ऑनर किलिंग: भाई बोला, जबरदस्ती सुसाइड नोट लिखवाकर जहर पिलाकर की थी किरण की हत्या

अमर उजाला ब्यूरो/हिसार Updated Fri, 17 Feb 2017 12:52 AM IST
Honour killing hisar,  Hisar
demo pic - फोटो : अमर उजाला
जुगलान गांव की किरण से पहले उसके भाई अशोक कुमार ने जबरदस्ती सुसाइड नोट लिखवाया था। फिर उसने जहर पिलाकर उसकी हत्या कर दी थी और शनिवार सुबह गुप-चुप तरीके से श्मशानघाट में अंतिम संस्कार कर दिया था। उसने इसलिए सुसाइड नोट लिखवाया था कि वह न फंसे। यह खुलासा जुगलान गांव के अशोक कुमार ने पूछताछ में किया है।
सदर थाना पुलिस ने बुधवार रात को आरोपी अशोक को गिरफ्तार किया था। अशोक ने पूछताछ में बताया है कि वारदात वाले दिन शुक्रवार रात को किरण ने अशोक से रोहताश के पास जाने की बात कही थी। यह बात सुनकर अशोक ने किरण को रोहताश को दूसरी बिरादरी का और आर्थिक तौर पर कमजोर बताते हुए उसे भूल जाने की बात कही थी। उसने कहा था कि ऐसा हुआ तो लोग उनके कुनबे के बच्चों के रिश्ते करने से भी कतराएंगे और समाज में हमारी नाक कट जाएगी। इतना कहकर अशोक ने जहरीले पदार्थ भरा गिलास किरण की ओर बढ़ाते हुए कहा था कि या तो इसे तू पी ले या मैं पी लेता हूं। किरण के मना करने पर उसने बहन की गर्दन पकड़कर उसे गिलास से जबरदस्ती जहरीला पदार्थ पिला दिया था। कुछ देर बाद उसे उल्टी लगनी शुरू हुई और उसने दम तोड़ दिया था। उसने शनिवार सुबह हार्ट अटैक से किरण की मौत होने की खबर फैलाकर परिजनों को विश्वास में लेकर दाह संस्कार करा दिया था।

अकेले मर्डर करने की बात नहीं उतर रही गले
पुलिस पूछताछ में जुगलान के अशोक कुमार ने बताया कि उसने अकेले ने वारदात को अंजाम दिया, लेकिन यह बात पुलिस के गले नहीं उतर रही है। पुलिस मामले की जड़ तक जाने के लिए उससे गहराई से बातचीत कर रही है।

दो दिन के रिमांड पर भेजा
सदर थाना प्रभारी प्रहलाद सिंह की टीम ने हत्या आरोपी अशोक कुमार को वीरवार को कोर्ट में पेश किया और उसका तीन दिन का रिमांड मांगा। पुलिस का कहना था कि आरोपी की निशानदेही पर उसका मोबाइल फोन और किरण से जबरदस्ती लिखवाया हुआ सुसाइड नोट बरामद करना है। अदालत ने पुलिस की दलील सुनने के बाद आरोपी का दो दिन का रिमांड मंजूर कर लिया।

यह है मामला
सीसवाल गांव के रोहताश सैनी ने मंगलवार को रेलवे स्टेशन के पास एक संस्था के ऑफिस में मीडिया कर्मियों के सामने कहा था कि उसने और जुगलान निवासी एसआई सुरेश कुमार की बेटी किरण ने 8 अगस्त 2015 को इंटरकास्ट मैरिज की थी। उन्होंने मैरिज को छुपाए रखा और वे अपने-अपने घर रह रहे थे। उसने कहा था कि 22 जनवरी को किरण के भाई अशोक ने फोन कर उसके अपहरण की धमकी दी थी। रोहताश ने कहा था कि उसे पता चला है कि परिजनों ने शुक्रवार रात किरण की हत्या कर दी और गुप-चुप तरीके से शव जला दिया। सदर थाना पुलिस ने अशोक व अन्य के खिलाफ हत्या और शव खुर्द-बुर्द करने का केस दर्ज किया था। पुलिस ने अगले दिन श्मशानघाट जाकर राख और हड्डियां कब्जे में ले ली थीं।

Spotlight

Most Read

Meerut

हसनपुर से गायब किशोरी का कोई सुराग नही

हसनपुर से गायब किशोरी का कोई सुराग नही

23 फरवरी 2018

Related Videos

हरियाणा के फतेहाबाद में चोरों का आतंक, 20 लाख के मोबाइल चुराए

हरियाणा के फतेहाबाद में चोरों का आतंक देखने को मिला। यहां चोरों ने मोबाइल शोरूम से 20 लाख के मोबाइल उड़ा लिए। मामला बुधवार की है, देखिए ये रिपोर्ट।

15 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen