समय से नहीं मिली पर्ची, सस्ते में बेचा गन्ना

ब्यूरो, अमर उजाला फर्रुखाबाद Updated Sat, 04 Apr 2015 11:52 PM IST
Time did not slip , sold cheaply cane
ख़बर सुनें
तराई इलाके कुंआखेड़ा के गन्ना किसान पेराई सत्र के अंतिम चरण अप्रैल में पर्ची मिलने से नाराज हैं। खेत में गन्ने की फसल खड़ी है। आए दिन बारिश से फसल का कटान नहीं हो पा रहा है। जरूरत पर इन्हें पर्ची नहीं मिलीं। इससे इनको अपना अधिकांश गन्ना रूपाप़ुर चीनी मिल को 200 रुपये क्विंटल की दर से बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा था। किसानों ने बताया कि कई दिन चक्कर काटने के बाद चीनी मिल से 500 रुपये देकर पर्ची हाथ लगी हैं।
कुंआखेड़ा तराई क्षेत्र के  गन्ना किसान इस बार चीनी मिल के सौतेले व्यवहार से खासे नाराज हैं। यह अधिकांश गन्ना इस बार रूपापुर चीनी मिल को दे चुके हैं। सट्टे के बावजूद पर्ची न मिलने से इनमें रोष है। अकाखेड़ा गांव के ओमकार, अमरसिंह, सूबेदार, सतीश, भिखारीलाल, दुलारे लाल, ज्ञानसिंह  ने बताया कि उन्हें पहले पखवारे में पर्ची दी जानी चाहिए थी लेकिन अप्र्रैल

में पर्चियां दीं गईं। मिल के समय पर पर्ची न देने से इस बार कुंआखेड़ा क्षेत्र के किसानों को लगभग एक हजार ट्राली गन्ना रूपापुर मिल को 200 से 250 रुपये क्विंटल रेट में बेचने को मजबूर होना पड़ा था। स्थानीय चीनी मिल में काम करने वाले कर्मचारियों के फर्जी सट्टे कर उन्हें पर्चियां दी जा रही हैं। वास्तविक गन्ना किसानाें को नजरअंदाज किया जा रहा है। गन्ना ग्राम सेवक हर साल सर्वे सट्टा में खेल करते हैं।  इससे मिल को नो केन की स्थिति से गुजरना पड़ता है।

किसानों ने बताया कि रूपापुर चीनी मिल के बंद हो जाने पर उन्हें मजबूर होकर यहां की चीनी मिल के चक्कर काटने पड़े । पांच सौ रुपये देकर  पर्ची लेना पड़ा। बताया कि अब पर्ची मिली है तो गर्मी और बारिश के  कारण गन्ने की कटान नहीं हो पा रही है।  ऐसा ही मौसम रहा तो गन्ने के कटान न होने और नो केन की स्थिति में मिल को बंद भी किया जा सकता है। ऐसे में उनके सामने गन्ने को जलाने के अलावा कोई चारा नहीं रह जाएगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

श्रावस्ती : पानी की तलाश में आबादी में पहुंचे हिरन की मौत, शरीर पर गहरे जख्म, गोली मारने की भी आशंका

आशंका जताई जा रही है कि पानी की तलाश में हिरन भटककर गांव पहुंचा होगा और कुत्तों ने उस पर हमला कर दिया होगा। ग्रामीणों के अनुसार हिरन को गोली भी मारी गई है।

22 मई 2018

Related Videos

फर्रुखाबाद में चौकी इंचार्ज को दबंगों ने मारा, फाड़ी वर्दी

फर्रुखाबाद में सोमवार को दबंगों ने एक चौकी इंचार्ज की तब पिटाई कर दी जब वो मामले को शांत कराने पहुंचा था। दबंगों ने ना सिर्फ पिटाई की बल्कि उसकी वर्दी भी फाड़ दी। इस दौरान चौकी इंचार्ज ने एक आरोपी को पकड़ लिया। देखिए रिपोर्ट।

24 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen