जेठानी ने ईर्ष्या में की थी गर्भवती देवरानी की हत्या, चाकू से किए थे पेट में कई वार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, आगरा Published by: मुकेश कुमार Updated Tue, 25 Jun 2019 04:15 PM IST
मृतक महिला दुर्गेश का फाइल फोटो
मृतक महिला दुर्गेश का फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें
आगरा के थाना रकाबगंज क्षेत्र के मोहनपुरा में दो महीने पहले सात माह की गर्भवती देवरानी दुर्गेश की चाकू से हत्या जेठानी शालिनी ने ईर्ष्या में की थी। पुलिस की विवेचना में इस बात की पुष्टि हुई है। पुलिस ने दहेज हत्या की धारा को हत्या की धारा में तरमीम कर दिया।
विज्ञापन


केस के तत्कालीन विवेचक सीओ सदर विकास जायसवाल ने बताया कि दुर्गेश के पिता महेश चंद्र ने दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। पति, सास, ससुर, जेठ और जेठानी को नामजद किया। जांच में घटना वाले दिन कई लोगों के बयान दर्ज किए गए थे।

 
तीन तथ्यों से दहेज के लिए हत्या और अन्य लोगों के शामिल नहीं होने की पुष्टि हुई। एक तो देवरानी और जेठानी घर में अलग-अलग रहती थीं। दोनों की रसोई अलग थीं। दूसरा जिस समय जेठानी ने देवरानी पर वार किए उस दौरान कमरा अंदर से बंद था। 

काम पर गए थे सास, ससुर और पति

तीसरा घटना के समय दोनों के पति, सास और ससुर काम पर गए थे। उनकी लोकेशन भी अलग-अलग आईं। दहेज मिलता तो जेठानी को फायदा नहीं होता। उधर, हत्या के पीछे जेठानी का देवरानी के प्रति मन ही मन ईर्ष्या रखना पाया गया। 

क्योंकि देवरानी के साथ सास-ससुर रहते थे। वो अपनी कमाई बहू पर खर्च करते थे। देवरानी गर्भवती हो गई थी। इस कारण जेठानी को लगने लगा था कि बच्चा होने के बाद घर में उसका कद और बढ़ जाएगा। इससे वो देवरानी से ईर्ष्या रखती थी।

यह था मामला

मोहनपुरा निवासी किशनपाल के बड़े बेटे निशांत की शादी शालिनी से हुई थी। छोटे बेटे प्रशांत की शादी दुर्गेश से हुई थी। 25 अप्रैल को किशनपाल, उनकी पत्नी उमा, बेटे प्रशांत और निशांत काम से गए। शालिनी और दुर्गेश घर में थीं। जिठानी शालिनी देवरानी दुर्गेश के कमरे में आ गई। 

पहले उसके पेट में चाकू से वार किए, फिर गर्दन पर वार किया। दुर्गेश की मौत हो गई। शालिनी ने खुद को भी चाकू मारकर घायल कर लिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। 15 दिन पहले हालात में सुधार होने पर जेल भेज दिया गया।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00