विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

जम्मू-कश्मीरः आतंकवाद निरोधक खुफिया तंत्र ने ढूंढ निकाले कश्मीर में 'कोरोना बम'

कश्मीर घाटी में खुफिया तंत्र ऐसे कोरोना संक्रमितों का पता लगाने में बेहद मददगार साबित हो रहा है जो अपना यात्रा इतिहास सार्वजनिक नहीं कर रहे हैं।

6 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कठुआ

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

आरएसएस कार्यकर्ता जरूरतमंदों के लिए जुटा रहे राशन

बिलावर। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जहां सरकार की ओर से पूरे प्रयास किए जा रहे हैं वही कई सामाजिक संगठनों के साथ साथ अन्य कई लोग भी इस विपदा की घड़ी में सरकार की मदद में हाथ बता रहे हैं। उप जिले के रहने वाले कई लोग अभी तक प्रधानमंत्री राहत कोष में राशि जमा करवा चुके हैं इसी के साथ-साथ नेहरू युवा केंद्र और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता भी लोगों की मदद कर रहे हैं।
शनिवार को आरएसएस कार्यकर्ताओं ने उप जिले के गलत गांव में लोगों के घरों में पहुंचकर करीब 5 क्विंटल राशन इकट्ठा किया। आरएसएस कार्यकर्ताओं ने बताया कि गलत गांव में करीब 5 क्विंटल राशन इकट्ठा किया गया है जिसमें आटा चावल और अन्य कई प्रकार के अन्य खाद्य पदार्थ हैं। उन्होंने बताया कि इस राशन को आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवारों को बांटा जाएगा। यह उन परिवारों को दिया जाएगा जिनके पास राशन कार्ड नहीं है और अन्य राज्यों से उप जिले में कामकाज करने के लिए आए हैं। जिला कार्यवाह मनमोहन शर्मा ने बताया कि इस प्रकार का कार्यक्रम पूरे प्रखंड में भारत की ओर से चलाया जा रहा है उन्होंने बताया कि बडोटा गांव में भी आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने करीब 5 क्विंटल राशन इकट्ठा किया है जो कि जरूरतमंदों को दिया जाएगा। इस अवसर पर अंकुश, अजय, मनीष, बृजेश, अरुण, अनमोल, साहिल और कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
इसी के साथ-साथ नेहरू युवा केंद्र कठुआ की ओर से भी मांडली ब्लॉक के दरुंग गांव में लोगों को निशुल्क मास्क वितरित किए जिससे उनका इस खतरनाक वायरस से बचाव हो सके इसी के साथ-साथ नेहरू युवा केंद्र ने लोगों को आपस में सामाजिक दूरी बनाए रखने के साथ-साथ अपने आसपास के इलाकों को साफ सुथरा करने की अपील भी की। नेहरू युवा केंद्र के स्वयं सेवकों ने अपने हाथों से बनाए हुए 200 मास्क लोगों के घरों में पहुंचकर लोगों को वितरित किए। इस मौके पर डॉक्टर पलविंदर कौर नेहरू युवा केंद्र के स्वयंसेवक रिंकू कुमार विवेकानंदा स्टार यूथ क्लब के प्रधान अमर सिंह सहित कई अन्य भी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

भूस्खलन से कटा सैकड़ों गांव का संपर्क

बिलावर। बिलावर के दूर दराज मल्हार सहित सैकड़ों गांवों को संपर्क से जोड़ने वाले प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना का एक हिस्सा इन दिनों बुरी तरह से धंस रहा है। बिलावर कटली मार्ग पर पिछले लगभग पांच दिनों से जारी भूस्खलन के बाद इस सड़क से जुड़ने वाले सैकड़ों गांव पूरी तरह से कटे हुए हैं। हालात यह है कि कोरोना महामारी से बचने के लिए जहां लॉकडाउन है वहीं इस इलाके में राशन से लेकर अन्य जरूरी सामान की सप्लाई भी नहीं हो पा रही है। भूस्खलन वाले क्षेत्र के मुहाने पर आए आठ घरों को प्रशासन ने बीते दिनों ही खाली करवा दिया था जिसके बाद इन परिवारों के सदस्य, रिश्तेदारों या फिर सामुदायिक भवन में शरण लिए हुए हैं।
प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत बन रही इस सड़क को बहाल करना विभाग के लिए भी चुनौती बन गया है। एक ओर ग्रामीण जहां मुआवजा दिए जाने के बाद ही सड़क का काम शुरू करवाने पर अड़े हैं तो वहीं विभाग के लिए दूसरी बड़ी चुनौती यह भी है कि लगातार हो रहे भूस्खलन में यदि काम शुरू किया जाता है तो एक बड़े इलाके के धंसने का खतरा मंडरा रहा है। कटली क्षेत्र के इस इलाके में आठ घर भूस्खलन के मुहाने पर खड़े हैं जहां मिट्टी का पूरा पहाड़ ही खिसकता जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार यह सड़क नलेऊ, मल्हार, पलेई, च्यू, मढून आदि के सैंकड़ों गांव को जोड़ती है। कुछ दिन पहले हुई मूसलाधार बारिश के बाद एकाएक पहाड़ धंसना शुरू हो गया है। जिसके चलते यातायात ठप है।
... और पढ़ें

सेवामुक्त किए जाने के खिलाफ नर्सों ने हल्ला बोला

कठुआ। लॉकडाउन के चलते अनुबंध के आधार पर नियुक्त की गईं जूनियर स्टाफ नर्सों को कार्यमुक्त कर दिए जाने से उनमें सरकार के प्रति नाराजगी है। इसे लेकर उन्होंने शनिवार की सुबह जीएमसी कार्यालय परिसर में प्रदर्शन किया। धरना देते हुए स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उनकी मांग थी कि जीएमसी प्रिंसिपल उनसे आकर बात करें। पुलिस अधिकारियों ने चेतावनी देकर उन्हें जीएमसी के मुख्य गेट से हटा दिया।
जूनियर स्टाफ नर्सों ने बताया कि कोरोना वायरस फैलने पर स्वास्थ्य विभाग ने उनकी सेवाएं लीं लेकिन अब उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया जबकि प्रदेश के अन्य जिलों में किसी भी पैरामेडिकल स्टाफ की सेवाएं समाप्त नहीं की गई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रशासन द्वारा उनकी आवाज दबाई जा रही है और उन्हें धारा 144 का हवाला देकर हटा दिया जा रहा है। सरकार का 50 हजार नौकरियां देने का दावा हवाहवाई हो गया है। उन्होंने मांग की है कि सरकार और स्वास्थ्य विभाग उन्हें उनकी सेवाओं के लिए बहाल करे।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः सेना ने 24 घंटे में मार गिराए 9 आतंकी, जेसीओ सहित 5 जवान शहीद

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में पांच दिनों से चल रहे आपरेशन में रविवार को पांच आतंकियों को मार गिराने में सेना को सफलता मिली। इस बीच मुठभेड़ में एक जेसीओ समेत पांच जवान शहीद हो गए। दो जवान भी घायल हुए हैं। इनका सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है। 

केरन सेक्टर में एलओसी पर तैनात जवानों को 5-6 आतंकियों के ग्रुप के घुसपैठ कर दाखिल होने का इनपुट पिछले बुधवार को मिला था। इस सूचना के आधार पर सेना ने आवूरा, कुमकाडी, जुरहामा सफावाली, बटपोरा, हायहामा आदि इलाकों की घेराबंदी कर ली। चौथे दिन शनिवार की शाम को आतंकियों की मूवमेंट देखने के बाद जामगुंड इलाके के रंगदूरी, गुगुलदारा तथा तीन बहक में इलाइट पारा ट्रूपर को भेजा गया। 

घेरा सख्त होते देख जंगल में छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। पूरी रात फायरिंग होती रही। सेना की जवाबी कार्रवाई में पांच आतंकी मारे गए। इस दौरान पांच जवान भी घायल हो गए। सभी को यहां से निकाल कर सेना के अस्पताल में पहुंचाया गया। सैन्य अस्पताल में इलाज के दौरान जेसीओ समेत पांच जवानों ने दम तोड़ दिया। कुछ और घायल जवान उपचाराधीन हैं।

उधर, सुरक्षा बलों का ऑपरेशन जारी है। छिपे आतंकियों की तलाश के लिए पैरा कमांडो को भी लगाया गया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई बचा न रह जाए। पूरे ऑपरेशन में 4 पैरा, 41 राष्ट्रीय राइफल्स, 57 राष्ट्रीय राइफल्स, 8 जाट रेजीमेंट तथा एसओजी कुपवाड़ा लगा हुआ है। आसपास के जंगलों में भी तलाशी अभियान चलाया गया है।

सैन्य प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि खराब मौसम तथा दुर्गम इलाके के बाद भी जवानों ने पांच आतंकियों को मार गिराया। घायल जवानों को जल्दी निकाल कर अस्पताल पहुंचाने में खराब मौसम बाधा बन गया।
... और पढ़ें
भारतीय सेना भारतीय सेना

लॉकडाउन में महंगी हुई सब्जियां, प्रशासन नहीं उठा रहा कदम

कठुआ। लॉकडाउन के बीच सब्जियों के दाम भी आसमान छूने लगे हैं। जो सब्जियां कुछ दिन पहले तक 20 से तीस रुपए प्रति किलो थीं, उनका भाव अब 80 से सौ के बीच पहुंच गया है। ऐसे में लोगों को परेशानियां पेश आ रही हैं। वहीं मंडी के सब्जी व्यापारियों का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से सब्जियों व फलों की आमद कम हुई है। जिससे दामों में बढ़ोतरी हुई है। बाहरी राज्यों से आने वाली सब्जियों के अलावा लोकल सब्जी विक्रेताओं को भी शहरों तक पहुंचने में दिक्कतें पेश आ रही हैं।
शाम को सड़कों पर उमड़ते हैं लोग
दिन के समय तो लोग लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं वहीं शाम छह बजे के बाद हालात बिल्कुल उलट हैं। शहर की सड़कों पर रूटीन की तरह ही ट्रैफिक दौड़ने लगता है। दो से तीन घंटे तक शहर की दुकानों से लेकर सड़कों पर भीड़ देखी जा सकती है। हालांकि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रख रहे हैं लेकिन लॉकडाउन के बीच ऐसी लापरवाही महंगी साबित हो सकती है।
राशन, मास्क, सैनिटाइजर वितरित
रामकोट। यूनाइटेड कठुआ ने मजदूर वर्ग के लोगों को राशन, मास्क और सैनिटाइजर वितरित किए। वालंटियर सरपंच पूर्ण चंद ने बताया कि स्थानीय लोगों की पूरी मदद की जा रही है।
यूथ कांग्रेस ने मजदूरों को खिलाया खाना
हीरानगर। यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने रविवार को छन्न दित्याल में 130 मजदूरों को खाना खिलाया। यूथ कांग्रेस जिला अध्यक्ष रोमी शर्मा अपनी टीम के साथ यहां मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते मजदूर वर्ग काम पर नहीं जा पा रहा है। इनके पास इतने पैसे भी नहीं है कि यह बाजार से राशन खरीद कर खा सकें। समाजसेवी संस्थाओं के अलावा प्रशासन और पुलिस भी इनकी पूरी मदद कर रही हैं। हमारी यह कोशिश आगे भी जारी रहेगी। चड़वाल में सरपंच ने लोगों के सहयोग से इकट्ठा किया राशन मजदूरों में वितरित किया।
थड़ा कलवाल में चौकी प्रभारी ने बांटा राशन
रामकोट । तहसील के थड़ा कलवाल में चौकी प्रभारी रामकोट यशपाल शर्मा, सरपंच थड़ा कलवाल आनंद किशोर ने महिलाओं और मजदूर वर्ग के लोगों में राशन वितरित किया। चौकी प्रभारी यशपाल शर्मा ने लोगों से अपील की कि इस महामारी से लड़ने के लिए प्रशासन का सहयोग करें। कोई भी जरूरत पड़ने पर हमें कॉल कर सकते हैं और बाहरी राज्यों से घरों को लौट रहे लोगों की हमें तुरंत सूचना दें।
... और पढ़ें

निकाली गई जूनियर स्टाफ नर्स का प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी

कठुआ। जीएमसी कठुआ प्रशासन की ओर से निकाले गए अनुबंधित जूनियर स्टाफ नर्स का प्रदर्शन लगातार तीसरे दिन भी जारी रहा। सेवाओं से हटाई गई जूनियर स्टाफ नर्स ने जीएमसी परिसर में अपने हक के लिए आवाज बुलंद की। उन्होंने कहा कि यदि जीएमसी प्रशासन यह समझता है कि उन्होंने यह फैसला सही किया है तो सामने आने से क्यों कतरा रहा है। रोष प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि बिना एक्सटेंशन के पिछले पंद्रह दिन से उनसे काम लिया जाता रहा लेकिन पूछताछ करने पर बाहर का रास्ता दिखाया गया है जो सीधे तौर पर अन्याय है। उन्होंने कहा कि दो माह पूर्व पीएमओ राज्यमंत्री ने भी उन्हें भरोसा दिलाया था कि उन्हें एक्सटेंशन दी जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि एक दिन पहले जब पांच मिनट के लिए गेट बंद किया तो प्रशासन पुलिस हरकत में आ गए लेकिन शांतिपूर्वक मांग करने वालों की कोई सुन नहीं रहा।
उन्होंने कहा कि गलत समय बताकर उन्हें आवाज उठाने से रोका जा रहा है लेकिन इस समय उन्हें दरबदर किया जाना सही नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना के बीच उनकी सेवाएं ली गई हैं और अब उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया है।
... और पढ़ें

भाजपा कारयकरताओ ने महिलाओ को दिया कपडे के मासक बनाने का सुझाव

बसोहली कोरोना जैसी महामारी के मामले सामने आने के बाद प्रधानमंत्री दवारा लाकडाउन के आवाहन पर हर कोई बयकति लाकडाउन के नियमो का पालन करते हुए अपने घरो में बैठा है। कोरोना बायरस से वचाव के लिए बाजारो मे मिलने बाले मासक की कही किललत है तो कही दाम बहुत जयादा है। कोरोना बायरस से वचाव मे प्रयोग होने बाले मासक की म़ाग अधिक होनै के चलते इसकी म़ाग भी बहुत बढ गई है। ऐसे मे भाजपा पहाडी जिला प्रधान करनल महान स़िह के सुझाव पर महिलाएं घर से ही हाइजेनिक मास्क बनाने के कार्य में जुटी हैं। करनल महान स़िह ने बताया कि पलासी , थाना, प्रेहता, पलाख, धार महानपुर, धार झेंखर,.विलावर,.बसोहली, वनी, अनय सथानो पर भी भाजपा कारयकरताओ दवारा मासक बनाने के लिए इस तरह के महिला समूहो का गठन किया जा रहा है। ताकि जरूरतम़द लोगो की मदद की जा सके, बही उपजिला बसोहली मे भाजपा कारयकरताओ दवारा जरूरतम़द लोगो मे खादय सामग्री ब़ाटने.का सिलसिला जारी है। ... और पढ़ें

पाकिस्तान की नापाक हरकत, पुंछ के मनकोट में बरसाए गोले, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

मासक बनाने मे जुटी महिलांए
पाकिस्तानी सेना ने रविवार की सुबह मेंढर सब डिवीजन के मनकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर घंटों गोलाबारी की। सेना ने भी इस गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। जानकारी के अनुसार सुबह करीब पांच बजे पाकिस्तानी सेना ने मनकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोलाबारी की। इससे पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई।

पाकिस्तान को सेना के जवानों ने भी उसी क्रम में जवाब दिया। इस गोलाबारी में कहीं पर भी नुकसान की सूचना नहीं है। गौरतलब है कि पाकिस्तानी सेना की तरफ से कई महीने से नियंत्रण रेखा पर लगातार गोलाबारी की जा रही है, जिसका भारतीय सेना माकूल जवाब दे रही है।

इससे पहले शुक्रवार को पुंछ के बालाकोट और राजोरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तानी सेना ने संघर्षविराम का उल्लंघन किया। इस दौरान सीमा पार से भारी गोलाबारी की गई। जिसमें पांच जवान घायल हो गए। सेना की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ। उसकी कई चौकियां तबाह हुईं।

पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार को सुबह सुंदरबनी सेक्टर में अचानक गोलाबारी शुरू कर दी गई। अग्रिम चौकियों को निशाना बनाए जाने से पांच सैनिक घायल हो गए। इन्हें तत्काल साथियों ने उठाकर अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं, शाम करीब छह बजे पाकिस्तान की ओर से बालाकोट सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया गया। मनकोट और बलनोई इलाके में पहले तो सेना की अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया गया। इसके बाद पाकिस्तान ने रिहायशी इलाकों में भी गोले दागे।
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः दरबार मूव पर कोरोना का प्रकोप, सरकार जल्द ही जारी कर सकती है अधिसूचना

कोरोना वायरस के कारण बने हालात के चलते केंद्र शासित जम्मू कश्मीर में दरबार मूव का टलना तय है। सरकार इस संबंध में आगामी दिनों में अधिसूचना जारी करने की तैयारी भी कर रही है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार देश के अन्य हिस्सों की तरह जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस के चलते वर्तमान हालात में दरबार मूव हो पाना संभव नहीं लग रहा। इस विषय पर उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू विभिन्न स्तर पर चर्चा कर रहे हैं और आगामी दिनों में इस संबंध में सरकार अधिसूचना जारी करेगी।

उल्लेखनीय है कि दरबार मूव की परंपरा के तहत 24 अप्रैल को जम्मू में दरबार मूव के कार्यालय जिसमें नागरिक सचिवालय, राजभवन, पुलिस मुख्यालय सहित दरबार से संबंधित अन्य कार्यालय बंद होने हैं। केंद्र शासित प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में चार मई 2020 को सरकार का दरबार सजने की तैयारी थी।

वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते 14 अप्रैल तक तो देश सहित प्रदेश में भी लॉकडाउन है। ऐसे में दरबार मूव का टलना लगभग तय ही है। दरबार मूव के तहत सभी प्रशासनिक सचिवों से लेकर इससे जुड़े करीब दस हजार कर्मचारी भी जम्मू से श्रीनगर शिफ्ट होते हैं।
... और पढ़ें

कश्मीर में मिले 14 और संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या 106 हुई, 5,552 नए संदिग्ध निगरानी में

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। आज यानी कि रविवार को कश्मीर संभाग में 14 और नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अब प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 106 हो गई है। इससे पहले शनिवार को एक ही दिन में सर्वाधिक 17 नए मरीज सामने आए थे। इनमें तीन माह की बच्ची समेत जमातियों के नौ रिश्तेदार शामिल हैं। इनके अलावा भी संक्रमित आए नए मामलों में ज्यादातर तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के संपर्क में रहे बताए जा रहे हैं।

शनिवार को सामने आए 17 मामलों में 14 कश्मीर घाटी व तीन उधमपुर के एक ही परिवार के हैं। कश्मीर में संक्रमित पाए गए मरीजों में छह जमाती हैं। इस बीच उधमपुर में एक होटल में क्वारंटीन किए गए 74 साल के एक संदिग्ध मरीज की शनिवार देर रात मौत हो गई।

जिले के रेड जोन घोषित एक गांव का निवासी इस व्यक्ति को 2 अप्रैल को क्वारंटीन किया गया था। गांव में दो संक्रमित मिले थे। 3 अप्रैल को जम्मू में इसका परीक्षण कराया गया था। इसकी रिपोर्ट का इंतजार था। मौत के बाद बुजुर्ग का शव जिला अस्पताल के शव गृह मे रख दिया गया है।
... और पढ़ें

जम्मू से यूपी पैदल चल पड़ा युवक, बोला- मां ने फोन पर कहा- तुझे देखना चाहती हूं, फिर त्याग दिए प्राण

शुक्रवार दोपहर मां से मेरी बात हुई थी। मां ने इच्छा जताई थी कि वो एक बार मुझे देखना चाहती है। अब सुबह नौ बजे के करीब मुझे पता चला है कि मां गुजर चुकी है। ये शब्द उस बेटे के हैं, जो कहीं से भी मदद मिलती न देख शनिवार सुबह जम्मू संभाग के कटड़ा के ककरीयाल गांव से पैदल ही निकल पड़ा।

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के रहने वाले अंकित मौर्या ने कहा कि उसने अपने गृह जिला, जम्मू और रियासी में हेल्पलाइन नंबरों पर भी संपर्क किया, लेकिन कहीं से कोई सहायता नहीं मिल पाई। ऐसे में यहां से पैदल ही निकलने का फैसला लिया है।

ककरियाल में पेंटर का काम करने वाला पंकज कहता है कि उसने निजी ट्रांसपोर्टर से बात भी की, लेकिन लॉकडाउन के कारण वह बहुत ज्यादा पैसे मांग रहा है। मेरे पिता जी, और भाई वहां मेरा इंतजार कर रहे हैं।
... और पढ़ें

धार्मिक संगठनों के नेता अपने अनुयायियों को कोरोना के प्रति जागरूक करेंः उपराज्यपाल जम्मू-कश्मीर

केंद्र शासित प्रदेश के सभी धार्मिक संगठनों के नेता अपने अनुयायियों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करें। उन्हें कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूरी का पालन करने और अन्य बचाव उपायों के बारे में बताएं। यह बात उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न धार्मिक संगठनों के नेताओं और संगठनों के प्रमुखों से कही।

मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम, उपराज्यपाल के प्रधान सचिव बिपुल पाठक, मंडलायुक्त जम्मू संजीव वर्मा, मंडलायुक्त कश्मीर पांडुरंग के पोले के अलावा विभिन्न धार्मिक संगठनों के प्रमुख और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी वीडियो कांफ्रेंस के जरिए उपराज्यपाल के साथ बातचीत की।

उपराज्यपाल ने कहा कि जब तक जनता महामारी को रोकने के प्रयासों में सरकार का सहयोग नहीं करती, तब तक स्थिति नहीं उभर सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए सामाजिक दूरी और सरकार के दिशानिर्देशों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का इस्तेमाल करें।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us