Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Varanasi ›   last farewell to up police constable who died due truck collision varanasi police line inconsolable friends gave shoulder

नम आंखों से सिपाही को दी अंतिम विदाई: वाराणसी में बेकाबू ट्रक की टक्कर से हुई मौत, पुलिस लाइन में गमगीन साथियों ने दिया कंधा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: उत्पल कांत Updated Sun, 21 Nov 2021 08:32 PM IST

सार

वाराणसी के बड़ागांव थाने के हरहुआ चौकी के पैंथर दस्ते में तैनात 2011 बैच के सिपाही अजय भान गिरी (38) को बीते बुधवार की रात बेकाबू ट्रेक ने रौंद दिया था। रविवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। सिपाही की मौत पर पुलिस महकमा गमगीन नजर आया।
 
पुलिस लाइन में साथियों ने दिया कंधा
पुलिस लाइन में साथियों ने दिया कंधा - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

वाराणसी के शिवपुर स्थित गणेशपुर में बुधवार देर रात ट्रक के धक्के से घायल पैंथर दस्ते के सिपाही अजय भान (38)  की रविवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस लाइन में सीओ सहित अन्य पुलिसकर्मियों ने श्रद्धांजलि दी। बड़ागांव थाने के इंस्पेक्टर सहित अन्य साथियों ने नम आंखों से शव को कंधा दिया।



अपराह्न पोस्टमार्टम के बाद शव का अंतिम संस्कार मणिकर्णिका घाट पर किया गया। इस दौरान अपने बीच के साथी को खोकर सभी की आंखें डबडबा गईं।  इधर, मृतक के परिजनों में कोहराम मचा है। मऊ के सरायलखंसी थाना के बकवाल गांव निवासी शिवानंद के पुत्र अजय भान गिरी 2011 बैच के सिपाही थे।


20 मीटर तक घसीट ले गया था ट्रक
उनकी पोस्टिंग बड़ागांव थाने के हरहुआ चौकी के पैंथर दस्ते पर थी। बुधवार देर रात लगभग दो बजे अपने साथी जय बहादुर यादव के संग बाबतपुर हाईवे पर गश्त के बाद भेलखा मोड़ से आगे बढ़े और हाईवे के बीच में क्रासिंग नहीं होने के चलते वह गणेशपुर पहुंच गए।
पढ़ेंः वाराणसी में जाम: ट्रैफिक पुलिस पर बरसे पुलिस आयुक्त, तीन शिफ्ट में अब चक्रमण करेंगे ट्रैफिक पुलिसकर्मी
 

नम आंखों से सिपाही को दी अंतिम विदाई:
नम आंखों से सिपाही को दी अंतिम विदाई: - फोटो : अमर उजाला
उसी समय बाबतपुर की ओर से वाराणसी की तरफ जा रही बेकाबू ट्रक ने अजय भान और जय बहादुर यादव को टक्कर मार दी। घसीटते हुए 20 मीटर तक ट्रक ले गया। उसी समय डायल-112 के बोलेरो वाहन को भी बेकाबू ट्रक ने टक्कर मारी थी। हादसे में अजय भान गिरी, जय बहादुर यादव और पीआरवी के सिपाही शैलेंद्र चौरसिया घायल हुए थे।

गंभीर रूप से घायल अजय भान का इलाज भदवर स्थित निजी अस्पताल में चल रहा था और जय बहादुर यादव का उपचार भिखारीपुर स्थित निजी अस्पताल में चल रहा है। पुलिसकर्मियों के अनुसार सड़क पर घसीटने के चलते अजय भान के सिर और सीने पर गंभीर चोट थी। रविवार सुबह जैसे ही अजय भान के निधन की सूचना मिली कि परिजनों में कोहराम मच गया।

पत्नी और अन्य परिजन बेसुध

इधर, बड़ागांव थाने में भी सन्नाटा पसर गया। अपराह्न तीन बजे शिवपुर में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस लाइन में पार्थिव शरीर ले जाया गया, जहां सीओ पिंडरा अभिषेक पांडेय, बड़ागांव थानाध्यक्ष जगदीश कुशवाहा, एसआई और साथी पुलिसकर्मियों ने अजय को श्रद्धांजलि दी। एसआई सत्यप्रकाश और एसआई प्रदीप ने अर्थी को कंधा दिया। अजय भान का छह साल का एक बेटा है, वहीं पत्नी और अन्य परिजन बेसुध रहे।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00