बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

न्याय मांगने आई रेप पीड़िता का पुलिस ने किया चालान

अमर उजाला ब्यूरो / बुलंदशहर Updated Tue, 23 May 2017 11:48 PM IST
विज्ञापन
रेप पीड़िता का पुलिस ने किया चालान
रेप पीड़िता का पुलिस ने किया चालान - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
विज्ञापन

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी कार्यालय पर धरना देना एक रेप पीड़िता को भारी पड़ गया। एसएसपी के आदेश पर पुलिस ने पीड़िता समेत तीन महिलाओं का शांतिभंग में चालान कर दिया। पीड़िता ने हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई थी। युवक पर रेप के मामले में पुलिस पहले ही फाइनल रिपोर्ट लगा चुकी है।

नगर कोतवाली क्षेत्र की एक महिला ने 11 दिसंबर 2016 में मोहल्ला निवासी मोहम्मद फैसल के खिलाफ रेप की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें बताया था कि जनवरी 2016 में फैसल उसे पुत्र के एक्सीडेंट की झूठी सूचना देकर दिल्ली ले गया।


वहां से लौटने के बाद भूड़ चौराहे के निकट एक होटल में नशीला पदार्थ खिलाकर रेप किया और उसकी वीडियो बना ली थी। वीडियो सार्वजनिक करने की धमकी देकर उसने 1.85 लाख रुपये हड़प लिए। पीड़िता का कहना है कि उसने मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए बयान में भी रेप की बात कही थी।

आरोप है कि पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय फाइनल रिपोर्ट लगा दी। दस दिन पहले पीड़िता ने मुख्यमंत्री के यहां गुहार लगाई थी। लखनऊ तक मामला पहुंचने पर आनन-फानन में पुलिस आरोपी फैसल को पकड़ लाई। दो दिन कोतवाली में रखने के बाद उसे छोड़ दिया।

 मंगलवार को पीड़िता अपने साथ कुछ महिलाओं को लेकर पुलिस ऑफिस पहुंची। उसने धूप में धरना देते हुए न्याय की मांग की। पीड़िता को मनाने के लिए एसएसपी ने एसओ महिला थाना को लगाया।

नगर कोतवाल आरके शर्मा ने बताया कि रेप का आरोप लगाने वाली महिला समेत तीन महिलाओं का शांतिभंग में चालान किया है। वहीं एसएसपी मुनिराज जी. ने बताया कि केस की दो बार जांच हो चुकी है। जांच में रेप संबंधी कोई भी तथ्य सामने नहीं आया। जिसके चलते युवक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। महिला के आरोप निराधार हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us