अगर रिया चक्रवर्ती निर्दोष हैं तो सामने आकर जांच में सहयोग करें : बिहार पुलिस

न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, पटना Updated Sun, 02 Aug 2020 10:48 AM IST
विज्ञापन
सुशांत सिंह राजपत, रिया चक्रवर्ती
सुशांत सिंह राजपत, रिया चक्रवर्ती - फोटो : Social Media

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

सुशांत सिंह राजपूत का मामला अब तूल पकड़ रहा है, अब तक बॉलीवुड के सितारे जांच की मांग कर रहे थे लेकिन अब राजनेता इसकी सीबीआई जांच के पक्ष में उतर रहे हैं। इधर बिहार पुलिस की एक टीम मुंबई में मामले की जांच कर रही है। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुंबई पुलिस इस मामले में सहयोग नहीं कर रही है। उन्होंने न तो पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट हमें सौंपी, न सीसीटीवी फुटेज और न ही कोई सूचनाएं, जो अब तक जांच के दौरान सामने आईं। उन्होंने कहा कि रिया चक्रवर्ती को सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच में सामने आना चाहिए, अगर उनके पास छुपाने के लिए कुछ भी नहीं है।

विज्ञापन


सुशांत के पिता की ओर से दर्ज की गई शिकायत के बाद चार लोगों की बिहार पुलिस की टीम मुंबई में इस मामले की जांच कर रही है। सुशांत के पिता ने बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ कुल दस धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया है, जिसमें आत्महत्या के लिए उकसाना, धोखाधड़ी और चीटिंग करना शामिल है।
बिहार पुलिस की ये टीम 27 जुलाई को मुंबई पहुंच गई थी। बिहार पुलिस के डीजी गुप्तेश्वर पांडे ने एक टीवी इंटरव्यू में कहा कि रिया चक्रवर्ती को जांच में सहयोग देना चाहिए और सामने आने का साहस रखना चाहिए। बिहार पुलिस की डीजीपी ने कहा कि रिया ने सीबीआई की जांच की मांग की थी, हमें नहीं पता कि वो क्यों मुंबई और बिहार पुलिस को जांच करने देना चाहती हैं। 

पांडे ने कहा कि अगर रिया चक्रवर्ती निर्दोष हैं तो उन्हें सामने आकर कहना चाहिए कि किसी भी इस मामले की जांच किसी भी एजेंसी से कराएं। उन्होंने कहा कि रिया क्यों लुक्का-छुप्पी का खेल खेल रही हैं। पांडे ने कहा कि वो किसी पर आरोप नहीं लगा रहे हैं और ये मामला महाराष्ट्र और बिहार पुलिस के बीच युद्ध में नहीं बदलना चाहिए।

गुप्तेश्वर पांडे का मानना है कि देश की जनता को लगता है कि सुशांत काफी उत्साहित, फुर्तीले और सफल व्यक्ति थे, वो ऐसे खुदकुशी नहीं कर सकते। जनता जानना चाहती है कि अगर इस मामले के पीछे कोई रहस्य है तो वो सामने आना चाहिए। इस रहस्य को सुलझाना और सच का सामने आना जरूरी है।

बिहार पुलिस के डीजीिपी ने बताया कि बिहार पुलिस ने रिया चक्रवर्ती से पूछताछ करने के लिए हर माध्यम का इस्तेमाल कर रही है। हम कह रहे हैं कि जांच के लिए सामने आएं और अगर आपके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला तो आपको गिरफ्तार नहीं किया जाएगा लेकिन जिस दिन हमें सबूत मिल जाएगा, हम किसी भी प्रोड्यूसर, डायरेक्टर या करोड़पति शख्स या कारोबारी को नहीं छोड़ेंगे।

पुलिस होने के नाते ये हमारा कर्तव्य है कि हम जनता को बताएं कि सच क्या है और इस मामले में कोई भी रहस्य ना रहे। बिहार पुलिस और मुंबई पुलिस दोनों के ऊपर ये जिम्मेदारी है कि सच का पता लगाया जाए।  डीजीपी पांडे ने कहा कि बिहार पुलिस को फॉरेंसिक रिपोर्ट, इंक्वेस्ट रिपोर्ट, पोस्टमार्टम रिपोर्ट और संबंधित सीसीटीवी फुटेज चाहिए।

मुंबई पुलिस की ओर से की गई जांच की भी रिपोर्ट चाहिए और जिन लोगों से मुंबई पुलिस ने पूछताछ की है, उनकी रिपोर्ट भी चाहिए। पांडे ने कहा कि बिहार की जनता ये जानना चाहती है कि आखिर इस मामले में इतना रहस्य क्यों है। उन्होंने कहा कि अभी सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है, बिहार पुलिस केस सुलझाने में सक्षम है।

बिहार पुलिस की टीम जो मुंबई में है, उसका साथ देने के लिए एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी को भेजा जाएगा। इसके अलावा रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह मामले को मुंबई में ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। उच्चतम न्यायालय पांच अगस्त को इस पर सुनवाई करेगा। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Entertainment news in Hindi related to bollywood, television, hollywood, movie reviews, etc. Stay updated with us for all breaking news from Entertainment and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us