विज्ञापन

'बेरहमी से पटककर मारी गई थी नवजात बच्ची, पुलिस चाहे तो चंद घंटे में कर सकती है घटना से पर्दाफाश'

डिजिटल न्यूज डेस्क, गोरखपुर। Updated Fri, 21 Feb 2020 11:10 AM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर। - फोटो : अमर उजाला।
ख़बर सुनें

सार

  • डीआईजी, एसएसपी की सख्ती के बाद भी पुलिस को नहीं याद आया अपना काम
  • गांव में जाकर दो थानेदारों ने कइयों के नाम-नंबर नोट किए
  • पीड़िता को तलाशने की कोशिश नहीं

विस्तार

पीपीगंज इलाके में किशोरी से दुष्कर्म, उसे गर्भवती बनाने और फिर नवजात की हत्या जैसे जघन्य अपराध के मामले में पुलिस की सुस्ती बृहस्पतिवार को बस इतनी टूटी कि पीपीगंज, कैंपियरगंज थानेदार बृहस्पतिवार को गांव पहुंचे, पूछताछ की औपचारिकता की और लौट आए। पीड़िता कहां है, किस हाल में है, यह जानने की जहमत अब भी पुलिस ने नहीं उठाई।
विज्ञापन
दरअसल इस जघन्य मामले के वैज्ञानिक अनुसंधान में पुलिस दिलचस्पी ले तो कुल एक दिन में दूध का दूध, पानी का पानी होना मुमकिन है, मगर इसके लिए जो संवेदना चाहिए, वह किसी प्रभावशाली के दबाव में मर-सी गई है। जानकारी के मुताबिक छह फरवरी 2020 को पीपीगंज थानेदार की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या और पैदाइश छिपाने की धाराओं में केस दर्ज किया गया था। क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि कुछ प्रभावशाली लोगों के दबाव में काम कर रही पुलिस मामले में पहले दिन से ही लापरवाह बनी हुई है।

इस गंभीर मामले का संज्ञान लेते हुए डीआईजी राजेश डी मोदक ने पूरे प्रकरण में कार्रवाई को लेकर एसएसपी को निर्देशित किया था। उधर, एसएसपी के आदेश पर बुधवार को गई पुलिस ने खानापूरी ही की थी। इसकी जानकारी होने पर एसएसपी डॉ. सुनील कुमार गुप्ता ने बृहस्पतिवार को कड़ी नाराजगी जताई। इससे हरकत में आई पीपीगंज और कैंपियरगंज थाने की पुलिस ने कुछ तेजी दिखाई। पहली बार गांव में पुलिस के अंदाज में दोनों थानेदार पहुंचे और जांच को आगे बढ़ाने के लिए लोगों से बातचीत की, उनके टेलीफोन नंबर आदि नोट किए।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

अमर उजाला ने की पड़ताल

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us