मध्यप्रदेश के राज्यपाल से हत्या के आरोपी मंत्री लाल सिंह आर्य को बर्खास्त करने की मांग

टीम डिजिटल, अमर उजाला Updated Wed, 06 Dec 2017 01:21 PM IST
Congress demanded Madhya Pradesh governor to remove murder accused minister Lal Singh Arya
लाल सिंह आर्य
कांग्रेस ने मध्यप्रदेश के राज्यपाल ओ.पी. कोहली से हत्या के आरोपी राज्यमंत्री लाल सिंह आर्य को बर्खास्त करने की मांग की है। भिंड में सीबीआई की विशेष अदालत ने मंगलवार को कांग्रेस विधायक माखनलाल जाटव की अप्रैल 2009 में हुई हत्या के सह-आरोपी और मध्यप्रदेश सरकार में सामान्य प्रशासन एवं आदिम जाति कल्याण राज्यमंत्री लाल सिंह आर्य के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया। कोर्ट के 6 बार जमानती वारंट जारी करने पर भी आर्य के पेश नहीं होने पर 7वीं बार गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया। 

यह भी पढ़ें: विधायक माखनलाल जाटव हत्याकांड: मंत्री लाल सिंह आर्य के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी 

मध्यप्रदेश के भिंड की विशेष सीबीआई कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान पुलिस ने बताया कि वह कोर्ट द्वारा 6 बार जारी की गई जामनती वारंट की तामिली नहीं करा पाई, जिसके बाद कोर्ट ने मध्यप्रदेश में राज्यमंत्री लाल सिंह आर्य की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया। आरोपी मंत्री आर्य के पास अब ज्यादा विकल्प नहीं बचे हैं। 14 नवंबर को मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की ग्वालियर पीठ ने आर्य की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। हाईकोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा था, 'अदालत के विचार में मौजूद साक्ष्य पर्याप्त रूप से गहरे संदेह के दायरे में आते हैं।' 

कांग्रेस ने राज्यपाल ओ.पी. कोहली से मिलकर आरोपी मंत्री लाल सिंह आर्य को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की अपील की है। नेता विपक्ष अजय सिंह ने कहा, 'कोर्ट ने 6 बार वारंट जारी किया लेकिन मुख्यमंत्री मामले को लगातार नजरअंदाज किया है। अब जब कोर्ट ने मंत्री के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है, आर्य को पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। अगर मुख्यमंत्री कोई कार्रवाई नहीं करते हैं तो राज्यपाल को आर्य को बर्खास्त कर देना चाहिए।" 
आगे पढ़ें

'मुख्यमंत्री कोर्ट के आदेशों का अनादर क्यों कर रहे हैं?'

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सीएम शिवराज ने की ये बड़ी घोषणा, 2 लाख 84 हजार टीचर्स को होगा फायदा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अस्थायी टीचर्स के पक्ष में बड़ी घोषणा की है। शिवराज सिंह चौहान ने अस्थायी टीचर्स के अलग-अलग संवर्गों की शिक्षा विभाग में विलय करने की घोषणा की।

22 जनवरी 2018