Hindi News ›   Haryana ›   Bhiwani ›   Argument broke out at hotel while having food, three friends were crushed by Ascent car, one died

खाना खाने के दौरान होटल पर हुई कहासुनी, तीन दोस्तों को गाड़ी से कुचला, एक की मौत

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Sat, 21 May 2022 11:54 PM IST
नागरिक अस्पताल में विलाप करते मृतक सतेंद्र के पिता कपूर सिंह व अन्य परिजन।
नागरिक अस्पताल में विलाप करते मृतक सतेंद्र के पिता कपूर सिंह व अन्य परिजन। - फोटो : Bhiwani
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भिवानी। दादरी रोड पर कितलाना टोल प्लाजा के समीप एक होटल पर शुक्रवार देर रात करीब 12 बजे खाना खाने के दौरान हुई कहासुनी में एक युवक को गाड़ी से कुचलकर मार डाला, जबकि उसके दो दोस्तों को भी गाड़ी से कुचलकर मौत के घाट उतारने का प्रयास किया गया। गंभीर रूप से घायल हुए दोनों युवकों को इलाज के लिए नागरिक अस्पताल लाया गया। वहीं सदर पुलिस ने शव कब्जे में लेकर शनिवार को नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। वहीं घायलों के बयान दर्ज कर पुलिस ने चार युवकों के खिलाफ हत्या के प्रयास व हत्या का केस दर्ज किया है।

भिवानी जिले के गांव घुसकानी निवासी 32 वर्षीय सत्येंद्र टाटा 407 में भिवानी मंडी से सब्जी व फल लेकर पंजाब व हिमाचल लेकर जाता था। शुक्रवार देर रात को सत्येंद्र अपने दोस्त प्रमोद को उसके घर छोड़ने गांव कितलाना आया था। उसके साथ घुसकानी के ही संदीप और सुमित भी थे। जब वे देर रात करीब 12 बजे कितलाना टोल प्लाजा के पास पहुंचे तो वहां पर उपकार वैभव होटल पर खाना खाने के लिए रुक गए। जब वे खाना खा रहे थे तो इसी दौरान होटल पर बैठे चार युवकों मिताथल वासी अजय व प्रदीप, डोहकी निवासी हरदीप और चांग वासी प्रीत के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। आरोपियों ने सत्येंद्र और उसके तीनों साथियों पर लाठी डंडों व तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। इसके बाद आरोपियों ने अपनी एसेंट गाड़ी से सत्येंद्र, संदीप और सुमित को कुचल दिया। जबकि प्रमोद अपनी जान बचाकर भाग निकला। गंभीर चोटों की वजह से सत्येंद्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि संदीप और सुमित को गंभीर हालत में होटल संचालक कारिंदों की सहायता से भिवानी के नागरिक अस्पताल लेकर पहुंचा। वहीं वारदात की जानकारी सत्येंद्र के परिजनों को दी गई। देर रात करीब डेढ़ बजे सत्येंद्र के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए। जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद सत्येंद्र को मृत घोषित कर दिया। वहीं दोनों घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

माता-पिता का इकलौता बेटा था सत्येंद्र
गांव घुसकानी निवासी कपूर सिंह ने बताया कि सत्येंद्र उनका इकलौता बेटा था। सत्येंद्र के दो बच्चे हैं। उसकी बड़ी बेटी 14 वर्षीय नेहा आठवीं में पढ़ती है, जबकि छोटा बेटा आठ साल का संजीत तीसरी कक्षा में पढ़ाई कर रहा है। सत्येंद्र की मां प्रेम देवी भी इकलौते बेटे की मौत की खबर लगते ही बेसुध हो गई। वहीं पत्नी सुमन भी पति की मौत से गहरे सदमे में है। सत्येंद्र अपनी टाटा 407 गाड़ी से मंडी से सब्जी लेकर पंजाब व हिमाचल में सप्लाई करता था। उसके पिता कपूर सिंह भी गांव में ही खेती बाड़ी करते हैं।
होटल पर खाना-खाने के दौरान मामूली कहासुनी के बाद गाली-गलौच हुआ था। जिसके बाद चार आरोपी युवकों ने एसेंट गाड़ी से कुचलकर सत्येंद्र की हत्या कर दी। वहीं दो युवक गंभीर रूप से घायल हैं। पुलिस की टीमें चारों आरोपियों की तलाश में जुटी हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। फिलहाल पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ हत्या व हत्या प्रयास का केस दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है।
-पवन कुमार, एसएचओ सदर पुलिस थाना भिवानी।

सतेंद्र के परिजनों के बयान दर्ज करती सदर थाना पुलिस।

सतेंद्र के परिजनों के बयान दर्ज करती सदर थाना पुलिस।- फोटो : Bhiwani

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00