बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

दावत से लौट रहे कारोबारी की हत्या

अमर उजाला ब्यूरो कौशाम्बी Updated Tue, 23 May 2017 01:25 AM IST
विज्ञापन
मारे गए कारोबारी के शव की जांच करती पुलिस
मारे गए कारोबारी के शव की जांच करती पु‌‌लिस - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
सरायअकिल के म्योहर-इछना मार्ग में बरमबाबा मंदिर के समीप रविवार रात दावत से लौट रहे कपड़ा कारोबारी की हत्या कर दी गई। हत्यारे शव सड़क किनारे खड्ड में फेंककर भाग निकले। सोमवार सुबह सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बरामद किया। सड़क पर खड़ी कारोबारी की बाइक में चाभी लगी थी। उसके मोबाइल का सिम गायब मिला। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच शुरू कर दी है।
विज्ञापन


 चौपुरवा निवासी रोशनलाल (42) पुत्र राम लौटन कपड़ा कारोबारी था। रविवार को वह अपने समधी पथदेव सरोज के यहां गोटइया का पुरवा गांव एक दावत में गया था। दावत से वह देर रात बाइक से घर लौट रहा था। इछना गांव के समीप देर रात रोशनलाल को रोककर हत्या कर दी गई। घटना अंजाम देने के बाद हत्यारे रोशनलाल के मोबाइल का सिम व रुपया लेकर भाग निकले थे। फुटकर रुपया सड़क किनारे फेंक दिया था। सोमवार सुबह लोगों ने शव देखा तो पुलिस को सूचना दी।


सरायअकिल एसओ अनिल सिंह मौके पर पहुंचे। मौका-मुआयना किया तो पता चला रोशनलाल के मुंह, नाक और कान से खून निकला था। इसके अलावा शरीर में कई जगह चोटें थीं। रोशनलाल की बाइक सड़क पर खड़ी थी। उसमें चाभी लगी थी। पहले तो पुलिस ने घटना को हादसा समझा लेकिन जब मोबाइल की जांच की तो उसमें से सिम गायब मिला।

इस पर पुलिस की जांच की दिशा बदल दी। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। रोशनलाल का भाई अमरदीप अन्य परिजनों के साथ मौके पर पहुंचा। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसओ अनिल सिंह का कहना है कि मामला संदिग्ध है। घटना की जांच की जा रही है।
 
रोशनलाल की हत्या के खुलासे के लिए पुलिस ने मुखबिरों का जाल बिछा दिया है। मोबाइल का सिम गायब होने पर पुलिस को शक है कि हत्या कर लाश फेंकी गई है। पुलिस ने जांच के लिए रोशनलाल के सिम की काल डिटेल मंगवाई है। एसओ अनिल सिंह का मानना है कि काल डिटेल से ही हत्याकांड का राजफाश होगा। पुलिस को अंदेशा है कि रोशनलाल अकेले नहीं रहा होगा। कोई न कोई उसके साथ जरूर रहा होगा। रोशनलाल किसके साथ समधी के यहां से निकला था इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। हालांकि रिश्तेदार पूछताछ में कुछ बता नहीं सके हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us