विज्ञापन

एएमयू के वीसी बोले- मगरमच्छ के आंसू बहाने नहीं... हमदर्दी है, इसलिए आया हूं

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़ Updated Thu, 16 Jan 2020 08:11 PM IST
एएमयू वीसी तारिक मंसूर
एएमयू वीसी तारिक मंसूर - फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें
नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में एएमयू में 15 दिसंबर को हुए बवाल के बाद बाब-ए-सैयद पर चल रहे धरने में गुरुवार को पहली बार कुलपति प्रो. तारिक मंसूर पहुंचे। दिल्ली जाने से पहले उन्होंने छात्रों से बातचीत की, उन्हें समझाने का प्रयास किया। साथ ही कैंपस में पुलिस बुलाने की स्थितियां, हालात संभालने के लिए अपनी ओर से किए गए प्रयासों के बारे में भी बताया।
विज्ञापन
साथ ही कहा कि 15 दिसंबर की रात को जो हुआ, उसका उन्हें ही नहीं, बल्कि उनकी पत्नी और पूरे परिवार को बेहद अफसोस है। कहा कि मैं यहां पर मगरमच्छ के आंसू बहाने नहीं आया हूं, बल्कि वास्तव में हमदर्दी है, इसलिए आया हूं। कुलपति ने कहा कि जब वह यहां छात्र थे तो उनके साथ भी मारपीट हुई लेकिन पढ़ना नहीं छोड़ा।  

कुलपति और छात्रों की बातचीत के अंश -
गुरुवार सुबह ठीक 7.30 बजे कुलपति बाब-ए-सैयद पर धरना स्थल पर पहुंचते हैं। उनके हाथ में सोशल मीडिया पर की गई कुछ पोस्ट के प्रिंट होते हैं। छात्रों को वह प्रिंट दिखाते हैं। इसके साथ शुरू होती है बातचीत ---

कुलपति - इसमें लिखा है कैंपस खुलने के बाद जनरल डायर के जनाजे की नमाज पढ़ी जाएगी। 
छात्र- (तर्क करते हुए) इसमें लिखा है नमाज पढ़ी जाए? पूछा गया है और सवालिया निशान भी है। 

कुलपति - इसका क्या मतलब है? 
छात्र -  यह चीज दो बातों में अटक रही है, हां या न। (इसके बाद छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन कहते हैं कि इस एक पोस्ट की वजह से हम 36 हजार छात्रों को कटघरे में क्यों खड़ा करें? इसके बाद कुलपति छात्रों से कहते हैं सुनिए मेरी बात)

कुलपति - वह जो लेटर मैंने लिखा था, वह सिर्फ एसएसपी को सीक्रेट लेटर लिखा था। किसी को बदनाम करने के लिए नहीं लिखा था। पहले से ही सावधानी बतौर लिखा था। यह सरकारी संस्थान है। इसमें सरकार हर साल 1100 करोड़ रुपये देती है। अगर कोई हादसा कल हो जाता तो हमसे पूछते यह क्यों हुआ? आप ही (छात्रों) के ऊपर अगर कोई आदमी अटैक कर देता तो क्या? हमने गेंद उनके (शासन, पुलिस और प्रशासन) कोर्ट में डाल दी। वो जिम्मेदार होंगे। अखबार वालों पर मत जाइए। वीसी लॉज पर पुलिस पिकेट तैनात कर दूंगा। लाइब्रेरी पर तैनात कर दूंगा। कोई पिकेट वीसी लॉज पर आपको नजर आ रही है। मैं पूरी यूनिवर्सिटी में अकेला घूम रहा हूं। रोज आपके धरने के सामने से चार बार गुजरता हूं। 
छात्र- फिर भी पुलिस आ रही है। अवैध रूप से कैंपस में रह रही है। 
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास
Dholpur Fresh (Advertorial)

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Aligarh

अब अलीगढ़ में शाहीन बाग जैसे धरने का अंदेशा, खुफिया इनपुट के बाद कड़े सुरक्षा इंतजाम

पुलिस को अलीगढ़ में भी दिल्ली के शाहीन बाग जैसे धरने का अंदेशा है।

19 जनवरी 2020

विज्ञापन

कानपुर में CAA पर बोले योगी आदित्यनाथ,देश विरोधी नारे लगाने वालों पर होगा मुकदमा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़े चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि उत्तर प्रदेश की धरती पर कोई देश विरोधी नारे लगाएगा, तो उस पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होगा।

22 जनवरी 2020

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us