चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा: राष्ट्रपति आज पहुंचेंगे शिमला, अभेद्य दुर्ग में बदली राजधानी

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Thu, 16 Sep 2021 10:25 AM IST

सार

कोविड संक्रमण से सुरक्षा के मद्देनजर कोविंद राष्ट्रपति निवास रिट्रीट के बजाय इस बार होटल ओबरॉय सेसिल में ठहरेंगे, क्योंकि गत दिनों रिट्रीट के तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। राष्ट्रपति 12 बजे शिमला के अनाडेल मैदान में सेना के हेलीकॉप्टर से उतरेंगे।
होटल ओबरॉय सेसिल के बाहर तैनात सुरक्षा कर्मी।
होटल ओबरॉय सेसिल के बाहर तैनात सुरक्षा कर्मी। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बुधवार को शिमला पहुंचेंगे। उनके इस दौरे से पहले राजधानी शिमला को अभेद्य दुर्ग में बदला गया है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों की कड़ी नजर है। सभी प्रवेश द्वारों और संवेदनशील स्थलों पर इंडिया रिजर्व बटालियन, जिला पुलिस, क्यूआरटी के कमांडो तैनात हैं। शिमला को नो फ्लाई जोन बनाया गया है। वाहनों की आवाजाही पर पैनी निगाह है। गौर हो कि हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व की स्वर्ण जयंती के अवसर पर राष्ट्रपति 17 सितंबर शुक्रवार को 11 से 12 बजे के बीच विधानसभा का विशेष सत्र संबोधित करेंगे।
विज्ञापन


कोविड संक्रमण से सुरक्षा के मद्देनजर कोविंद राष्ट्रपति निवास रिट्रीट के बजाय इस बार होटल ओबरॉय सेसिल में ठहरेंगे, क्योंकि गत दिनों रिट्रीट के तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। राष्ट्रपति 12 बजे शिमला के अनाडेल मैदान में सेना के हेलीकॉप्टर से उतरेंगे। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच उनका काफिला अनाडेल से आंबेडकर चौक चौड़ा मैदान शिमला तक सड़क मार्ग से पहुंचेगा। उनका रात्रि ठहराव यहीं होटल ओबरॉय सेसिल में होगा। इस होटल में केवल राष्ट्रपति, उनके संबंधी और उनका स्टाफ ठहरेगा। 


बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने नई दिल्ली से लौटते ही अधिकारियों की बैठक बुलाई। मुख्य सचिव रामसुभग सिंह और डीजीपी संजय कुंडू ने भी लंबी मंत्रणा की। खुद डीजीपी सड़कों पर उतरकर सुरक्षा अधिकारियों और कर्मचारियों को दिशा-निर्देश देते रहे। विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार ने भी इस मौके पर सर्वदलीय बैठक ली। इसमें विधानसभा के भीतर राष्ट्रपति के संबोधन की तैयारियों पर चर्चा हुई। राष्ट्रपति 19 सितंबर तक शिमला में ही रहेंगे और फिर नई दिल्ली लौटेंगे। 

राष्ट्रपति का शेडयूल  
16 सितंबर    12 बजे पहुंचेंगे शिमला।
17 सितंबर    11 बजे से 12 बजे के बीच विधानसभा में संबोधित करेंगे।
18 सितंबर    भारतीय लेखा परीक्षा अकादमी में प्रशिक्षु अधिकारियों के विदाई समारोह में मुख्य अतिथि होंगे।
19 सितंबर    शिमला से नई दिल्ली लौटेंगे राष्ट्रपति।

कोविंद प्रदेश विधानसभा में संबोधित करने वाले तीसरे राष्ट्रपति 
रामनाथ कोविंद प्रदेश विधानसभा में संबोधित करने वाले देश के तीसरे राष्ट्रपति होेंगे। इससे पहले प्रणब मुखर्जी और डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम भी संबोधित कर चुके हैं। 

राष्ट्रपति के साथ केवल राज्यपाल और विधानसभा अध्यक्ष बैठेंगे
 विधानसभा के विशेष सत्र में राष्ट्रपति के साथ राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर और विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार ही बैठेंगे। विधानसभा उपाध्यक्ष, मुख्यमंत्री, मंत्री और विधायक पूर्व निर्धारित व्यवस्था के मुताबिक बैठेंगे। 

आरटीपीआर टेस्ट के बाद ही मिलेगा विधानसभा परिसर में प्रवेश 
विशेष सत्र में शामिल होने वालों के पास कोरोना आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट होना जरूरी है। बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष परमार ने भी आरटीपीसीआर टेस्ट करवाया। उनके अलावा पूर्व विधानसभा अध्यक्ष राधारमण शास्त्री, मंत्रियों, विधायकों, पूर्व मंत्रियोें, पूर्व विधायकों, विधानसभा के अधिकारियों, कर्मचारियों और मीडिया कर्मियों ने भी टेस्ट करवाए।

रेड कारपेट बिछाकर होगा राष्ट्रपति का स्वागत
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का शिमला पहुंचने पर रेड कारपेट बिछाकर स्वागत किया जाएगा। राष्ट्रपति के चार दिवसीय शिमला दौरे को लेकर सुरक्षा एजेंसियों समेत डेढ़ हजार पुलिस जवान सुरक्षा में मुस्तैद हैं। वीरवार दोपहर को राष्ट्रपति अनाडेल हेलीपैड पहुंचेंगे। राष्ट्रपति का काफिला अनाडेल केनेडी चौक होते हुए सिसिल होटल पहुंचेगा। बुधवार को सुरक्षा एजेंसियों ने तैयारियों को अंतिम रूप दिया।

अनाडेल से काफिला निकला और विधानसभा, एजी चौक, स्कैंडल प्वाइंट, रिज मैदान होते हुए राजभवन पहुंचा। शिमला पुलिस ने शहर के मुख्य द्वारों पर नाकाबंदी कर दी है। वाहनों की तलाशी के बाद प्रवेश दिया जा रहा है। तीन चरणों की रिहर्सल में 30 से 35 वाहन शामिल हुए। सुबह साढ़े 11बजे रिहर्सल शुरू हुई और शाम 4 बजे तक चली। इसमें सिसिल होटल से अनाडेल और विधानसभा से राजभवन तक की रिहर्सल हुई।

उधर, डीसी आदित्य नेगी ने बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के 4 दिवसीय शिमला दौरे के चलते कैनेडी चौक से बालूगंज सड़क वाया चौड़ा मैदान सभी तरह के वाहनों की आवाजाही के लिए बंद रहेगी। राष्ट्रपति के ओबराय सिसिल होटल में ठहरने के चलते सुरक्षा के मद्देनजर इस सड़क को बंद रखा जाएगा।

विस की दर्शकदीर्घा में बैठेंगे पूर्व सांसद, विधायक
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के संबोधन के दौरान प्रदेश विधानसभा की दर्शक दीर्घा में पूर्व सांसदों और विधायकों के बैठने की व्यवस्था कर दी गई है।  पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार और प्रेम कुमार धूमल और वर्तमान सांसद वीवीआईपी गैलरी में विराजेंगे। इनके अलावा इस अधिकारी दीर्घा में मुख्य सचिव, डीजीपी और अतिरिक्त मुख्य सचिव, स्तर के अधिकारी की बैठ सकेंगे। राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी और बेटी भी विधानसभा सदन में उपस्थित रहेंगी।

इनके बैठने की व्यवस्था भी वीवीआईपी गैलरी में की गई है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह और संजय कुंडू ने विधानसभा पहुंचकर मौके का निरीक्षण लिया। विधानसभा सचिवालय अधिकारियों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सिटिंग प्लान की जानकारी दी। दिल्ली से लौटने के बाद वह विधानसभा पहुंचे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00