गोंडा : घर में घुसकर माता-पिता व दो बेटियों को तलवार से काट डाला, तीन की मौत, एक बेटी की हालत नाजुक

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, गोंडा Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Thu, 25 Nov 2021 09:51 AM IST

सार

पुलिस ने बताया कि कानपुर निवासी मनोज शाम करीब सात बजे उनके घर पहुंचा और घर में पहुंचने के बाद अंदर से शटर को बंद कर दिया। इसके बाद देवी प्रसाद, उनकी पत्नी पार्वती देवी, शिंपा व इस्पा को तलवार से काट डाला। बहू के अनुसार उनकी ननद शिंपा की शादी अभी तय हुई है। युवक उनकी ननद से विवाह करने का दबाव बना रहा था।
घर में बिखरा खून और जांच करती पुलिस
घर में बिखरा खून और जांच करती पुलिस - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

शहर के गल्ला मंडी रोड स्थित एक कॉलोनी में बुधवार की शाम रेलवे के सेवानिवृत्त कर्मचारी के घर में घुसकर एक युवक ने पूरे परिवार पर तलवार से हमला बोल दिया। युवक ने घर में घुसते ही अंदर से चैनल गेट बंद कर लॉक कर दिया। इसके बाद तलवार से पिता, माता व उनकी दोनों बेटियों को काट डाला। इसमें माता-पिता व एक बेटी की मौत हो गई, जबकि छोटी बेटी को गंभीर हालत में इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया है।
विज्ञापन


नगर कोतवाली क्षेत्र के गल्लामंडी रोड के बगल शिवनगर कॉलोनी में बुधवार की शाम दिल दहलाने वाली घटना हुई। यहां रहने वाले रेलवे के सेवनिवृत्त कर्मचारी देवी प्रसाद (67), देवी प्रसाद की पत्नी पार्वती देवी  (65), देवी प्रसाद की बड़ी बेटी शिंपा  (25) व छोटी बेटी इस्पा  (22) अपने घर में थे। शाम तकरीबन साढ़े छह बजे एक युवक उनके घर पहुंचा और अंदर से चैनल गेट बंद कर लिया। इसके बाद देवी प्रसाद, उनकी पत्नी पार्वती देवी, शिंपा व इस्पा को तलवार से काट डाला। इसमें देवी प्रसाद, उनकी पत्नी पार्वती व शिंपा की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि देवी प्रसाद की छोटी बेटी इस्पा गंभीर रूप से घायल हो गई।


देवी प्रसाद की बहू लक्ष्मी ने बताया कि उनकी ननद शिंपा शहर के एक ही निजी अस्पताल में काम करती थी। लक्ष्मी के पति अशोक सुबह लखनऊ गये थे। घटना के वक्त लक्ष्मी घर की दूसरी मंजिल पर थी। आरोपी दूसरी मंजिल पर उन्हें भी मारने के लिए पहुंचा था। मगर उनके शोर मचाने पर वह छत से रस्सी के सहारे कूदकर भाग निकला। लक्ष्मी के मुताबिक मारने वाला युवक कानपुर का रहने वाला है। उसका नाम मनोज है। वह उनकी ननद शिंपा को पिछले दो साल से फोन करके शादी का दबाव बना रहा था। उन्होंने बताया कि शिंपा की शादी अभी तय हुई है। लक्ष्मी के मुताबिक बुधवार की सुबह से ही वह फोन करके शिंपा को मारने की धमकी दे रहा था। डीआईजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने बताया कि प्रेम प्रसंग में एक ही परिवार के चार लोगों पर हमला किया गया है। जिसमें तीन लोगों की मौत हुई है, एक की हालत नाजुक है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम लगाई गई है।

मोबाइल सीडीआर से पुलिस खोलेगी तिहरा हत्याकांड, मर्डर में युवक के अन्य साथियों भी जताई जा रही आशंका

शिवनगर कॉलोनी में रहने वाले एक परिवार में तिहरे हत्याकांड का कारण पता करने के लिए पुलिस ने सेवानिवृत्त रेलकर्मी की बेटी के मोबाइल का सीडीआर खंगालना शुरू कर दिया है। शिंपा के मोबाइल पर आने वाली सभी कॉल को चेक किया जा रहा है। शहर के गल्लामंडी रोड के रहने वाले सेवानिवृत्त रेलकर्मी देवी प्रसाद, पत्नी पार्वती देवी बड़ी बेटी शिंपा, छोटी बेटी इस्पा की बुधवार की देर शाम उनके घर में घुसे एक युवक ने तलवार से काट डाला था। इस हमले में देवी प्रसाद उनकी पत्नी पार्वती देवी व बड़ी बेटी शिंपा की मौत हो गई था जबकि इस्पा की हालत नाजुक है। वारदात के बाद डीआईजी उपेन्द्र अग्रवाल, एसपी संतोष कुमार मिश्रा समेत पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हत्याकांड गुत्थी सुलझाने के लिए अलग-अलग पांच टीमें लगाई हैं। पुलिस शिंपा के मोबाइल के सीडीआर को खंगाल रही है। पुलिस हत्यारे के प्लानिंग को लेकर भी कई विन्दुओं पर जांच कर रही है।

दूसरी मंजिल की छत से रस्सी के सहारे कूदकर कर भागा हत्यारा
शिवनगर मोहल्ले के रहने वाले देवी प्रसाद समेत परिवार के तीन लोगों की हत्या के बाद हत्यारा घर की दूसरी मंजिल की छत पर पहुंचा। इसके बाद जब हत्यारे पर देवी प्रसाद के बहू लक्ष्मी की नजर पड़ी तो उसके चिल्लाते ही हत्यारा रस्सी के सहारे छत से कूदकर भाग निकला।

फोरेंसिक टीम ने मौके से जुटाए सुबूत
शिवनगर में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या के बाद मौके पर पहुंची फोरेंसिक टीम ने घर के अंदर खून का नमूना लिया। टीम ने घर के चैनल गेट समेत अन्य स्थानों ने फिंगर प्रिन्ट के नमूने लिए हैं। मौके पर टीम ने फोटोग्राफी भी की है। जिससे हत्या के खुलासे में मदद मिल सके।

हत्यारे के भागने के रास्ते पर दौड़ता रहा खोजी कुत्ता
शिवनगर में ट्रिपल मर्डर के बाद पहुंची डॉग स्क्वायड टीम ने खोजी कुत्ता को छोड़ा तो वह देवी प्रसाद के घर के पीछे जिस रास्ते से हत्यारे के भागने को बताया जा रहा था। उसकी रास्ते तकरीबन तीन सौ मीटर तक खोजी कुत्ता दौड़ता रहा। 

तीन साल से शहर के एक हास्पिटल में काम कर रही थी शिंपा

सेवानिवृत्त रेलकर्मी देवी प्रसाद की बेटी शिंपा शहर के बड़ गांव स्थित एक हास्पिटल में पिछले तीन साल से काम करती थी। हास्पिटल में नौकरी के दौरान उससे कौन-कौन लोग मिलते थे, उसकी किससे बात होती थी। इस पर भी पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। हास्पिटल के संचालक से भी पूछताछ करने की तैयारी है।

घर में ही छोड़ गया पेट्रोल भरा गैलन, तलवार व रस्सी
शिवनगर के रहने वाले सेवानिवृत्त रेलकर्मी देवी प्रसाद के घर पहुंचने से पहले हत्यारा अपने साथ एक गैलन में पेट्रोल, तलवार, असलहे व रस्सी लेकर आया था। उसने शिंपा समेत पूरे परिवार के लोगों को मार डालने की प्लानिंग की थी। इसलिए पूरी तैयारी से आया था। माना जा रहा है कि देवी प्रसाद का बेटे के घर में न होने से उसने पेट्रोल का इस्तेमाल नहीं किया और तलवार से वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस ने जारी किया ट्रिपल मर्डर के संदिग्ध का फोटो
ट्रिपल मर्डर के संदिग्ध का पुलिस ने फोटो जारी किया है। पुलिस ने फोटो के माध्यम से उसका नाम-पता व पहचान बताने वाले को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि पड़ताल के दौरान मिले एक संदिग्ध व्यक्ति का फोटो जारी किया गया है। इस बीच पुलिस ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि संदिग्ध युवक का नाम अशोक (पुत्र रामहेतु) है और वह उन्नाव जिले के धानीखेड़ा थाना बीघापुर का रहने वाला है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00