शरारतीतत्वों ने कांवड़ यात्रा पर किया पथराव व तोड़फोड़

Lucknow Bureauलखनऊ ब्यूरो Updated Tue, 14 Aug 2018 11:05 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
टांडा (अंबेडकरनगर)। संवेदनशील टांडा नगर में सोमवार को आधी रात कांवड़ यात्रा पर कुछ शरारती तत्वों ने ईंट व पत्थरों से हमला कर दिया। बैंड बाजे को पथराव कर क्षतिग्रस्त करने के साथ ही डीजे मशीन को हमलावर उठा ले गए। पथराव में चार कांवड़ियों को चोटें आई हैं। तत्काल पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए, जिससे बड़ा संघर्ष होते-होते बच गया।
विज्ञापन

पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने किसी तरह माहौल को शांत कराकर यात्रा को फिर से सुचारु कराया। इस मामले में रात में ही छापेमारी कर 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। सुबह तक पुलिस अधिकारियों ने नगर में मार्च किया। आसपास के जिलों के पुलिसकर्मी भी इस बीच टांडा पहुंच गए। नगर में एक कंपनी आरएएफ की तैनाती कर दी गई है।
सोमवार की रात कांवड़ियों का एक जत्था नाचते गाते टांडा पहुंचा। बसखारी बाजार का यह जत्था अयोध्या से पवित्र जल लेकर लौट रहा था। आधी रात को जब टांडा के हयातगंज महिला अस्पताल के पास कांवड़ियों का जुलूस पहुंचा, तभी वहां कुछ लोगों ने डीजे की आवाज धीमे करने को कहा। कांवड़ियों ने प्रशासन द्वारा रोक न लगाए जाने का हवाला देते हुए बात को अनसुना कर दिया।
इसी बीच किसी ने कांवड़ियों के जत्थे पर एक ईंट फेंक दी। इससे वहां विवाद शुरू हो गया। बताया जाता है कि कुछ ही देर में एकजुट स्थानीय शरारती तत्वों ने जुलूस पर पथराव शुरू कर दिया। इससे कांवड़ियों में भगदड़ मच गई। शरारती तत्वों ने पथराव कर डीजे वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया, जबकि आरोप के मुताबिक डीजे मशीन भी उठा ले गए।

इसी बीच टांडा में सक्रिय पुलिस टीम मौके पर पहुंची और शरारती तत्वों को खदेड़ा गया। डीएम सुरेश कुमार व एसपी संतोष कुमार मिश्र के अलावा कई और अधिकारी मौके पर पहुंचे और स्थिति को किसी तरह संभाला। कांवड़ियों को कड़ी सुरक्षा के बीच आगे रवाना किया गया। देर रात ही मामले में बसखारी थाना क्षेत्र के बढिय़ानी निवासी धर्मेंद्र त्रिपाठी की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। र

ात में ही ताबड़तोड़ छापेमारी कर जमाल, हबीबुल्लाह, अबरार, दानिश, अजीजुर्रहमान व खलीकुर्रहमान को दर्ज मुकदमे में गिरफ्तार कर लिया। इन सभी को मंगलवार को सीजेएम कोर्ट ले जाया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। इससे पहले रात में ही शांतिभंग के मामले में जमील, सरवर, शकील, मोहम्मद अजमल, मुन्नू मास्टर व एक अन्य जमाल अजमल को भी गिरफ्तार कर लिया गया था। एसडीएम टांडा पंकज सिंह ने इन आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में फैजाबाद मंडल कारागार भेज दिया।

इन पर दर्ज हुआ केस
कांवड़ यात्रा पर हमला मामले में टांडा कोतवाली पुलिस ने एक सभासद राजू, उनके भाई जमाल, पूर्व सभासद जाहिद, आजाद टेलर, माहताब आलम, अज्ञात पान दुकानदार, सलमान, अरशद, शहवान, अरमान, महफूज, रब्बी फिरोज, दानिश, सद्दाम, वसीम, कल्लू दादा व महमूद समेत 19 नामजद व 70 अज्ञात लोगों के विरुद्ध गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया।

प्रशासन की सूझबूझ से टला बड़ा संघर्ष
पूर्व में विभिन्न घटनाओं के चलते संवेदनशील हो चुके टांडा में सोमवार रात कांवड़ यात्रा पर पथराव होते ही चुस्त पुलिस व्यवस्था के चलते बड़ा हादसा होते होते बचा है। दरअसल सुनियोजित ढंग से एकजुट हुए लोगों ने जिस तरह पथराव व तोडफ़ोड़ कुछ मिनट में ही कर दी, उसे यदि पुलिस ने तत्परतापूर्वक न रोका होता, तो प्रतिक्रिया में निश्चित तौर पर बड़ी घटना तय थी।

हादसे के बाद मौके पर पहुंचने से पहले ही डीएम व एसपी ने अयोध्या की तरफ से टांडा नगर में आ रहे कांवड़ियों को जहां तहां रोक दिया। इसी दौरान हयातगंज के निकट माहौल को शांत करा लिया गया। न केवल बसखारी जा रही कांवड़ यात्रा को आगे भेजा गया, वरन सब कुछ सामान्य हो जाने के बाद अन्य जत्थों को भी 0महिला अस्पताल के निकट से होकर गुजारा गया। एसपी के नेतृृत्व में पुलिस टीम ने सुबह तक लगातार टांडा में कांवड़ मार्ग से लेकर विभिन्न मोहल्लों तक में चप्पे चप्पे पर नजर रखी। आननफानन में बिजली जाने पर वैकल्पिक प्रबंध भी कर लिए गए थे।


बोलबम के जयकारों से बढ़ाया कांवड़ियों का उत्साह
कांवड़ यात्रा पर हुए पथराव को लेकर कांवड़ियों के बीच कोई प्रतिक्रिया न होने पाए, इसलिए पुलिस प्रशासन ने एक और रणनीति पर काम किया। टांडा के बाहर से लेकर टांडा नगर के अंदर तक कांवड़ियों के जत्थों के साथ चल रहे पुलिस कर्मियों ने भी बोलबम के जयकारे में साथ दिया। जत्थों के साथ नगर में भ्रमण करते हुए एसपी संतोष कुमार मिश्र ने भी लोगों से कहकर बोलबम के जयकारे लगवाए। एसपी ने पथराव के चलते वाहन व डीजे आदि क्षतिग्रस्त हो जाने के चलते आर्थिक मदद भी अपनी तरफ से की।

समय रहते नियंत्रित हुई स्थिति
टांडा में समय रहते स्थिति नियंत्रित कर ली गई। कुछ लोगों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की सक्रियता से सबकु छ अच्छे से निपट गया। मामले में केस दर्ज हो गया है। आरोपियों को पकड़ा जा रहा है।
- संतोष कुमार मिश्र, एसपी
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X