विज्ञापन

-सीआईए-वन ने शनिवार देर रात को चार बदमाशों को किया काबू

Rohtak Bureau Updated Sun, 14 Jan 2018 08:36 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
लूटपाट और काकोदा गांव में केयर टेकर की हत्या करने वाला एक ही गैंग, लूट की नीयत से की थी हत्या
विज्ञापन
-पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने लूट व लूट के प्रयास की चार वारदातों को कबूला
-मिट्ठन स्वीट्स के संचालक, भैंसवाल में ठेका कारिंदे के साथ भी की थी लूटपाट
-काकोदा गांव में फार्म हाउस पर शुक्रवार रात को दिलबाग की गोली मारकर की थी लूटपाट
-गैंग के चार सदस्य बदल-बदलकर देते थे वारदातों को अंजाम

फोटो-25
अमर उजाला ब्यूरो
पानीपत। सीआईए-वन पानीपत ने काकोदा गांव में फार्म हाउस केयर टेकर की हत्या की वारदात को 24 घंटे में ही सुलझा दिया है। पुलिस ने इसमें सरगना समेत चार बदमाशों को काबू किया है। पुलिस के अनुसार चारों ने लूट की नीयत से केयर टेकर की हत्या की थी। बदमाश फार्म हाउस से करीब 21 हजार की नकदी भी लूटकर ले गए थे। बदमाशों ने विरोध करने पर पहले केयर टेकर को पीटा और फिर शोर मचाने पर गोली मारी थी। चारों में से तीन बदमाशों की मुलाकात करनाल जेल में हुई थी और चौथे बदमाश पुगथला निवासी को बाद में अपनी गैंग में शामिल किया था। प्राथमिक जांच में सामने आया कि चारों बदमाश पैसे के लिए वारदातों को अंजाम देते थे और पिछले 12 दिन में छह वारदातों को अंजाम दे चुके हैं।
सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप कुमार छिक्कारा ने बताया कि पुलिस को शुक्रवार देर शाम को सूचना मिली कि दो संदिग्ध किस्म के युवक भावना चौक पर राहगीरों के साथ लूट की वारदात को अंजाम देने की फिराक में खड़े हैं। उन्होंने एएसआई अनिल के नेतृत्व में टीम गठित कर मौके पर दबिश दी। पुलिस ने यहां से दो आरोपियों को काबू किया। जिनकी शिनाख्त सुरेंद्र उर्फ सुंदर निवासी धनसौली व विनोद उर्फ बोदा निवासी सीताराम कॉलोनी समालखा के रूप में की। दोनों आरोपियों ने प्राथमिक पूछताछ में ही काकोदा गांव में फार्म हाउस केयर टेकर दिलबाग उर्फ नंदी की पीटने के बाद गोली मारकर हत्या कर 21 हजार रुपये की नकदी लूटी थी। दोनों ने प्राथमिक पूछताछ में इस वारदात में सुरजभान निवासी मोहाली व अनुज निवासी पुगथला सोनीपत का भी वारदात में शामिल होना बताया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया और रविवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से कोर्ट ने विनोद को न्यायिक हिरासत में भेज दिया, जबकि सुरजभान, विनोद व सुरेंद्र उर्फ सुंदरी का दो दिन का रिमांड मंजूर कर दिया।

चारों ने आधा दर्जन वारदातों को दिया अंजाम
सीआईए-वन प्रभारी संदीप के अनुसार चारों आरोपियों ने अलग-अलग ग्रुप में शहर समेत जिले में आधा दर्जन वारदातों को अंजाम दिया।
सुरेंद्र, अनुज और सुरजभान ने तीन जनवरी को करनाल के बरसत गांव में एक व्यक्ति से प्लेटीना मोटरसाइकिल छीनी थी। जिस पर घरौंडा थाना में मुकदमा दर्ज है।
आरोपियों ने तीन जनवरी की शाम को थाना मॉडल टाउन के अंतर्गत बाईपास रोड पर टायल दुकानदार से हथियार के बल पर 47 हजार रुपये की लूट की थी।
सुरेंद्र व सुरजभान ने सात जनवरी को लालबत्ती चौक स्थित आचार दुकानदार महेंद्र के साथ हथियार के बल पर लूटपाट का प्रयास किया था।
सुरेंद्र व सुरजभान ने यहां पर फेल होने के बाद किला थाना के अंतर्गत उसी रात को मिट्ठन स्वीट्स के संचालक प्रमोद गुप्ता के साथ हथियार के बल पर 32 हजार रुपये की लूटपाट की थी।

पैसे की खातिर करते थे लूटपाट व हत्या
सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर इस गैंग का मुख्य आरोपी सुरेंद्र उर्फ सुंदर निवासी धनसौली है। 20 साल का सुरेंद्र नौवीं पास है और उस पर लूट और चोरी के पहले दो मुकदमे दर्ज हैं और वह एक बार जेल जा चुका है। सुरजभान निवासी मोहाली भी 20 साल का है और आठवीं कक्षा पास है। वह आर्म्स एक्ट व लड़ाई झगड़े के मामले जेल जा चुका है। विनोद उर्फ बोदा निवासी सीताराम कॉलोनी समालखा अनपढ़ है और फैक्ट्री में नौकरी करता था। अनुज निवासी पुगथला की उम्र 21 साल है और उसकी सोनीपत के गांव सरढ़ाना में नाई की दुकान है। सुरेंद्र, विनोद व सुरजभान की जेल में मुलाकात हुई थी। उन्होंने यहीं पर पैसा कमाने के लिए अपराध की दुनिया में कदम रख लिया था।

अनुज ने बनाई थी केयर टेकर के साथ लूटपाट की योजना
सीआईए-वन प्रभारी संदीप कुमार ने बताया कि काकोदा में फार्म हाउस केयर टेकर दिलबाग उर्फ नंदी की हत्या व लूट की वारदात की योजना पुगथला निवासी अनुज ने बनाई थी। दिलबाग उर्फ नंदी अनुज के घर आता-जाता था और उसके घर पर ही खाना खाता था। उसको पता था कि दिलबाग उर्फ नंदी के पास हर समय पैसे रहते हैं। सुरजभान की बहन पुगथला गांव में शादीशुदा है। यहीं पर सुरजभान व अनुज की मुलाकात हुई। सुरजभान ने उसको कम समय से ज्यादा पैसे कमाने का लालच देकर अपने साथ मिला लिया। अनुज ने दिलबाग उर्फ नंदी के पास जाकर पहले बातों में उलझा लिया और फिर उसको पीछे से पकड़ लिया। आरोपियों ने पहले उसको डंडे से पीटा और उसके माथे में कट्टे का बट मार दिया। दिलबाग उर्फ नंदी बचाव के लिए चिल्लाया तो सुरजभान ने उसकी छाती में सीधी गोली मार दी। वे यहां से 21 हजार रुपये लूटकर फरार हो गए।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Panipat

पूर्व सरपंच पर 1 करोड़ 15 लाख के गबन के मामले में एफआईआर होने के 10 माह बाद भी कार्रवाई शून्य

पूर्व सरपंच पर 1 करोड़ 15 लाख के गबन के मामले में एफआईआर होने के 10 माह बाद भी कार्रवाई शून्य

16 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

पानीपत: ड्यूटी के दौरान ताश खेल रहे थे दो पुलिसकर्मी, वीडियो वायरल

हरियाणा के पानीपत से पुलिसकर्मियों का ड्यूटी के दौरान ताश खेलने का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि हरियाणा पुलिस के ASI जयपाल और हवलदार संदीप वर्दी में लोगों के साथ ताश खेल रहे हैं।

20 मार्च 2018

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree