौत हो गई। मृतक की पहचान सुखमनदीप सिंह सरां (25) निवासी अजीत नगर पटियाला के तौर पर हुई है, जो परिवार का इकलौता चिराग था। खबर लिखे जाने तक संबंधित मॉडल टाउन चौकी पुलिस मामले की जांच कर रही थी।
... और पढ़ें

Amritsar Crime News: शादी की खुशियां मातम में बदलीं, झगड़े में वृद्ध की हत्या से हड़कंप

अमृतसर के गांव जोहल पंधेर में शादी वाले घर में खुशियां मातम में बदल गई। रिश्तेदारों के बीच झगड़े में एक व्यक्ति की मौत हो गई। सतिंदर सिंह निवासी गांव तलवंडी रामा, थाना डेरा बाबा नानक, जिला गुरदासपुर ने पुलिस को बताया कि 16 जनवरी 2023 को गांव जोहल पधेर में शादी थी। वह अपने परिवार और पिता जागीर सिंह के साथ शादी में शामिल होने सोनी पैलेस फतेहगढ़ चूड़ियां गए थे। शादी समारोह में शामिल होने के कुछ देर बाद अपने परिवार समेत वापस घर आ गए। उनके पिता जागीर सिंह, फूफा निर्मल सिंह के साथ उनके गांव जोहल पधेर चले गए। 

18 जनवरी को उन्हें पता चला कि उनके कूल्हे पर चोट लग गई है। उनको न्यू लाइफ अस्पताल अमृतसर में दाखिल करवाया गया है। वह अपनी पत्नी दलजीत कौर को साथ लेकर अस्पताल पहुंचे अस्पताल पहुंचने पर उन्हें पता चला कि उनके पिता बेहोश हैं। उनका इलाज चल रहा था, 18 जनवरी को वह अपने पिता के पास अस्पताल में मौजूद थे। अचानक उनके पिता को होश आ गया। उनके पिता ने बताया कि शादी समारोह के दौरान 16 जनवरी की रात को 10 बजे तुम्हारे फूफा की बहू के रिश्तेदार हरदेव सिंह और जगतार सिंह निवासी गांव गग्गोमाहल ने उन पर हमला कर बुरी तरह से घायल कर दिया था।

हालत खराब होने पर अस्पताल में दाखिल करवाया गया। कुछ समय के बाद दोबारा पिता बेहोश हो गए। उन्होंने जब इस बारे में अपने रिश्तेदारों से बात की तो रिश्तेदारों ने समझौते का प्रयास किया। मगर इलाज के दौरान 22 जनवरी को उनके पिता की मौत हो गई। उन्होंने पुलिस में शिकायत दी है। थाना मजीठा की पुलिस ने हरदेव सिंह और जगतार सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

Bathinda News: पिस्तौल से धौंस जमाना होमगार्ड जवान को पड़ा भारी, कार सवार छीन कर भागे

पंजाब होमगार्ड का जवान जब कोर्ट कांप्लेक्स के बाहर अपने सब इंस्पेक्टर का हथियार दिखाकर कार सवारों पर धौंस जमा रहा था तो कार सवार हथियार छीनकर भाग निकले। जब पुलिस के बड़े अधिकारियों को पता चला तो मामले की जांच शुरू कर दी। वहीं घटना के कुछ देर बाद मानसा पुलिस ने कार सवारों से छीना हुआ हथियार बरामद कर उनके खिलाफ केस दर्ज कर लिया। मानसा पुलिस के बाद बठिंडा पुलिस ने अज्ञात लोगों पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। एसएसपी जे इलेनचेजियन का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी अनुसार पुलिस के स्पेशल स्टाफ के इंचार्ज दलजीत सिंह बराड़ की सुरक्षा में तैनात पंजाब होम गार्ड का जवान विजय अपने इंस्पेक्टर की सर्विस रिवाल्वर लेकर गाड़ी में कोर्ट कांप्लेक्स के बाहर जा रहा था। इस दौरान बस स्टैंड के पास ट्रैफिक जाम होने के चलते पुलिस मुलाजिमों की कार एक अन्य कार से टकरा गई। इसके बाद उक्त कर्मचारियों की दूसरी कार सवार युवकों से बहस हो गई, हंगामा इतना बढ़ गया कि पंजाब होमगार्ड के जवान विजय ने अपने सब इंस्पेक्टर की सर्विस रिवाल्वर निकालकर युवकों पर धौंस जमानी शुरू कर दी। 

युवकों ने अपनी जान को खतरा देखते हुए पुलिस मुलाजिम से रिवाल्वर छीन ली और कार में बैठकर मौके से फरार हो गए। इसके बाद पुलिसकर्मी हरकत में आए। घटना के समय कार सवारों में एक महिला भी थी। बताया जा रहा है कि पुलिसकर्मी से रिवाल्वर छीनने वाले युवकों ने मानसा जाकर थाना सरदूलगढ़ पुलिस के पास इसे सरेंडर कर दिया। इसके बाद पुलिस ने रिवाल्वर छीनने वाले युवक को अपनी हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। 

मानसा के एसएसपी नानक सिंह का कहना है कि पुलिस ने चेकिंग के दौरान रिवाल्वर को कार सवारों से बरामद किया है। वहीं, बठिंडा के एसएसपी जे इलेनचेजियन ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि मानसा पुलिस ने रिवाल्वर बरामद कर लिया है। इस संबंध में पुलिस कार्रवाई कर रही है।
... और पढ़ें
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00