बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पांच जगह से चोरी किया जा रहा था तेल

ब्यूरो, अमर उजाला मथुरा Updated Sun, 05 Apr 2015 11:56 PM IST
विज्ञापन
petrolium theft from refinery pipeline

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
थाना फरह क्षेत्र के गांव माल के जंगल से जा रही रिफाइनरी की कच्चे तेल की पाइप लाइन में सेंध लगा ली गई। लाइन में पांच फ्लैंच वाल्व लगे मिले। कई वर्षों से लाइन से कच्चे तेल की चोरी की जा रही थी।
विज्ञापन

 
रिफाइनरी के लिए ये भूमिगत बड़ी पाइप लाइन गुजरात के सलाया बंदरगाह से कच्चे तेल की आपूर्ति करती है। माल के जंगल में ऋषि मंदिर की बंजर पड़ी जमीन पर तेल चोरों ने पाइप लाइन के 795.4 वे किलोमीटर पर सेंध लगाई। तेल चोर वाल्व के जरिए दो इंच व्यास की 150 मीटर पाइप लाइन को सड़क तक लाए। शनिवार की रात पाइप लाइन से कच्चा तेल रिसकर जंगल में फैलने पर ग्रामीणों को जानकारी हुई तो उन्होंने आगे सूचना दी।


रात में ही रिफाइनरी कर्मी मौके पर पहुंच गए थे। रविवार दोपहर तक रिफाइनरी के इंजीनियरों ने एक-एक कर सभी पांच वाल्व निकालकर सुराख बंद कर दिए थे। मामले में रिफाइनरी के गुजरात सलाया पाइप लाइन के क्षेत्रीय प्रभारी और प्रबंधक टेस्टिंग एंड इंस्पेक्शन सुमुन टट्टू ने फरह थाने की ओल चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

दो साल पहले सौंनोठ के जंगल में लगाई थी सेंध
मथुरा। इस पाइप लाइन मेें दो साल पहले भी माल गांव से डेढ़ किमी दूर गांव सौनोंठ थाना मगोर्रा के जंगल में सेंध लगाई जा चुकी है। मामले में 18 लोग गिरफ्तार किए गए थे।

फीरोजाबाद में करते हैं आपूर्ति
मथुरा। पाइप लाइन से चोरी तेल फीरोजाबाद की चूड़ी फैक्ट्रियों और आसपास के कारखानों में भट्टी संचालन के लिए क्रूड ऑयल के रूप में बेचा जाता है। पूर्व में मामले की पुलिस जांच में आगरा निवासी विकास नाम के ठेकेदार का नाम आया था।। दो साल पहले रिफाइनरी और सदर पुलिस ने उसे क्रूड आयल के टैंकर सहित रिफाइनरी थाने के सामने वाहन चेकिंग में पकड़ा था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us