बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन

कांगड़ा

विज्ञापन
कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें
Myjyotish

कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मोबाइल फोन के लिए किशोर की दराट से गला रेत कर हत्या

कांगड़ा जिले में थाना इंदौरा के तहत साहोड़ा गांव के जंगल में दो कथित नशेड़ियों ने मोबाइल के लिए चुराह (चंबा) के 15 साल के किशोर की दराट से गर्दन रेत कर हत्या कर दी। किशोर ने नया मोबाइल खरीदा था, जिस पर आरोपियों की नजर थी। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर आरोपियों याकूब पुत्र लाल दीन गांव घंडरा तहसील इंदौरा और याकूब दीन पुत्र चाटो दीन गांव थोड़ा भलून तहसील नूरपुर को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना मंगलवार देर शाम की है। पुलिस को फोन पर सूचना मिली कि साहोड़ा गांव के जंगल में किसी की लाश पड़ी है। डीएसपी अशोक रत्न, थाना प्रभारी आईपीएस अभिषेक सेकर पुलिस टीम सहित मौके पर पहुंचे और शव लाश को कब्जे में लिया। किशोर के शव के पास मोबाइल और खून से सना दराट भी पड़ा था। डीएसपी ने बताया कि चुराह के चंद्रूल गांव से भेड़ बकरियां चराने पिता सुकरा दीन पुत्र नूर मोहम्मद और पुत्र इलियास मोहम्मद अपनी भेड़ों सहित करीब आठ दिन पहले इंदौरा आए थे।

मंगलवार को उनका पिता बाजार गया था। 15 साल का इलियास मोहम्मद भेड़ें चराने जंगल में चला गया। उसके बाद वह नहीं लौटा। पिता ने बताया कि उसके बेटे ने नया मोबाइल खरीदा था। बेटा जंगल के पास ही गुज्जरों के डेरे में मोबाइल चार्ज करने जाता था। आरोपियों की नजर बेटे के मोबाइल पर थी।

वह मोबाइल को हथियाना चाहते थे। पकड़े गए आरोपी नशे के आदी बताए जा रहे हैं। बुधवार को धर्मशाला से डॉ. नरेश शर्मा व डॉ. राम सिंह की अगुवाई में फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची व साक्ष्य जुटाए। लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल नूरपुर भेजा गया है।
... और पढ़ें

103 ग्राम चिट्टा, दो लाख नकदी और 23 ग्राम सोने के साथ तीन गिरफ्तार

डमटाल पुलिस ने रविवार रात को भदरोया में दबिश के दौरान 103.83 ग्राम चिट्टा, करीब दो लाख की नकदी, 23 ग्राम सोने के जेवरात और तीन कारों समेत एक युवक और दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी रात के अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। डमटाल पुलिस थाना ने सूचना के आधार पर एएसआई हामिद मोहम्मद की अगुवाई में देर रात्रि भदरोया गांव में एक घर पर दबिश दी।

पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपी अपने घर पर अवैध कारोबार को अंजाम दे रहे हैं। इस दौरान पुलिस ने 103. 83 ग्राम चिट्टा और 2,19,220 रुपये और 23 ग्राम सोने के जेवरात सहित तीन कारों को कब्जे में लिया। पुलिस ने आरोपी लवजीत, बचनी देवी व अनुबाला वासी भदरोया को गिरफ्तार कर लिया है। डीएसपी नुरपुर अशोक रत्न ने बताया कि पुलिस ने कार्रवाई के दौरान एक युवक ओर दो महिलाओं को नकदी और नशे की खेप के साथ गिरफ्तार किया है। 
... और पढ़ें

डमटाल के होटल में पकड़े 25 जुआरी, लाखों की नकदी बरामद

डमटाल पुलिस ने क्षेत्र के एक होटल में रविवार देर रात्रि दबिश देकर जुआ खेल रहे करीब 25 लोगों को हिरासत में लिया है। बाद में इन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। आरोपियों से करीब 30 लाख 35 हजार की भारतीय और आठ हजार रुपये श्रीलंका की नकदी को अपने कब्जे में लिया है। पुलिस ने सभी आरोपियों, होटल मैनेजर और मालिक के खिलाफ गैंबलिंग एक्ट मेंमामला दर्ज कर लिया है।

क्षेत्र के एक होटल में रविवार को नूरपुर के डीएसपी अशोक रत्न और डमटाल पुलिस थाना में तैनात प्रोवेशनल डीएसपी देव राज सहित पुलिस कर्मियों की टीम ने होटल में दबिश दी। पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि होटल में रोजाना लाखों का जुआ खेला जा रहा है। जब तक होटल कर्मी और जुआ खेल रहे लोग कुछ समझ पाते, तब तक पुलिस ने होटल को अपने कब्जे में ले लिया और सर्च अभियान शुरू कर दिया।

सर्च अभियान के दौरान पुलिस ने होटल में जुआ खेल रहे करीब दो दर्जन से अधिक आरोपियों को हिरासत में लिया, जबकि कुछ आरोपी अंधेरे का फायदा उठाते हुए मौके से फरार हो गए। हिरासत में लिए करीब 25 आरोपियों को पुलिस ने अलग-अलग थानों में रात कटाई और सोमवार की सुबह डमटाल पुलिस थाना में लाया गया।

डमटाल थाना में आरोपियों की जमानत लेकर उन्हें रिहा किया गया। होटल में लाखों का जुआ खेल रहे लोग जम्मू-कश्मीर और आसपास के क्षेत्र के रहने वाले हैं। डीएसपी नूरपुर अशोक रत्न ने बताया कि पुलिस को मिली सूचना के आधार पर डमटाल क्षेत्र के एक होटल में दबिश दी गई और होटल में जुआ खेल रहे 25 व्यक्तियों से लाखों की नकदी बरामद की। 
... और पढ़ें

धर्मशाला: निजी बैंक में नौकरी दिलाने के नाम पर युवती से 16 हजार की ठगी

अगर आपकी मेल पर भी नौकरी का कोई मैसेज आए तो सावधान हो जाएं। पहले अच्छी तरह जांच-पड़ताल कर लें, नहीं तो आप भी शातिरों के झांसे में आ सकते हैं। ऐसा ही मामला कांगड़ा की एक युवती के साथ पेश आया। एक निजी बैंक में नौकरी दिलाने के नाम पर युवती से सिक्योरिटी और अन्य खर्चों के रूप में शातिरों ने करीब 16 हजार रुपये ऑनलाइन अपने खाते में जमा करवा लिए। लेकिन, उसे नौकरी नहीं मिली। ठगी का शिकार हुई युवती ने पुलिस थाना कांगड़ा में मामला दर्ज करवा दिया है। 

जानकारी के अनुसार पुलिस थाना कांगड़ा के तहत आते गांव भड़वाल की एक युवती ने कहा कि उसकी ई-मेल आईडी पर रोजगार से संबंधित एक मेल आया था। इस मेल पर धर्मशाला में ही एक निजी बैंक में डाटा ऑपरेटर की पोस्ट के लिए आवेदन मांगा गया था। नौकरी की आस में युवती ने आवेदन कर दिया। इसके बाद उसे मोबाइल नंबर 81306-70371 से फोन आया और उससे नौकरी के रजिस्ट्रेशन के लिए 1,000 रुपये की मांग की गई, जिसे युवती ने उनके बताए गए अकाउंट नंबर में जमा करवा दिया। इसके बाद उसके फोन पर मैसेज आया कि आईकार्ड के लिए 3,000 रुपये जमा करवाएं। 

दोबारा युवती को मैसेज किया और उससे नियुक्ति पत्र हासिल करने के लिए 4000, सिक्योरिटी के लिए 5,000 और वर्दी सहित अन्य खर्चों के लिए 3,000 रुपये दोबारा से जमा करवाने को कहा। युवती ने फिर से पैसे जमा करवा दिए। इसके बाद युवती को पीडीएफ फाइल के माध्यम से नियुक्ति पत्र हासिल हुआ, जिसमें उसे 15 दिसंबर को निजी बैंक में नियुक्ति के लिए कहा गया। शातिरों ने युवती को फर्जी आई कार्ड भी भेज दिया। 

शातिरों ने युवती को नियुक्ति पत्र तो भेज दिया, लेकिन उसे कहां पर नियुक्ति देनी है, इस बारे में कुछ नहीं लिखा। इसके बाद जब युवती ने उनसे नियुक्ति देने के स्थान के बारे पूछा तो उसे जवाब मिला कि अभी तक पोस्ट खाली नहीं है, उसे बाद में बता दिया जाएगा। शातिरों के बार-बार टालमटोल करने के बाद युवती ने खुद से हुई ठगी बारे पुलिस थाना कांगड़ा में रिपोर्ट दर्ज करवा दी है। 

अनजान लोगों के झांसे में न आएं 
इस संदर्भ में एसपी डॉ. खुशहाल शर्मा ने कहा कि पुलिस प्रशासन लगातार लोगों को ऑनलाइन ठगी के बारे में जागरूक कर रहा है। बावजूद इसके लोग ठगी का शिकार हो रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह इस प्रकार के झांसे में न आएं। पूरी जांच-पड़ताल के बाद ही किसी अनजान व्यक्ति के खाते में पैसे डालें।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

कांगड़ा: फेसबुक फ्रेंड महिला से दुष्कर्म कर लाखों के गहने लेकर विदेश भागा

ज्वालामुखी क्षेत्र में एक अनोखी वारदात सामने आई है। महिला का आरोप है कि उसके एक फेसबुक दोस्त ने पहले दुष्कम किया और फिर कमरे से लाखों के गहने चोरी कर विदेश भी फरार हो गया है। मामला करीब एक माह पुराना है। पीड़िता ने इसकी शिकायत शनिवार को थाना ज्वालामुखी में दर्ज करवाई है। मामला थाना में दर्ज होने पर पुलिस ने आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है और पीड़िता का मेडिकल भी करवा लिया है। मामले की पुष्टि थाना प्रभारी ज्वालामुखी जीत सिंह ने की है। 

जानकारी के अनुसार 31 वर्षीय विवाहित महिला निवासी तहसील खुंडियां ने थाना में शिकायत दर्ज करवाई है कि वह ज्वालामुखी क्षेत्र के नजदीक एक गांव में किराये का कमरा लेकर रहती है। उसका बेटा यहां निजी स्कूल में पढ़ता है और पति बाहर काम करता है। महिला ने शिकायत में बताया कि तहसील देहरा का एक व्यक्ति उसके साथ फेसबुक पर बात करता था। 25 अक्तूबर को वह व्यक्ति महिला के कमरे में पहुंच गया। उस समय महिला का पति कमरे में नहीं था।

महिला ने आरोपी से कमरे में आने का कारण पूछा तो उसने बताया कि वह यहां से निकल रहा था तो मिलने चला आया। उसके बाद आरोपी ने महिला के साथ जबरदस्ती करनी शुरू कर दी और महिला को एक चाकलेट दी, जो कि महिला ने खा ली। इसके बाद वह बेहोश हो गई। उसके बाद आरोपी ने दुराचार किया। पीड़िता ने शिकायत में बताया कि जब उसे होश आया, तो कमरे की अलमारी खुली पड़ी थी और अलमारी में लाखों के गहने जो इकट्ठा थे, वहां से गायब थे।

आरोपी सारे गहने लेकर फरार हो चुका था। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ मामला थाना में दर्ज कर लिया है। थाना प्रभारी जीत सिंह ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर मामला थाना में दर्ज किया गया है और पीड़िता का मेडिकल भी करवाया गया है। फिलहाल आरोपी फरार है और विदेश चला गया है। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है और आरोपी की धरपकड़ के लिए कानूनी कार्रवाई और प्रक्रिया अमल में ला रही है।
... और पढ़ें

मारपीट का वीडियो वायरल: सुरक्षाकर्मी की वर्दी फाड़ी, लहूलुहान कर्मचारी के सिर पर लगे तीन टांके

ज्वालामुखी मंदिर में कर्मचारियों और श्रद्धालुओं के बीच कथित मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। पता चला है कि श्रद्धालुओं ने प्रदेश सरकार की ओर से निर्धारित नियमों की न केवल उल्लंघना की, बल्कि ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों के साथ मारपीट कर उनको घायल भी कर दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक मंदिर में तैनात सुरक्षा कर्मचारी हंसराज की वर्दी फाड़ दी गई, लाठियों से भी उसे पीटा गया। हंसराज ने बताया कि मंदिर बंद करने का समय 10 बजे सरकार की ओर से निर्धारित किया गया है। कुछ लोग 10:20 बजे तक मंदिर में घूमते रहे। उन्हें बार-बार बाहर जाने के लिए कहा गया, तो सुरक्षा कर्मचारियों से उलझ गए। मंदिर के एक अन्य कर्मचारी नरेश कुमार भंडारी के सिर पर चोट लगी है। उन्हें तीन टांके लगे हैं।

तहसीलदार दीनानाथ ने बताया कि 16 अक्तूबर रात 10:10 पर सुरक्षाकर्मी का फोन आया था। अवगत करवाया कि मंदिर बंद करने का समय हो चुका है और श्रद्धालु प्रांगण नहीं छोड़ रहे। उन्होंने कर्मी पर किसी डंडे से भी हमला किया। इसके बाद पुलिस को जानकारी दी गई।
... और पढ़ें

इंडियन टेक्नोमैक कंपनी का निदेशक कांगड़ा से गिरफ्तार

आर्थिक अपराध शाखा ने बैंक से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने वाले इंडियन टेक्नोमैक कंपनी लिमिटेड के निदेशक को हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा से गिरफ्तार किया है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आरके सिंह ने बताया कि आरोपी की पहचान विनय शर्मा (42) गांव पीर सलूही, कांगड़ा के रूप में हुई है। विनय शर्मा का हिमाचल प्रदेश में कई कारोबार हैं।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक ने विनय शर्मा और आरके शर्मा के खिलाफ वर्ष 2016 में बाराखंभा थाने में 30 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत की थी। उस समय दोनों इंडियन टेक्नोमैक लिमिटेड के निदेशक थे। जांच करने पर पता चला कि आरोपी के खिलाफ 15 बैंकों को 1528 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने की शिकायत की है। जिसकी जांच सीबीआई कर रही है। साथ ही अन्य बैंकों को 555 करोड़ का नुकसान पहुंचाने की शिकायत की है। हिमाचल प्रदेश में आरोपी के खिलाफ सीआईडी ने दो हजार करोड़ रुपये का उत्पाद शुल्क धोखाधड़ी के दो मामले दर्ज किए थे। 

पुलिस ने बताया कि छानबीन के दौरान पता चला कि जिन कंपनियों को आधार मानकर आरोपी बैंकों से लोन लेता था वे कंपनियां कहीं थी ही नहीं। वह जिन वाहनों को नंबर दिल्ली से हिमाचल प्रदेश सामानों को लाने और ले जाने के लिए बैंक को दिए थे सभी फर्जी निकले। यातायात विभाग की ओर से बताया गया कि दिए गए नंबर या तो स्कूटी के हैं या फिर मोटरसाइकिल के हैं। धोखाधड़ी में शामिल होने की पुष्टि होने के बाद पुलिस आरोपी की तलाश में दबिश दी और शुक्रवार को आरोपी को कांगड़ा से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उसे रिमांड पर लेकर छानबीन कर  रही है। 
... और पढ़ें

कांगड़ा: इकलौते बेटे ने कुल्हाड़ी से वार कर डाली पिता की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

इंडियन टेक्नोमैक (फाइल फोटो)
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में पुलिस थाना शाहपुर के तहत मछियाल में इकलौते बेटे ने कुल्हाड़ी से वार कर अपने पिता को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि पिता-पुत्र में यह विवाद पैसों को लेकर हुआ था। आरोपी की पहचान सुनील कुमार (45) निवासी मछियाल के रूप में हुई है।  जानकारी के मुताबिक आरोपी सुनील कुमार की अपने पिता के साथ बहस हुई थी, जो इतनी बढ़ गई कि बेटे ने तैश में आकर अपने ही पिता कुशाल सिंह की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी। वारदात की सूचना मिलने पर परिवार के अन्य लोगों ने घायल को सिविल अस्पताल शाहपुर में दाखिल करवाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

थाना शाहपुर ने आरोपी सुनील कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। एसएचओ त्रिलोचन सिंह ने बताया कि परिवार से भी पूछताछ की जाएगी। वहीं बीएमओ सिविल अस्पताल शाहपुर हरिंद्र ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए धर्मशाला भेज दिया है। कुशाल सिंह पूर्व सैनिक थे। उनकी दो बेटियां भी हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर हत्या का आरोपी सुनील कुमार भी शादीशुदा है। आरोपी कोई कामधंधा नहीं करता था। बताया जा रहा है कि आरोपी नशे का आदी था और पैसों के लिए हर रोज परिवार के साथ झगड़ा करता था। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

हिमाचल: बंदूक को लेकर हुई बहस में चला दी गोली, भाई की मौत, भाभी घायल

बंदूक को लेकर हुई बहस के बीच छोटे ने बड़े भाई और भाभी पर गोली चला दी। गोली लगने से बड़े भाई की मौत हो गई, जबकि महिला टांडा मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। गगल थाने के तहत केटलू (अंबाड़ी) गांव में यह वारदात मंगलवार रात को हुई। पवन कुमार चौधरी (45) पुत्र पाला राम निवासी केटलू ने अपने बड़े भाई रूमी कुमार (58) की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना में भाभी पुष्पा देवी भी छर्रे लगने से घायल हो गईं। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

गगल पुलिस थाना प्रभारी मेहर दीन ने बताया दोनों भाइयों में अकसर झगड़ा होता रहता था। मंगलवार रात को भी आरोपी पवन कुमार अपने भाई रूमी के घर आया और किसी बात पर गालीगलौज करने लगा। दोनों में पिता की ओर से खरीदी गई बंदूक को लेकर बहस हो गई। पिता की मृत्यु के बाद बंदूक रूमी कुमार के नाम पर है। आरोपी ने कहा कि पिता की बंदूक पर उसका भी हक है। काफी बहस के बाद वह उनके घर में चला गया।

थोड़ी देर बाद चुपके से बंदूक ले गया। रात को जब उसका भाई रूमी और उसकी पत्नी पुष्पा बाहर आंगन में खड़े थे। इस बीच आरोपी पवन कुमार ने आंगन में खड़े होकर भाई पर गोली चला दी। घायलावस्था में दोनों को टांडा मेडिकल कॉलेज लाया गया। यहां डॉक्टरों ने रूमी को मृत घोषित कर दिया, जबकि घायल महिला को भर्ती कर लिया गया। महिला की हालत अभी स्थिर है। उधर, थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वीरवार को उसे कांगड़ा के न्यायालय में पेश किया जाएगा।
... और पढ़ें

कांगड़ा: स्वतंत्रता सेनानी ससुर को डंडों से पीटने पर बहू गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के लंबागांव इलाके की पंचायत मझेड़ा में एक बहू द्वारा अपने स्वतंत्रता सेनानी ससुर सुखीराम (102) को डंडे से बुरी तरह पीटने का मामला सामने आया है। एसडीएम जयसिंहपुर और पुलिस ने इस घटना का कड़ा संज्ञान लिया है। एसडीएम ने डीएसपी बैजनाथ को जांच के आदेश दिए, जिसके बाद पुलिस ने धारा 452, 323, 504 और 506 के तहत मामला दर्ज कर महिला को गिरफ्तार कर लिया। इस पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हर कोई बहू की निंदा कर रहा है। जानकारी के अनुसार वायरल वीडियो में दिख रहा है कि लंबागांव विकास खंड की मझेड़ा पंचायत में स्वतंत्रता सेनानी को उसकी बहू डंडे से पीट रही है।

महिला का पति चुपचाप तमाशा देख रहा है। महिला का पति क्लास -1 अधिकारी बताया जा रहा है। ससुर को पिटता देख दूसरी बहू ससुर को जब अपने कमरे में ले आई तो बुजुर्ग उनके सामने रोने लगता है। पिटाई करने वाली महिला को जब पता चलता है कि उसका वीडियो बन चुका है, तो वह डंडा लेकर अपने भतीजे के ऊपर भी हमला कर देती है। वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही स्थानीय प्रशासन हरकत में आ गया। एसडीएम जयसिंहपुर पवन कुमार ने डीएसपी बैजनाथ को मामले की छानबीन के आदेश दिए हैं। डीएसपी बैजनाथ बीडी भाटिया ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी महिला को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है। स्थानीय विधायक रविंद्र रवि धीमान ने भी घटना को शर्मसार करने वाला करार देते हुए पुलिस से कड़ी कार्रवाई करने को कहा है।
... और पढ़ें

शराब के नशे में छोटे ने बड़े भाई को डंडों से पीट-पीटकर मार डाला, आरोपी गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में पुलिस चौकी गंगथ के तहत पंचायत रप्पड़ के खडोल गांव में छोटे भाई ने शराब के नशे में बड़े भाई को डंडों से पीट-पीटकर मार डाला। बड़े भाई की पत्नी सोनिया के बयान पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी हैं। 

पुलिस को दिए बयान में रघुवीर सिंह (27) की पत्नी सोनिया ने बताया कि रविवार रात उनके पति और देवर शक्ति सिंह ने काफी शराब पी थी। इस दौरान दोनों भाइयों के बीच किसी बात पर आपस में बहस शुरू हो गई। शराब के नशे में शक्ति चंद ने रघुवीर सिंह के सिर और छाती पर डंडे से प्रहार कर दिए। इससे रघुवीर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। 

घटना की सूचना मिलते ही गंगथ पुलिस चौकी की टीम घटनास्थल पर पहुंची और साक्ष्य जुटाने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए नूरपुर अस्पताल भेजा। आरोपी भाई वारदात के बाद मौके से फरार हो गया। उसे सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

दोनों भाई मेहनत मजदूरी का काम करते थे। उधर, डीएसपी नूरपुर अशोक रत्न ने बताया कि पुलिस ने फरार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। सोमवार को नूरपुर सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव परिजनों को सौंप दिया गया।
... और पढ़ें

नाबालिग को घर से भगाने और दुष्कर्म करने के दोषी को 10 साल कैद

एक नाबालिग लड़की को प्रेमजाल में फंसा कर घर से भगाने और उसके साथ दुष्कर्म करने के दोषी को न्यायालय ने 10 साल कठोर कैद की सजा सुनाई है। इसके अलावा दोषी को 10 हजार रुपये का जुर्माना भरने के भी आदेश दिए हैं। यह सजा विशेष न्यायाधीश कृष्ण कुमार की अदालत ने सुनाई है। केस की जानकारी देते हुए जिला न्यायवादी राजेश वर्मा ने बताया कि नंदरूल कांगड़ा का नसीब सिंह 20 जून, 2014 को उपमंडल शाहपुर के एक गांव की 16 वर्षीय नाबालिग को घर से भगाकर ले गया था। इस संबंध में नाबालिग के पिता के थाना में शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि 20 जून को उनकी बेटी शाम के समय साथ लगते गांव के अपने मामा के यहां जाना कहकर गई थी। कुछ समय बाद उन्होंने बेटी के मामा से पूछा तो पता चला कि उनकी बेटी वहां नहीं पहुंची।

इसके बाद जब उसके कमरे में गए तो वहां कुछ संपर्क नंबर मिले, लेकिन सभी नंबर स्विच ऑफ थे। उसके बाद पुलिस ने 25 जून को नाबालिग नसीब सिंह के घर से बरामद की। पुलिस जांच में पाया कि दोनों को घर से भगाने में नसीब सिंह के सात परिचितों ने भी मदद की। नाबालिग की पूछताछ व मेडिकल से उसके साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई। पुलिस जांच के बाद स्पेशल जज कृष्ण कुमार की अदालत में पहुंचे मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से केस की पैरवी एलएम शर्मा, कपिल देव शर्मा व आरडी चौधरी ने की। अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में कुल 20 गवाह पेश किए गए। गवाहों के बयानों के आधार पर न्यायालय ने नसीब सिंह को 10 साल कठोर कारावास व 10 हजार रुपये जुर्माना सजा सुनाई है। वहीं जुर्माना अदा न करने की सूरत में दोषी को छह माह अतिरिक्त कारावास की सजा भी भुगतनी होगी।
... और पढ़ें

पुलिस पूछताछ करने लगी तो भाग गया आरोपी, पुल से लगा दी छलांग

पालमपुर में बाइक चोरी करने का आरोपी युवक पुलिस की पूछताछ के दौरान भाग गया। पुलिस ने उसका पीछा किया तो युवक ने डर के मारे पुल से ही छलांग लगा दी, जिससे वह घायल हो गया है। पुलिस उसे अस्पताल ले गई है। मामले की जांच जारी है। जानकारी के अनुसार बाइक चोरी के मामले में पुलिस एक युवक से पूछताछ कर रही थी। अभी पुलिस युवक से पूछताछ कर ही रही थी कि युवक वहां से भाग गया।

पुलिस उसे पकड़ने के लिए पीछे भागी तो युवक ने थाने के साथ लगते पुल से नीचे छलांग लगा दी। उसे चोटें आई हैं। घायल अवस्था में पुलिस उसे अस्पताल ले गई, जहां उसकी हालत ठीक बताई गई है। दो दिन पहले पालमपुर में एक निजी मॉल के बाहर काम करने वाले युवक की बाइक चोरी हुई थी, जिसकी शिकायत पुलिस में की गई थी।

पुलिस ने शिकायत आते ही बाइक की छानबीन की और सीसीटीवी कैमरों की मदद से रविवार को आरोपी युवक को बाइक समेत पकड़ लिया। जब पुलिस युवक से पूछताछ करने लगी तो इस बीच वह वहां से भाग गया। उधर, डीएसपी पालमपुर अमित शर्मा ने कहा कि पूछताछ के दौरान युवक भाग गया था, जिसे पकड़ लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00