बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

बारातियों की पिटाई के बाद गई आतिशबाज की जान

अमर उजाला ब्यूरो। फतेहपुर। Updated Wed, 24 May 2017 12:22 AM IST
विज्ञापन
people gather in village.
people gather in village. - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
फतेहपुर। बारातियों की पिटाई से बेहोश आतिशबाज की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। पोस्टमार्टम में मौत का कारण साफ न होने पर जहर की आशंका में बिसरा सुरक्षित कर लिया गया। पुलिस के मुताबिक आतिशबाज ने शराब भी पी रखी थी। फिलहाल पिता की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। सोमवार रात की यह घटना हुसैनगंज थाने के रसूलपुर गांव की है। थरियांव थाने के सुंधवा गांव के मेवालाल का पुत्र वीरेंद्र लोधी (40) उधन्नापुर के आतिशबाजों के यहां काम करता था। वह सोमवार शाम मलवां थाने के शिवबक्स का पुरवा मजरे भदवा गांव निवासी विजय उर्फ कल्लू की बारात में आतिशबाजी छुड़ाने गया था। बारात के रसूलपुर पहुंचने पर अगवानी के दौरान किसी बात पर उसका बारातियों से विवाद हो गया। कुछ बारातियों ने उसकी पिटाई कर दी। इससे वह बेहोश हो गया।
विज्ञापन


गांववालों ने कई बार यूपी 100 को घटना की सूचना दी, पर पुलिस नहीं आई तो थाने में सूचना दी गई। कुछ देर बाद पुलिस आई। इस बीच वीरेंद्र की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वीरेंद्र के मरने की जानकारी होते ही बाराती भाग गए। पुलिस की सूचना पर वीरेंद्र के पिता मेवालाल और चाचा कृष्ण कुमार भी मौके पर पहुंचे। पिता ने अज्ञात लोगों के खिलाफ पीटकर हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस के मुताबिक शरीर पर चोटों के निशान तो मिले हैं, पर मौत का कारण साफ नहीं हो सका है। अब बिसरा रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। वीरेंद्र अपने पीछे पत्नी राजरानी, तीन बेटे चंद्रभूषण (12) , जय सिंह (8), शिवशंकर (6) और एक बेटी सोमवती (3) को छोड़ गया है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us