लखनऊः कोरोना की सेकंड वेव का खतरा, अफसर बेखबर

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: लखनऊ ब्यूरो Updated Sat, 21 Nov 2020 01:44 AM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें
दिल्ली में कोरोना की तीसरी तो अन्य शहरों में सेकंड वेव का असर दिखाई पड़ रहा है। लखनऊ में भी छह दिनों से मरीजों का ग्राफ बढ़ा है। चिकित्सा संस्थान व्यवस्थाएं करने में जुटे हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि सेकंड वेव के लिए पुराना इंफ्रास्ट्रक्चर है। 
विज्ञापन


राजधानी में करीब 68504 मरीज पाए जा चुके हैं। बृहस्पतिवार को 310 मरीज थे तो शुक्रवार को यह संख्या 382 पहुंच गई। नौ अक्तूबर को 409 मरीज मिले थे। इसके बाद ग्राफ गिरा और 15 नवंबर को 155 तक आ गया था, लेकिन 16 से फिर से बढ़ोतरी शुरू हो गई।


नवंबर में एक्टिव केस 3000 के आसपास रहा है, लेकिन तीन दिन से बढ़ोतरी के साथ 20 नवंबर को 3340 एक्टिव केस हो गए हैं। एसीएमओ डॉ. ए राजा ने कहा कि दीवाली बाद सैंपलिंग बढ़ने से मरीज बढ़े हैं।

त्योहार के आसपास औसत सैंपलिंग 5000 थी, जिसे दो दिन से 9 से 10 हजार के बीच लाया गया है। अभी दिल्ली जैसी स्थिति नहीं है। रैंडम सर्वे में भी इसके लक्षण नहीं मिल रहे हैं। सेकंड वेव आई भी तो पुराना इंफ्रास्ट्रक्चर है। अस्पतालों में इलाज की सभी व्यवस्थाएं हैं। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

छठ के बाद 5 दिन होंगे अहम

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00