विज्ञापन

स्टाफ की कमी से शहर की पेयजल सप्लाई चरमराई

बरेली।   Updated Wed, 07 Jun 2017 01:26 AM IST
Extreme flooding of the city's drinking water supply staff
Extreme flooding of the city's drinking water supply staff - फोटो : बरेली, अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें
नगर निगम का जलकल विभाग सबसे दयनीय स्थिति से गुजर रहा है। स्टाफ की भारी कमी से शहर की पेयजल सप्लाई की व्यवस्था चरमरा गई है। 10 लाख से ज्यादा आबादी को पेयजल सप्लाई और 659 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन की लीकेज ठीक करने के लिए एक भी सुपरवाइजर नहीं है। सीवर और पेयजल सप्लाई की पूरी व्यवस्था एक जेई के सहारे है। डेढ़ माह पहले कार्यरत जलकल एई आरबी राजपूत का कानपुर स्थानांतरण हो चुका है। 
विज्ञापन
ढाई दशक पहले मात्र चार लाख शहर की आबादी पर पांच पाइप लाइन इंस्पेक्टर (जेई) और इतने ही सीवर पंप इंस्पेक्टर कार्यरत थे। सीवर अधीक्षक और पंप अधीक्षक भी अपने काम की अलग-अलग मानीटरिंग करते थे। 14 सुपरवाइजर और 20 फिटर भी थे। अब 11 लाख की आबादी में जलकल विभाग एई और सुपरवाइजर विहीन है। जेई पीसी आर्या पेयजल सप्लाई के साथ सीवर और पंप का काम भी देखते हैं। 40 फिटर की जरूरत के सापेक्ष मात्र चार फिटर हैं। प्रत्येक फिटर के साथ कम से तीन खलासी की जरूरत होती है। यहां केवल पांच खलासी बचे हैं। अधिकांश सीवर और पेयजल सप्लाई पंप ठेके पर चलते हैं लेकिन ठेकेदारों की मानीटरिंग करने के लिए सुपरवाइजर नहीं हैं। क्लर्क और चतुर्थ श्रेणी अपने हिसाब से मानीटरिंग करके ऊपरी आमदनी का इंतजाम बनाते हैं। वार्ड या कालोनी से लीकेज का फोन आ जाए तो टीम समय पर नहीं पहुंचती। बारिश में जब शहर से फोन पर सूचना आती है तो हालात और बिगड़ते हैं

रोजाना 105 एमएलडी पानी की सप्लाई
नगर निगम का जलकल विभाग प्रतिदिन 66 नलकूप और 32 ओवरहेड टैंकों से प्रतिदिन 105 मिलियन लीटर प्रतिदिन (एमएलडी) पानी की सप्लाई करता है। शहर में 659 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन है। कभी सड़क बनने तो कभी सीवर मरम्मत के चलते अक्सर ये लीक होती है। मई जून की भीषण गर्मी में शहरवासियों को पर्याप्त पानी की सप्लाई देने में मुश्किलें आ रही हैं। 

हेल्पलाइन नंबर पर करें फोन
7055519611 
0581-2550076 
टोल फ्री नंबर 18001803817
 
जलकल विभाग में स्टाफ बहुत ही कम हो चुका है। सुपरवाइजर और एई एक भी नहीं है। जेई में अकेला मैं हूं और महाप्रबंधक हैं। सब व्यवस्था किसी तरह चला रहे हैं। कम से कम संविदा या प्राइवेट लोग ही रखे जाएं ताकि जनता को बेहतर सुविधा मिले। शासन को स्टाफ की कमी के बारे में लिखकर भेजा गया है।  
पीसी आर्या, जेई जलकल 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Bareilly

ऑनर किलिंग : भाई ने गला घोंटा, पिता ने सरिया से बिगाड़ दिया था चेहरा

तालाब में मछलियों ने नोच डाली लाश, पुलिस ने खुलासा कर दोनों को किया गिरफ्तार

20 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

5 साल की बच्ची के साथ रेप की कोशिश

यूपी के बरेली में 5 साल की बच्ची से दरिंदगी का मामला सामने आया है। चाउमिन का ठेला लगाने वाले एक युवक पर बच्ची के साथ रेप की कोशिश का आरोप है।

9 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree