बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

60 एकड़ जमीन के बंटवारे के लिए बुलाई पंचायत, कहासुनी होने पर भतीजों ने चलाई गोली, पांच लोग घायल

गांव कंडरौली में बुधवार की सुबह 8 बजे लगभग 60 एकड भूमि के बटवारें को लेकर हुई पंचायत में विवाद हो गया। इस दौरान दो भतीजों ने अपने दो ताया, उनके दो बेटों और फूफा पर सात गोलियां बरसाकर गंभीर घायल कर दिया है।
 
गोली चलने की आवाज सुनकर ग्रामीण घटनास्थल की ओर भागे। पांचों घायलों को रादौर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी गंभीर हालत को देखते हुए यमुनानगर के गाबा अस्पताल रेफर कर दिया गया। घायलों में पूर्व सरपंच सुरेंद्र पाल ढांडा व उनके भाई राजपाल ढांडा की हालत गंभीर है। 

मामले की सूचना मिलने के बाद डीएसपी रादौर कुशल पाल राणा भारी पुलिसबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। वहीं फॉरेसिंक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। घटना के बाद हमलावर भतीजे रमन व लखन अपने पिता एडवोकेट बलिंद्र पाल ढांडा के साथ लाडवा की ओर फरार हो गए। गांव में गोली चलने की घटना से लोगों में दहशत का माहौल है। 

जानकारी के अनुसार गांव कंडरौली निवासी पूर्व सरपंच व फाइनेंसर सुरेंद्र पाल ढांडा व उनके तीन भाइयों राजपाल ढांडा, रामपाल ढांडा व सबसे छोटे भाई एडवोकेट बलिंद्र पाल ढांडा ने गांव कंडरौली व गुमथला में लगभग 60 एकड़ पारिवारिक भूमि के बंटवारे को लेकर बुधवार को पंचायत बुलाई। जिसमें कुछ रिश्तेदार भी थे। 
... और पढ़ें

यमुनानगरः दुष्कर्म के मामले में बरी युवक की तीन गोलियां मारकर हत्या, 3 मिनट में खत्म किया किस्सा

हरियाणा के यमुनानगर जिले में जगाधरी की गांधीधाम कॉलोनी में दुष्कर्म के केस में बरी युवक की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। आरोपियों ने पहले दूर से छत्रपाल को दो गोलियां मारी, जो उसकी छाती व पेट में लगी। दो गोलियां लगने के बाद भी छत्रपाल बॉबी सीमेंट स्टोर के आगे ईंटों के ढेर के पास नीचे गिर गया। जब वह नीचे गिरा, तो एक हमलावर बोला कि यह अभी मरा नहीं है, एक गोली और मार। मुख्य आरोपी ने फिर उसके सिर में पिस्टल सटाकर तीसरी गोली मारी और उसके बाद ईंट से उस पर वार किया, जिससे वह अचेत हो गया और दोनों हवा में हथियार लहराते हुए मौके से फरार हो गए।

प्रत्यक्षदर्शी बिहार के जिला बेतिया के गांव लोकरिया निवासी अखिलेश कुमार ने बताया कि वह भी सीमेंट की दुकान पर पल्लेदारी का कार्य करता है और छत्रपाल पर दुकान पर मजदूरी के लिए आया था। सुबह करीब पौने दस बजे जब छत्रपाल दुकान के आगे खड़ा था, तभी पैदल पैदल दो युवक आए और वारदात को अंजाम दिया। मृतक छत्रपाल पर डेढ़ साल पहले एक लड़की की शिकायत पर दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया था। लड़की का आरोप था कि छत्रपाल व उसके दो अन्य साथी उसे अपने साथ पौंटा साहिब ले गए थे। जहां पर छत्रपाल ने उसके साथ दुष्कर्म किया था।

पुलिस ने तब उसे गिरफ्तार कर जेल में रखा हुआ था। मामले में छत्रपाल के खिलाफ कोई सबूत न होने पर बीती 20 जनवरी कोकोर्ट ने उसे बरी कर दिया था। कोर्ट से बरी होने पर छत्रपाल जेल से बाहर आया था। छत्रपाल के भाई विश्वनाथ ने बताया कि युवती द्वारा दुष्कर्म का आरोप लगाने के बाद उसके भाई छत्रपाल से रंजिश रखने लगे थे। इसके बाद युवती के भाईयों ने छत्रपाल से मारपीट की थी। इस दौरान छत्रपाल को अधमरा कर छोड़ दिया गया था। इसके बाद पुलिस ने मामले में छत्रपाल की शिकायत पर युवती के भाई समेत कई लोगों पर मारपीट का केस दर्ज किया था।

लड़की पक्ष की तरफ से दुष्कर्म का केस दर्ज करवाया गया था। दुष्कर्म की रंजिश में लड़की के भाई व अन्य ने छत्रपाल से मारपीट की। जिसके बाद छत्रपाल की तरफ से लड़की के भाई व अन्य पर केस दर्ज करवाया गया था। दोनों तरफ से केस दर्ज होने के कुछ दिन बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया था। जिससे दुष्कर्म केस कमजोर पड़ गया था और इसमें छत्रपाल कोर्ट से बरी हो गया।
... और पढ़ें

चोरी के शक में खौफनाक वारदात, लोगों ने युवक को बंधक बना पीट-पीटकर मार डाला

सदर थाना क्षेत्र के गांव किशनपुर दामला में प्लाइवुड फैक्ट्री के क्वार्टरों में चोरी के शक में कुछ मजदूरों ने एक युवक को पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई की। इस दौरान युवक के तीन साथी मौके से फरार हो गए। मजदूरों ने पकड़े गए युवक को रस्सी से बांध दिया और उसे बुरी तरह से पीटा।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और अचेत हालत में पड़े युवक को अस्पताल में पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने उसकी मौत होने की पुष्टि की। युवक की शनाख्त न होने पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया। पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। 

किशनपुरा दामला निवासी एक व्यक्ति ने बंद पड़े टोल प्लाजा के क्वार्टर बना रखे हैं। जिनमें दामला के आसपास बनी फैक्ट्रियों के मजदूर रहते हैं। गुरुवार अलसुबह करीब पांच बजे फैक्ट्री मजदूरों के क्वार्टर में कुछ युवक घुस गए। अंदेशा था कि युवक चोरी करने के इरादे से घर में घुसे थे और चोरी कर रहे थे। शोर सुनकर मजदूरों की आंख खुल गई, तो उसने युवकों को देखकर शोर मचा दिया। जिस पर आसपास के श्रमिक एकत्र हो गए।
... और पढ़ें

हरियाणा : यमुनानगर से जुड़े रेमडेसिविर की कालाबाजारी के तार, गुरुग्राम व चंडीगढ़ के दवा कारोबारी एसटीएफ के रडार पर

उत्तर प्रदेश के कानपुर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजरी का भंडाफोड़ हुआ है। इसके तार यमुनानगर से भी जुड़े होने का खुलासा हुआ है। कानपुर में पकड़ा गया एक आरोपी सचिन छछरौली ब्लॉक के गांव ताहरपुर का रहने वाला है। पकड़े गए आरोपियों की कॉल डिटेल में यमुनानगर, गुरुग्राम और चंडीगढ़ के ड्रग कारोबारियों के नंबर मिले हैं। यूपी एसटीएफ कारोबारियों और संदिग्ध लोगों से पूछताछ कर सकती है। विदित हो कि पकड़े गए आरोपियों के पास से 265 इंजेक्शन बरामद हुए हैं जो यमुनानगर आने थे, जिन्हें लेने के लिए सचिन कानपुर गया था। 

सूत्रों के अनुसार बरामद रेमडेसिविर इंजेक्शन पश्चिमी बंगाल से कानपुर भेजा गया था, जहां से इसे यमुनानगर और हरियाणा के अन्य जिलों में सप्लाई की जानी थी। इसी बीच इसकी भनक मिलिट्री इंटेलीजेंस को लगी और फिर कानपुर में एसटीएफ को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद एसटीएफ ने पहले प्रशांत शुक्ला और मोहन सोनी को गिरफ्तार किया। 

यह भी पढ़ें-
दो बच्चों के शव मिले, एक अब भी लापता...मरने से पहले पिता ने की ये वारदात, वजह भी जान लें

पूछताछ के आधार पर यमुनानगर के सचिन को दबोचा गया। सूत्रों के अनुसार मामले की जांच के लिए यूपी एसटीएफ की टीम यमुनानगर भी पहुंच सकती है। इंजेक्शन की कालाबाजारी करने में पकड़ा गया एक अन्य युवक मोहन लॉकडाउन से पूर्व गुरुग्राम की एक फार्मा कंपनी में सेल्स का कार्य करता था और थोक बाजारों से दवाइयां लेकर दुकानों पर सप्लाई करता था। इस कारण उसका संपर्क हरियाणा के प्रत्येक जिले में है। 
... और पढ़ें
पकड़े गए आरोपी। पकड़े गए आरोपी।

पति-पत्नी ने कई लड़कों से करवाया 13 साल की बच्ची का दुष्कर्म, छह माह की गर्भवती हुई फिर भी नहीं छोड़ा

हरियाणा के यमुनानगर जिले में एक दंपती द्वारा 13 साल की लड़की से अलग-अलग लड़कों के साथ गलत काम करवाने का मामला प्रकाश में आया है। इस दौरान बच्ची गर्भवती हो गई। इसके बावजूद भी आरोपी बाज नहीं आए और छह महीने की गर्भवती बच्ची के शरीर को हवस के भूखे लोगों के पास भेजते रहे।
 
गर्भवती होने के बाद भी लगातार शारीरिक संबंध बनाए जाने के चलते लड़की की हालत बिगड़ गई। मंगलवार को बच्ची की मां और पिता उसे सरकारी अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टरों ने बच्ची के गर्भवती होने की जानकारी दी।

सूचना मिलने पर चाइल्ड लाइन की निदेशिका अंजू बाजपेयी पहुंची और बच्ची की काउंसलिंग करके उससे सारी जानकारी ली। बच्ची ने चाइल्डलाइन के सामने खुद के साथ हुई पूरी खौफनाक कहानी बयां की। इस संबंध में बच्ची के पिता की शिकायत पर आरोपी महिला और उसके पति और अन्य अनजान लड़कों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है।

यह भी पढ़ें- 
घातक हुआ कोरोना : हरियाणा सरकार ने रद्द की 10वीं की बोर्ड परीक्षा, 12वीं पर अभी फैसला नहीं
... और पढ़ें

कैथल से लापता स्कूल पार्टनर की यमुनानगर में मिली गर्दन कटी लाश

कैथल के सीवन से लापता श्री गुरूनानक गर्ल्स पब्लिक स्कूल के पार्टनर जयपाल नैन की गर्दन काटकर हत्या कर दी गई है। यमुनानगर में आवर्धन नहर के किनारे कार में शव पड़ा मिला। टोडरपुर गांव के समीप नहर के किनारे कच्चे रास्ते में कार नंबर पीबी 13 एआर 3637 कीचड़ में धंसी मिली है। इसी कार की अगली सीट पर जयपाल का गर्दन कटा शव भी मिला। 

राहगीरों ने गाड़ी फंसी देखी तो वे कार के पास पहुंचे तो उन्हें कार में खून के धब्बे और शव पड़ा दिखाई दिया। उन्होंने शोर मचाया तो एक फैक्टरी के मालिक ने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। डीएसपी और सीआईए प्रभारी फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे। मृतक के पास मिले कागजात की जांच करने पर उसकी पहचान जयपाल नैन के रूप में हुई। इस संबंध में जयपाल की गुमशुदगी की रिपोर्ट शनिवार रात को कैथल के सीवन थाने में दी गई थी।

पुलिस को दी शिकायत में सेक्टर-19 निवासी बलविंद्र ने बताया था कि उसका अपना पिसोल में श्री गुरूनानक गर्ल्स पब्लिक स्कूल है। 16 जनवरी को सुबह माडल टाउन निवासी स्कूल पार्टनर जयपाल नैन स्कूल आया था और छुट्टी होने के बाद अपनी कार नंबर पीबी 13एआर 3637 लेकर स्कूल से कैथल की ओर चला गया। जो कि अपने घर जाने की बात कह कर निकला था लेकिन घर नही पहुंचा। जिसकी हमने अपने स्तर पर तलाश की लेकिन कुछ भी पता नहीं चला। स्कूल पार्टनर जयपाल नैन का मोबाइल नंबर भी शाम चार बजे से बंद आ रहा है।

रविवार को जयपाल का शव यमुनानगर से बरामद होने पर पुलिस ने इसकी सूचना सीवन पुलिस और परिजनों को भिजवाई। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवा दिया है। 

डीएसपी सुभाषचंद का कहना है कि कार में शव मिलने की जानकारी एक फैक्टरी संचालक ने दी थी। पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। जांच में पता चला है कि मृतक जयपाल नैन कैथल का रहने वाला था और शनिवार दोपहर से लापता था। इस संबंध में सीवन थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया गया था। शव  मिलने की जानकारी कैथल पुलिस और परिजनों को भिजवा दी गई है।  
... और पढ़ें

घर में मिला रिटायर्ड कैप्टन का गला-सड़ा शव, बेटा बोला- पिताजी अभी सो रहे, उठकर खाना खाएंगे

हरियाणा के यमुनानगर जिले के जगाधरी के हुडा सेक्टर 17 में भारतीय सेना से ऑनरेरी कैप्टन रैंक से रिटायर्ड 80 वर्षीय राम सिंह का गला-सड़ा शव घर से बरामद हुआ है। रिटायर्ड कैप्टन यहां अपने मानसिक रूप से परेशान बेटे प्रवीण कुमार के साथ रहते थे। बेटे को यह भी पता नहीं था कि उसके पिता की मौत हो चुकी है। वह छत पर कपड़े एकत्रित कर उनमें आग लगा रहा था। 

उसे देख जब आसपास के लोग घर पहुंचे तो उन्हें रिटायर्ड कैप्टन का गला-सड़ा शव देखा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। प्राथमिक जांच में बुजुर्ग की मौत पांच दिन पहले ठंड लगने की वजह से हुई लग रही है। पांच दिन से उसका मानसिक रूप से विक्षिप्त बेटा उसी के साथ रह रहा था। 

जानकारी अनुसार प्रवीण मानसिक रूप से परेशान हैं। रिटायर्ड कैप्टन की पत्नी की कुछ साल ही पहले मौत हो चुकी है, वहीं एक बेटी थी, वह भी मर चुकी है। गुरुवार सुबह कैप्टन के बेटे प्रवीण ने छत पर कुछ कपड़े इकट्ठे किए और उनमें आग लगा दी। पड़ोस में ही छत से किसी महिला ने उसे आग लगाते देखा। तब पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर प्रवीण को रोका और उससे कपड़े लिए। इसी दौरान पुलिस ने देखा तो एक कमरे में रजाई के नीचे वृद्ध का शव पड़ा था। पुलिस ने उसके बेटे से इस बारे में पूछा तो उसने बताया कि पिताजी अभी सो रहे हैं, उठकर खाना खाएंगे।

पुलिस टीम ने तुरंत शव को कब्जे में लिया और पड़ोसियों से पूछताछ की। पड़ोसियों का कहना है कि कैप्टन के परिवार का किसी के साथ बोलचाल नहीं थी, जिसके चलते उसके बारे में कोई कुछ नहीं जानता। न ही उनके घर कोई आता जाता था।

हुडा सेक्टर 17 थाना प्रभारी अजीत कुमार का कहना है कि मृतक के बेटे को अपने पिता के बारे में कुछ जानकारी नहीं है। वह केवल यहीं कह रहा है कि उसके पिता सो रहे है। मृतक के शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। प्राथमिक जांच में वृद्ध की मौत ठंड की वजह से हुई है। फिलहाल शव को पोस्टमॉर्टम हाउस में रखवाया गया है। पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के वास्तविक कारणों का पता चल पाएगा।
... और पढ़ें

दो महीने के प्रेम विवाह में दो बार जानलेवा हमला, पार्षद को घर में घुसकर मारी गोली 

रिटायर्ड कैप्टन की फाइल फोटो।
हरियाणा के यमुनानगर के रादौर के पार्षद देवेंद्र लक्की पर उनके घर में घुस कर कुछ अज्ञात लोगों ने गोली चला दी। लक्की ने 25 अक्तूबर को प्रेम विवाह किया था। उसके बाद से डेढ़ माह में यह उन पर दूसरा हमला है। लक्की पूर्व कांग्रेस विधायक मास्टर रामसिंह के पोते हैं। हमलावर पार्षद के घर में पीछे गली में बने रास्ते से घुसे और उन्हें गोली मारकर फरार हो गए। 

पार्षद लक्की की दाहिनी जांघ में गोली लगी थी। उन्हें यमुनानगर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पार्षद पर गोली चलने की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल, डीएसपी हेडक्वार्टर सुभाष चंद, सीआईए वन इंचार्ज राकेश मटोरिया, रादौर थाना प्रभारी गुरदेव सिंह व सीन ऑफ क्राइम की टीम मौके पर पहुंची। टीम की ओर से डॉ. चंद्रशेखर ने मौके से साक्ष्य जुटाए। 


जांच में पुलिस को पार्षद पर चलाई गई गोली का खोल मौके से बरामद नहीं हुआ। पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल ने घायल हुए पार्षद के परिजनों से पूछताछ की। परिजनों ने बताया कि वह गोली चलने के समय मकान के ऊपर कमरों में थे। उन्हें अधिक जानकारी नहीं है। पुलिस ने पार्षद देवेंद्र लक्की की शिकायत पर अज्ञात के विरुद्ध हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है।

पार्षद देवेंद्र लक्की ने 25 अक्तूबर को शहर की एक लड़की के साथ प्रेम विवाह किया था। शादी से लड़की पक्ष के लोग खुश नहीं थे। नौ नवंबर को पार्षद देवेंद्र लक्की अपने परिवार के कुछ लोगों के साथ कुरुक्षेत्र जा रहे थे तो गांव अलीपुरा के पास उनकी कार को तीन कारों में आए हथियारों से लैस युवकों ने टक्कर मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया। वहीं हमलावरों ने लक्की पर लोहे की रॉड से हमला कर उन्हें घायल कर दिया था।

लक्की पर हमलावरों ने तीन राउंड फायर भी किए थे लेकिन वह बच गए थे। हमला करने व जातिसूचक शब्द कहने पर रादौर पुलिस ने पार्षद देवेंद्र लक्की के भाई धर्मवीर की शिकायत पर धारा 148, 149, 285, 506, आर्मस एक्ट व एससीएसटी एक्ट के तहत एक युवक सहित 10-12 अन्य लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया था। 
... और पढ़ें

हरियाणा में नेपाली महिला से सामूहिक दुष्कर्म, पति के हाथ-पांव बांध पांच आरोपियों ने की वारदात

हरियाणा के यमुनानगर में खेतों में बने ट्यूबवेल पर बने कमरे पर रहने वाले एक व्यक्ति को बंधक बनाकर उसकी पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पीड़ित मूलरूप से नेपाल के रहने वाले हैं। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल, छछरौली थाना प्रभारी पृथ्वी सिंह समेत कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

यह भी पढ़ें-
कौन थे पंडित गोलकनाथ, जिनके नाम पर बना पंजाब का सबसे पुराना चर्च, रोचक है इतिहास

एसपी ने बताया कि पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्जकर जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह अपने पति के साथ 14 साल से क्षेत्र के एक गांव में एक व्यक्ति के ट्यूबवेल के कमरे पर रहती है और मेहनत मजदूरी करती हैं। उसने बताया कि गुरुवार रात करीब 11 बजे वह कमरे में और उसका पति बाहर बरामदे में सो रहा था। इस दौरान एक कार से पांच लोग आए और उसके पति से मारपीट कर उसके हाथ-पैर बांधकर बंधक बना लिया। 


यह भी पढ़ें- हर बार किस्मत नहीं देती साथ...दो माह पहले मौत के मुहाने से लौटा, अब ठीक वैसे ही 'साथी' संग गई जान

इसके बाद आरोपी उसके कमरे में घुस गए। इस दौरान पांचों व्यक्तियों ने उसकी गर्दन पर चाकू रख दिया। वह जाते समय उसके पति के फोन से सिम भी निकालकर ले गए। उसका कहना है कि उसने पहले कभी उनको नहीं देखा। वह अगर उसके सामने आ जाएं तो वह उनको पहचान सकती है। उनके यहां से जाने के बाद उसने अपने पति के हाथ-पांव खोले और वे दोनों नजदीक के गांव में पहुंचे। वहां से एक व्यक्ति के फोन से उन्होंने अपने मालिक को फोन किया और अपने साथ हुई वारदात के बारे में बताया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को भी दी। 
... और पढ़ें

व्यक्ति ने बेदर्दी से की ज्योतिषी की हत्या, बोला- समस्या का समाधान नहीं हुआ तो मार डाला

हरियाणा के यमुनानगर में ज्योतिषी ईश्वर दत्त की हत्या कर भाग रहे हत्यारोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 57 वर्षीय हत्यारोपी रमन कुमार ने प्रथम पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसकी जिंदगी में बहुत उतार-चढ़ाव चल रहे थे। इस दौरान किसी ने बताया कि वह ज्योषिताचार्य से परामर्श ले। जिस पर ईश्वरदत्त से मिला और उसने उसे कुछ उपाय करने को कहा। उपाय करने पर कुछ दिन उसे लाभ हुआ, लेकिन उसे बाद में कोई फायदा नहीं पहुंचा। हालांकि पुलिस इस बात को हत्या का कारण नहीं मान रही है।

पुलिस हत्या की सही वजह पता लगाने के लिए पुलिस जांच कर रही है। दुकान में सामान लेने गए बुजुर्ग की दिन दहाड़े हत्या के बाद शहर में सनसनी फैल गई। लेकिन हत्या की वजह जो सामने आई वह जानकर लोग हैरान हैं। चूंकि हत्या ज्योतिषि के द्वारा बताए उपायों से शांति न होना बताया जा रहा है। वारदात रेलवे बाजार स्थित करीब दो फीट चौड़ी रायपुरियान गली में दिन दहाड़े हुई। हत्यारोपी बुजुर्ग की दुकान पर अपनी परेशानियों के उपायों के लिए काफी समय से आया करता था।

ज्योतिषी के पुत्र ने बताया कि रायपुरियान कॉलोनी निवासी 70 वर्ष ईश्वरदत्त शर्मा पहले अपनी दशकों पुरानी दुकान पर बैठते थे लेकिन उम्र ज्यादा होने के कारण वे घर ही रहते थे। वे ज्योतिषी का काम भी करते थे। हत्यारोपी रमन का काफी समय से उनके घर आना जाना था। वह बुजुर्ग ज्योतिषी से अपनी परेशानियां हल करने के लिए वैदिक उपाय पूछता था।
... और पढ़ें

हरियाणा में दर्दनाक हादसा, पेड़ से टकराकर पलटी कार, तीन दोस्तों की मौत, एक गंभीर

हरियाणा के यमुनानगर में खजूरी रोड पर पेट्रोल पंप के पास तेज रफ्तार कार सामने से अचानक वाहन आने पर सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई। हादसा इतना तेज था कि कार के परखच्चे उड़ गए और कार खाई में पलट गई। खिड़की खुलने से कार सवार एक युवक बाहर निकल गया, जबकि तीन दोस्त कार के नीचे दब गए। हादसे में तीनों दोस्तों की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया। 

हादसा देर रात करीब 12.30 बजे हुआ। मृतकों की पहचान कुरुक्षेत्र के गांव सुरा निवासी गौरव (25) अजय (24) और गांव अलीपुरा निवासी मोहित कुमार (29) के रूप में हुई। गांव सुरा निवासी गौरव (23) घायल है। चारों दोस्त घूमने जठलाना की तरफ आए थे। पुलिस ने घायल गौरव की शिकायत पर अज्ञात वाहन चालक पर केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। 


दोस्त से कार मांग कर लाया था गौरव
कुरुक्षेत्र के गांव सुरा निवासी गौरव ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह ड्राइवरी का काम करता है। मंगलवार को वह अपने दोस्त चंदेडा निवासी विनोद से कार मांग कर लाया था। जिसे देर शाम वापस करने जा रहा था। रास्ते में विनोद को फोन किया तो पता चला कि वह अभी करनाल है। तभी उसके पास दोस्त अलीपुरा निवासी मोहित का फोन आया। उसने उसे जरूरी काम से अपने गांव बुलाया।
... और पढ़ें

कलयुगी पिता... बेटे की चाहत में पांच दिन की मासूम बच्ची को टांग के नीचे दबाकर मार डाला

यमुनानगर के सदर थाना क्षेत्र की रूपनगर कॉलोनी में मां के साथ सो रही पांच दिन की बच्ची को उसके पिता ने टांग के नीचे दबाकर मार डाला। शादी के करीब पांच साल बाद बच्ची हुई थी। बताया जा रहा है कि उसके पिता को बेटे की चाह थी, लेकिन जब पत्नी ने बेटी को जन्म दिया तो बेटे की चाह में उसके पिता ने टांग के नीचे दबाकर उसकी हत्या कर दी। जब पत्नी नींद से जागी तो उसने आरोपी की टांग से मासूम को निकाला। लेकिन तब तक मासूम हमेशा के लिए मौत की नींद सो गई थी।

हत्या के बाद से आरोपी पिता फरार है। पुलिस ने बच्ची की मां की शिकायत पर आरोपी पिता के खिलाफ हत्या का केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। बाड़ी माजरा की रूपनगर कॉलोनी निवासी वर्षा ने सदर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी शादी साल 2015 में नीरज के साथ हुई थी। उसके कुछ दिनों बाद से ही वे अपनी ससुराल से अलग रूपनगर में ही किराये के मकान पर रहते थे। उसका पति नीरज नशे का आदि है। शादी के बाद से उनके पास कई साल तक कोई बच्चा पैदा नहीं हुआ था।

पांच साल बाद बीती 24 सितंबर को उसके पास बेटी पैदा हुई थी। उसका नाम उन्होंने काकी रखा था। लड़की पैदा होने के बाद से उसका पति नीरज उससे नाराज था। शायद उसे बेटे की चाह थी और उसके पास बेटी ने जन्म लिया। इसी के चलते वह उससे बात भी नहीं करता था। सोमवार रात को उसका पति घर पर नशा कर आया। उस समय वह अपनी बेटी के साथ तखत पर सोई हुई थी। उसका आरोपी पति भी उसके और काकी के बगल में लेट गया। इसी दौरान उसके पति ने उसकी बच्ची काकी के ऊपर जानबूझकर अपनी टांग रखकर उसे दबा दिया।

टांग के नीचे बच्ची का गला और पेट दबा हुआ था।  जब उसने यह देखा तो उसने तुरंत बड़ी मुश्किल से जबरन नीरज की टांग को हटाकर बच्ची को निकाला। लेकिन तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी। यह देख उसकी आंखें फटी की फटी रह गईं। उसने तुरंत फोन कर अपनी बहन रितू को मौके पर बुलाया तो आरोपी नीरज वहां से फरार हो गया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बच्ची के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया। पुलिस ने मृतक बच्ची की मां की शिकायत पर आरोपी नीरज के खिलाफ हत्या का मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

शादी का झांसा देकर तलाकशुदा महिला से किया दुष्कर्म, अब दूसरे से शादी करवाने ले गया सहारनपुर

तलाकशुदा महिला ने अपने दोस्त पर शादी का झांसा देकर एक साल तक दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। बुधवार को आरोपी घुमाने के बहाने महिला को सहारनपुर ले गया। जहां आरोपी उसकी शादी किसी अन्य युवक से करवाने लगा। लेकिन महिला ने आरोपी युवक से ही शादी करने की बात कही। युवक के इनकार करने पर महिला ने इसकी शिकायत पुलिस को दी।

जगाधरी की एक कॉलोनी निवासी 20 वर्षीय तलाकशुदा महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी कुछ साल पहले एक युवक से शादी हुई थी। लेकिन शादी के बाद उनमें अनबन रहने लगी। जिसके बाद उसके पति ने उसे तलाक दे दिया। इसके बाद उसकी मुलाकात जगाधरी की दुर्गा गार्डन कॉलोनी निवासी संदीप उर्फ कन्नू से हुई।

आरोप है कि करीब एक साल से आरोपी उसे शादी का झांसा देकर मिलने लगा। आरोपी रात को उसके घर आता था और उसके साथ उसकी मर्जी के खिलाफ शारीरिक संबंध बनाता था। बुधवार को आरोपी उसे घुमाने के बहाने यूपी के सहारनपुर में ले गया। जहां आरोपी संदीप ने उसकी मर्जी के बिना किसी अन्य युवक से उसकी शादी करवाने लगा।

लेकिन उसने विरोध जताया और शादी करने से मना कर दिया। उसने आरोपी शादी संदीप से शादी करने को कहा। लेकिन आरोपी ने उसे मना कर दिया। जिसके बाद आरोपी संदीप उसे जगाधरी छोड़ कर फरार हो गया। जांच अधिकारी एएसआई वेदपाल का कहना है कि पुलिस ने उसकी शिकायत पर आरोपी संदीप उर्फ कन्नू के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (2) (एन) के तहत केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन