लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Son beat father to death Fatehgarh Sahib in punjab

Punjab: जमीन नाम न करने पर बेटे ने पिता को पीटकर मार डाला, श्मशान पहुंचकर पुलिस ने चिता बुझाकर शव निकाला

संवाद न्यूज एजेंसी, फतेहगढ़ साहिब (पंजाब) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Thu, 24 Nov 2022 12:03 AM IST
सार

आरोपी ने चुपके से अंतिम संस्कार की कोशिश की थी। लेकिन पुलिस ने मौके पर श्मशान पहुंचकर चिता बुझाकर शव कब्जे में  लिया। फोरेंसिक टीम ने सैंपल लिए हैं। पुलिस ने बेटे पर केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस द्वार गिरफ्तार किया आरोपी धरमिंदर सिंह।
पुलिस द्वार गिरफ्तार किया आरोपी धरमिंदर सिंह। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन

विस्तार

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में चुन्नी कलां थाना अंतर्गत ताजपुरा गांव में जमीन नाम न करने बेटे ने अपने 70 वर्षीय वृद्ध पिता को पीट पीटकर मार डाला और पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए गांव के शमशानघाट पर उपले से उनका अंतिम संस्कार करने की कोशिश की। मौके पर पहुंची पुलिस ने बेटे को गिरफ्तार कर लिया। 



ताजपुरा गांव के पूर्व सरपंच गुरदास सिंह ने पुलिस को बताया कि गांव में उसके बड़े भाई अमर सिंह अपने परिवार के साथ रहते थे। उनका बेटा धरमिंदर सिंह पिता से जमीन अपने नाम करने का दबाव बनाता था पर अमर सिंह तैयार नहीं थे। इस लिए वह अक्सर उनको मारता पीटता था। गुरदास ने बताया कि 21 नवंबर की शाम जब वह दूध लेने गया तो गांव के कुछ लोगों ने बताया कि उसके भतीजे धरमिंदर ने अपने पिता अमर सिंह को बेरहमी से पीटकर मार डाला।


पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए वह गांव के श्मशान घाट पर पिता का अंतिम संस्कार कर रहा है।  गुरदास ने बताया कि जब वह श्मशान घाट पहुंचे तो अमर सिंह की चिता जल रही थी। इसके बाद उन्होंने गांव के सरपंच को घटना की जानकारी दी और चुन्नी कलां पुलिस को फोन से सूचित किया गया।

डीएसपी बस्सी पठाना अमरप्रीत सिंह ने बताया कि गांव ताजपुरा से चुन्नी चौकी को सूचना मिली तो वह पुलिस पार्टी के साथ तुरंत मौके पर पहुंचे और चिता की आग को बुझाकर कब्जे में ले लिया।  डीएसपी ने बताया कि घटना की जानकारी उच्चाधिकारियों को देने के बाद फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और फॉरेंसिक टीम को मौके पर पहुंचकर सैंपल लिए। इसके बाद शव को परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया।

डॉक्टरों के पास ले गया था पिता को
डीएसपी ने बताया कि पिटाई से अमर सिंह की हालत गंभीर हो गई धरमिंदर पहले उनको भगड़ाना के एक डॉक्टर के पास ले गया। वहां से चुन्नी के एक डॉक्टर के पास लेकर गया। डॉक्टर ने अमर सिंह की गंभीर हालत को देखते हुए तुरंत मोहाली-चंडीगढ़ के बड़े अस्पताल में भर्ती करने की सलाह दी। लेकिन वह पिता को घर ले आया और तब तक उनकी मृत्यु हो चुकी थी। इसके पश्चात किसी को बताए बगैर सुबह के अंधेरे में शमशानघाट पहुंचा और उपलों के साथ पिता का अंतिम संस्कार कर दिया। उन्होंने कहा कि बाबा बडाली आला सिंह थाना में आरोपी धरमिंदर सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 304, 201 के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है और मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00