पाक, कश्मीर और आतंकवाद की तपिश में घिरा लिटफेस्ट

अखिलेश महाजन/अमर उजाला, सोलन/कसौली Updated Sat, 15 Oct 2016 10:32 AM IST
khushwant singh literary festival 5th season in kasauli Himachal Pradesh
सदी के महान लेखक खुशंवत सिंह ने भारत-पाक के रिश्तों को मधुर बनाने के लिए हमेशा साहित्यिक मंच से कोशिश की है। कसौली की शांत वादियों में लिटफेस्ट का मुख्य मकसद भी यही है। पांचवें लिटफेस्ट पर भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव का असर दिखा। अमन और चैन नहीं, बल्कि पाक, कश्मीर और आतंकवाद की तपिश में लिटफेस्ट घिरा रहा। 

पाकिस्तानी मेहमानों से हमेशा सराबोर रहने वाले साहित्यिक मेले में उनकी कमी जरूर खली। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, राहुल पंडिता, दिलीप साइमन ने मंच साझा करते हुए काश्मीर: क्राई बिलवड़ कंट्री पर वर्तमान हालात पर चिंता जताई। कहा कि कश्मीर आग में जल रहा है। हालात, बेहद चिंताजनक हैं। 10 हजार से अधिक लोग घायल हैं। 95 लोग मारे जा चुके है। लॉ एंड ऑर्डर की हालात बदतर है। 

केंद्र सरकार इसकी मुख्य वजह नहीं ढूंढ पाई है। राहुल पंडिता ने कहा कि इन हालातों पर काबू पाया जाना चाहिए। इसके लिए दोनों देशों में वार्ता जरूरी है। केवल एक मंच पर वार्ता करके ही इसका हल निकाला जा सकता है। दिलीप साइमन ने जोर दिया कि बाइलेट्रल टॉक से इसका हल संभव है। इस दौरान युद्ध जैसी स्थिति पर चिंता जताते हुए साहित्यकारों ने इसे दुखद बताया।
आगे पढ़ें

हम दोस्त बदल सकते हैं, लेकिन पड़ोसी नहीं : उमर

Spotlight

Most Read

Shimla

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: शिमला के गांव में लगी आग ने लील लिया ये पौराणिक मंदिर

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के गाहन गांव में मंगलवार को भीषण आग लग गई। आग लगने से गांव के 6 घर और मंंदिर जलकर राख हो गए। 

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper