विज्ञापन
विज्ञापन

अब चाइनीज अंडे, एफएसडीए ने लिए सैंपल

अब चाइनीज अंडे, एफएसडीए ने लिए सैंपल Updated Tue, 27 Dec 2016 01:03 AM IST
अब चाइनीज अंडे, एफएसडीए ने लिए सैंपल
अब चाइनीज अंडे, एफएसडीए ने लिए सैंपल - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
ख़बर सुनें
अंडे खाने के शौकीन सावधान हो जाएं, अब खतरनाक रसायन से बने चाइनीज अंडे बाजार में धड़ल्ले से बिक रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, ये हूबहू मुर्गी के अंडे जैसे लगते हैं। इनको पहचानना मुश्किल है। वायरल हुए एक वीडियो को केंद्र ने गंभीरता से लिया और शहरों को अलर्ट किया। इसी कड़ी में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) ने चार प्रतिष्ठानों पर सर्वे की कार्रवाई की। यहां से अंडों के सैंपल जुटाए हैं। इन्हें जांच के लिए लैब भेजा गया है।
विज्ञापन
एफएसडीए ने आवास विकास कॉलोनी स्थित मामा ऐग सेंटर, झमनदास अंडेवाला (जेडी एग मार्ट) शाहगंज, दीनार स्टोर बोदला रोड और सिकंदरा स्थित असीइंद्रा एग सेंटर पर पहुंची। ये सभी अंडे सप्लाई करने की थोक की दुकानें हैं। इनके संचालकों से टीम ने खरीद के बारे में भी पूछा है। इन सभी प्रतिष्ठानों से अंडों का एक-एक सैंपल लिया है। टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अवनीश सिंह, पारुल सिंह, पूनम यादव, अवधेश रहे। 
केमिकल से बनाए जाते हैं अंडे
चीन निर्मित अंडे केमिकल से बनाए जाते हैं। जानकारी के मुताबिक, इनको लैब में तैयार किया जाता है। भारी मात्रा में ऐसे अंडे बिक्री को देश में आ चुके हैं। इसके मद्देनजर केंद्र सरकार ने देशभर में एलर्ट कर दिया है। केमिकल से बने अंडों के लगातार उपयोग से कैंसर, किडनी खराब जैसी कई बीमारियों का खतरा रहता है। 
पहचान करना नहीं आसान 
चाइनीज अंडे का मामला पहली बार सामने आया है। इसलिए अभी इनकी पहचान करना आसान नहीं है। बनावट और रंग में कोई अंतर नहीं है। विशेषज्ञ बताते हैं कि सैंपल की जांच के बाद चाइनीज अंडों की पुष्टि होती है तो फिर इनकी पहचान करना आसान हो सकेगा। 

‘अंडों की थोक की चार दुकानों से सैंपल लेकर झांसी स्थित लैब जांच के लिए भेजे जाएंगे। व्यापारियों को चाइनीज अंडे न खरीदने के बाबत सख्त चेतावनी दी गई है। ’
- देवाशीष उपाध्याय, जिला अभिहीत अधिकारी

रेस्टोरेंट की किचिन में गंदगी, पनीर का सैंपल लिया
एफएसडीए की टीम आवास विकास कालोनी स्थित तिरुपति रेस्टोरेंट का सर्वे करने पहुंची। यहां किचिन में गंदगी थी। खाद्य सामग्री ढकी हुई नहीं थी। रेस्टोरेंट संचालक को साफ-सफाई की सख्त हिदायत दी। यहीं से पनीर का सैंपल भी लिया। जिला अभिहीत अधिकारी देवाशीष उपाध्याय ने बताया कि रेस्टोरेंट में गंदगी मिलने पर चेतावनी दी है। मिलावटी पनीर की आशंका पर सैंपल लिया है।

प्रतिष्ठान पंजीकृत नहीं तो कार्रवाई
आगरा। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने मिष्ठान भंडार, तेल-घी विक्रेता या फिर खाद्य सामग्री निर्माण और बिक्री करने वाले अपंजीकृत प्रतिष्ठानों पर सख्ती कर दी है। रजिस्ट्रेशन की सुविधा करने के लिए सिलसिलेवार कैंप भी लगाए जाएंगे। इसमें विभाग के अधिकारी मौके पर ही आवश्यक दस्तावेज के बाद रजिस्टर्ड करेंगे। इसकी कड़ी में रुई की मंडी चौराहा पर कैंप लगाया। 400 व्यापारियों ने प्रतिष्ठानों को पंजीकृत कराया। कैंप में खाद्य सुरक्षा अधिकारी गुंजन शर्मा, जगवीर चौधरी, दीपशिखा, जितेंद्र सिंह, निशीकांत सिंह, करतार सिंह रहे। जिला अभिहीत अधिकारी देवाशीष उपाध्याय ने बताया कि सहूलियत देने के लिए विभाग कैंप लगाकर जागरूक कर रहा है।
विज्ञापन

Recommended

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार
Invertis university

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Agra

बाइक सवार युवक को मैक्स ने रौंदा, मौत

बाइक सवार युवक को मैक्स ने रौंदा, मौत

18 अगस्त 2019

विज्ञापन

उत्तराखंड में बारिश का कहर, नदिया बनीं सैलाब, हर तरफ तबाही का मंजर

बारिश से उत्तराखंड में तबाही का आलम है। बारिश की वजह से सड़कें टूट चुकी हैं। पुल के ऊपर से पानी बह रहा है। कई पहाड़ दरक गए हैं। मकान के अंदर घुसकर पानी ने तबाही मचाई है।

18 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree