बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

अवैध कब्जे हटाए

Updated Sun, 04 Jun 2017 10:47 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
अमर उजाला ब्यूरो
विज्ञापन

शिमला। शहर के प्रवेश द्वार टूटीकंडी - शोघी सड़क पर पुलिस टीम ने रविवार को अतिक्रमणकारियों के खिलाफ मुहिम चलाकर सड़क किनारे अवैध रूप से पार्क की गई एक दर्जन से अधिक गाड़ियों को कब्जे में लिया। एनएच विंग की टीम के साथ सड़क किनारे अवैध रूप से पड़े रेत बजरी के ढेरों और लोहे के कबाड़ को सील कर दिया। अतिक्रमण अभियान के दौरान टीम ने करीब 15 किलोमीटर सड़क पर जेसीबी मशीनों और क्रेनों के साथ सड़क किनारे अवैध रूप से कब्जों को हटाया और वाहनों की आवाजाही के लिए पूरी सड़क को बहाल किया। प्रदेश उच्च न्यायालय की ओर से विभाग को सड़क किनारे अवैध कब्जों को हटाने के निर्देशों के बाद विभाग हरकत में आया और अतिक्रमणकारियों के कब्जों को हटाने की मुहिम शुरू की।
रविवार सुबह करीब 11 बजे पुलिस टीम मौके पर पहुंची और अवैध कब्जों को हटाना शुरू किया। इस दौरान टीम ने महीनों से सड़क किनारे खड़ी धूल जमी गाड़ियों को क्रेन की मदद से हटाया और जंक यार्ड ले गए। इस दौरान करीब 15 गाड़ियों को हटाया गया। इसके साथ ही बिना अनुमति से सड़क किनारे पड़े रेत बजरी के ढेरों को जेसीबी की मदद से ट्रक में लोड कर अपने कब्जे में लिया और साथ ही सड़क किनारे पड़े लोहे के ढेरों को भी जब्त किया। इस दौरान एएसपी साक्षी वर्मा, एएसपी अर्जित सेन ठाकुर, डीएसपी राजेंद्र शर्मा, डीएसपी राम लाल बंसल, डीएसपी बलबीर जसवाल, डीएसपी ट्रैफिक रत्तन नेगी, बालूगंज थाना पुलिस और क्यूआरटी लाइन के पुलिस जवान मौजूद थे।

---
ट्रैफिक जाम से मिलेगी निजात
राजधानी में पर्यटक सीजन जोरों पर है। सड़कों पर अतिक्रमण से रोजाना सड़क पर जाम की स्थिति पैदा होती है। अतिक्रमण को हटाने के बाद शहर की सड़कों पर ट्रैफिक जाम से निजात मिल सकती है। ट्रैफिक जाम के कारण सड़क पर वाहन रेंगने पर मजबूर हो जाते हैं। वाहन चालकों को घंटों जाम में फंसने से परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us