लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Varanasi ›   Agnipath Protest varanasi Financial loss of RS 12 lakh 97 thousand compensation will be recovered from 27 protesters

Agnipath Protest: वाराणसी में 12 लाख 97 हजार का हुआ आर्थिक नुकसान, जेल में बंद 27 प्रदर्शनकारियों से वसूली जाएगी क्षतिपूर्ति

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: उत्पल कांत Updated Mon, 20 Jun 2022 11:35 AM IST
सार

वाराणसी में दो दिन पूर्व अग्निपथ योजना के विरोध में भारी बवाल हुआ था। जिला प्रशासन के अनुसार 12 लाख 97 हजार रुपये की आर्थिक क्षति हुई। जिला जेल में बंद पांच जिलों के 27 उपद्रवियों से क्षतिपूर्ति की वसूली जाएगी।

अग्निपथ योजना के विरोध में बनारस में हुआ था उपद्रव
अग्निपथ योजना के विरोध में बनारस में हुआ था उपद्रव - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

वाराणसी में दो दिन पूर्व शुक्रवार को अग्निपथ योजना के विरोध में तोड़फोड़ करने वालों पर जिला प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। रोडवेज और निजी सहित 36 वाहनों को प्रदर्शनकारियों ने क्षतिग्रस्त किया। जिला प्रशासन के अनुसार 12 लाख 97 हजार रुपये की आर्थिक क्षति हुई।



जिला जेल में बंद पांच जिलों के 27 उपद्रवियों से क्षतिपूर्ति की वसूली की जाएगी। यह सभी वाराणसी, गाजीपुर, मऊ, जौनपुर, आजमगढ़ के हैं।  जिलाधिकारी ने इसका पूरा दावा प्रस्ताव 27 व्यक्तियों के नाम और सभी फोटो, वीडियो साक्ष्य सहित तैयार करा कर सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की वसूली के लिए गठित दावा प्राधिकरण प्रयागराज में भेज दिया है।


 गुप्त सूत्रों से जुटाई जा रही जानकारी
17 जून की घटना में जिन और व्यक्तियों की संलिप्तता सामने आएगी, उसके अनुसार वसूली के लिए और नाम दावा प्राधिकरण को भेजे जाएंगे। ऐसे व्यक्तियों की सूचना वाराणसी के ग्रामीण क्षेत्रों के सभी कर्मचारियों और गुप्त सूत्रों से और अन्य जनपदों के अधिकारियों से जुटाई जा रही है।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के अनुसार थाना सिगरा और जैतपुरा में गाजीपुर पचरुखवा, रेहरी मालीपुर, जौनपुर के नगोली, सैदखानपुर, गोबरा, बहरीपुर, लाल मझवार, भगरी व खवाजपुरा, आजमगढ़ के रासेपुर, मऊ के कुसवू व वाराणसी के हथियर, हजीपुर, मूढ़ादेव, देवराईदान, चोलापुर और गोसाईपुर से लोगों को निरुद्ध किया गया है। 

परिवहन निगम वाराणसी क्षेत्र एवं वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज की कुल 36 बसें, जिनमें से 21 बसें कैंट बस स्टेशन पर मार्ग पर प्रस्थान करने के लिए खड़ी थीं और 15 बसें जो कैंट बस स्टेशन से काशी (गोलगड्डा) कार्यशाला की ओर जा रहीं थीं। इन वाहनों को सिटी रेलवे स्टेशन की ओर से कैंट रेलवे स्टेशन की ओर जा रहे 100-150 प्रदर्शनकारियों ने पथराव कर क्षतिग्रस्त कर दिया था।   

सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले किए जा रहे चिह्नित

अग्निपथ योजना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वाले अब चिह्नित किए जा रहे हैं। उनसे नुकसान की पूरी वसूली होगी। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि हिंसक विरोध के दौरान जिन लोगों की गिरफ्तारी की गई है, उनसे पुलिस द्वारा पूछताछ की गई है।

पुलिस ने जो जांच की है उस जांच के आधार पर संदिग्ध व्यक्तियों के विरुद्ध ग्रामीण थाना क्षेत्रों में कार्रवाई की गई है। शहर में आकर उपद्रव करने वालों की सूची बनाई जा रही है। जिलाधिकारी ने बताया कि सभी उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार, थानाध्यक्षगण ने अपने- अपने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों और कोचिंग चलाने वालों के साथ बैठक कर उन्हें यह स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि उनके गांव से कोई भी व्यक्ति कानून व्यवस्था को अपने हाथ में न ले।

सभी को अवगत कराया जा रहा है कि कोई भी हिंसक गतिविधियां न करें तथा सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान न पहुंचाएं अन्यथा ऐसे लोगों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोग सरकारी नौकरियों से वंचित हो जाएंगे। यदि किसी को ज्ञापन देना है या लिखित पत्र देना है तो गांव में ही संबंधित अधिकारियों को शांतिपूर्वक दें। उनका ज्ञापन वहीं पर जाकर अधिकारी लेंगे।

रोडवेज की बसों में तोड़फोड़ मामले में एक और मुकदमा

रोडवेज की बसों में तोड़फोड़ मामले में एक और मुकदमा
रोडवेज की बसों में तोड़फोड़ मामले में एक और मुकदमा - फोटो : अमर उजाला
अग्निपथ के विरोध में चौकाघाट और सिटी स्टेशन के पास रोडवेज बसों में तोड़फोड़ मामले में जैतपुरा थाने में एक और मुकदमा रविवार को दर्ज हुआ। जैतपुरा इंस्पेक्टर मथुरा राय के अनुसार सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक काशी डिपो की तहरीर के आधार पर सार्वजनिक संपत्ति नुकसान अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक काशी डिपो के मुताबिक बीते 17 जून को काशी डिपो की 5 बसें, चंदौली डिपो की एक बस, गाजीपुर डिपो की एक बस, काशी महानगर डिपो की 8 बसों में तोड़फोड़ की गई है। पुलिस सिटी रेलवे स्टेशन और चौकाघाट पानी टंकी के पास बसों में तोड़फोड़ करने वाले उपद्रवी युवकों को चिह्नित कर उनकी तलाश कर रही है।

विरोध प्रदर्शन से निपटने के लिए जिला प्रशासन ने की तैयारी

अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध की आड़ में हिंसक एवं गैर कानूनी गतिविधियों में लिप्त होने वाले लोगों से कड़ाई से निपटने के लिए जिला प्रशासन ने तैयारी की है। जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर उप जिलाधिकारियों और क्षेत्राधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों एवं अन्य गणमान्य लोगों के साथ बैठक कर युवाओं को किसी के बहकावे में न आने की अपील की।

रविवार को चोलापुर के हाजीपुर में 13, सुहलिया के 3, जगदीशपुर के 2, इस प्रकार कुल 24 लोगों के खिलाफ़ कार्रवाई की गई। वहीं, थाना चौबेपुर में आठ व्यक्तियों की खिलाफ, थाना लोहता अंतर्गत 8 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई। चौबेपुर और चोलापुर थाने के अंतर्गत लगभग 130 लोगों को नोटिस जारी किया गया।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00